12वीं की परीक्षा में कांग्रेस से जुड़े 6 सवाल पूछे:केंद्र ने राजस्थान से मांगा जवाब, शिक्षा मंत्री बोले- केंद्र का दखल गलत है

जयपुर5 महीने पहले

राजस्थान के शिक्षा विभाग में विवाद के मामले थम नहीं रहे हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं के बाद अब राजस्थान में बोर्ड परीक्षाओं को लेकर केंद्र और राज्य सरकार आमने-सामने आ गए हैं। केंद्र सरकार ने राजस्थान के शिक्षा विभाग से 12वीं कक्षा के पेपर में पूछे गए कांग्रेस से सबंधित 6 सवालों को लेकर जवाब मांगा है। केंद्र के इस लेटर के बाद राजनीति गरमा गई है।

दरअसल, पिछले दिनों राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से आयोजित 12वीं क्लास के राजनीतिक विज्ञान के पेपर में कांग्रेस पार्टी की 6 उपलब्धियों के बारे में सवाल पूछा गया था। इसके बाद 12वीं का पेपर सोशल मीडिया पर भी जमकर वायरल हुआ। प्रदेश बीजेपी ने इस पूरे मामले में कांग्रेस पर निशाना भी साधा। अब केंद्र सरकार ने इस पूरे मामले में राजस्थान सरकार से मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर जवाब मांगा है। इस मामले पर शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने भी नाराजगी जाहिर की है।

केंद्र ने राज्य सरकार से मांगा जवाब।
केंद्र ने राज्य सरकार से मांगा जवाब।

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने राजस्थान के शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव को पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि 12वीं क्लास के राजनीतिक विज्ञान के पेपर में कांग्रेस पार्टी की 6 उपलब्धियों के बारे में पूछा गया था। क्वेश्चन पेपर की कॉपियां प्रकाशित हुई हैं। इस संबंध में राज्य सरकार की टिप्पणियां और संबंधित जानकारी विभाग को भेजी जाए।

केंद्र क्यों कर रहा दखल ?
शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने कहा कि बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन कराने वाली माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान स्वायत्तशासी संस्था है। इसमें सरकार का कोई दखल नहीं होता, लेकिन बीजेपी के नेता और केंद्र सरकार बेवजह इस पूरे मामले को तूल देने में लगे हैं। परीक्षा में पूछे गए सभी सवाल सिलेबस से ही थे, लेकिन एक नया विवाद पैदा करने के लिए केंद्र सरकार, राज्य की परीक्षाओं में दखल दे रही है, जो पूरी तरह गलत है।

सिलेबस से पूछे गए सवाल
जयपुर के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय झोटवाड़ा के राजनीति विज्ञान के स्कूल लेक्चरर अमित पुरोहित ने बताया कि पेपर में कोई भी सवाल सिलेबस से बाहर का नहीं था। NCERT की ओर से तैयार किए गए सिलेबस में जो प्वाइंट्स दिए गए हैं। उसी आधार पर पेपर तैयार किया गया था, जबकि पेपर में बहुविकल्पीय, रिक्त स्थान, अतिलघु उत्तरात्मक, लघु उत्तरात्मक, दीर्घ उत्तरीय और निबंध लिखने वाले करीब 60 से अधिक सवाल था। ऐसे में कुल 60 सवालों में से 6 सवाल कांग्रेस से जुड़े होना स्वाभाविक है।