याचिका खारिज:पत्नी का एक्सीडेंट डेथ क्लेम लेने के लिए बेटों के खिलाफ दी गई याचिका खारिज

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण ने पत्नी की एक्सीडेंटल डेथ का क्लेम लेने के लिए बेटों व नेशनल इंश्योरेंस बीमा कंपनी के खिलाफ दायर 71 लाख रुपए की क्लेम याचिका खारिज कर दी। अधिकरण ने कहा कि मामले में चालक की लापरवाही व तेजगति से एक्सीडेंट होना साबित नहीं हो पाया है। पुलिस ने भी एफआर लगा दी है और एफआईआर भी देरी से दर्ज कराई है। दोनों ही अप्रार्थी मामले में प्रार्थी के बेटे है। इसलिए क्लेम लेने के लिए ही बीमित वाहन को शामिल किया है। अधिकरण ने यह आदेश चाकसू निवासी कन्हैयालाल की याचिका खारिज करते हुए दिया।

अधिवक्ता राजेन्द्र शर्मा ने बताया कि याचिका में कहा था कि मृतका मनभर देवी नगर निगम जयपुर में कर्मचारी थी। वह 23 मार्च 2012 को बेटे राजेश के साथ मोटरसाइकिल से चाकसू से सीतापुरा आ रही थी। दोपहर तीन बजे यारलीपुरा निर्माणाधीन पुलिया के पास सामने से एक अज्ञात ट्रक चालक तेज गति व लापरवाही से ट्रक चलाता आया। बचने के लिए बेटे राजेश ने मोटरसाइकिल गलत दिशा में घुमा दी और वह स्लिप होकर अज्ञात वाहन से टकरा गई। इसमें मनभर देवी के गंभीर चोटें आई और अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...