पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निकाय चुनाव परिणाम आज:7 मंत्रियों सहित बीजेपी-कांग्रेस के 50 विधायकों की प्रतिष्ठा दांव पर

जयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बाड़ेबंदी के बीच जिताऊ पर नजर

प्रदेश में 20 जिलों के 90 निकायों में चुनाव परिणाम रविवार काे आएंगे। ऐसे में बीजेपी - कांग्रेस व अन्य दलाें की निगाहें जिताऊ प्रत्याशियों पर टिकी हुई है। अब रविवार काे परिणाम आने के बाद हारने वाले प्रत्याशी अपने घर लाैट जाएंगे और जीतने वाले ही बाड़ेबंदी वाली जगहाें पर नजर आएंगे। उधर बीजेपी - कांग्रेस ने निकाय स्तर, जिला स्तर और जयपुर कार्यालय से माॅनिटरिंग की व्यवस्थाएं की है। बीजेपी में विधायक से लेकर सांसद तक माेर्चा संभाले हुए है। कांग्रेस के 30 विधायक और बीजेपी के करीब 20 विधायकाें की प्रतिष्ठा दांव पर है।

पार्टियों को क्राॅस वाेटिंग का खतरा सबसे ज्यादा

पार्टियों को अपने ही प्रत्याशियों पर भरोसा कम है और क्राॅस वाेटिंग के खतरे भी है। इसलिए पार्टियां इस खतरे काे टालने में जुटी हुई है। नाम प्रशिक्षण शिविर का है लेकिन मकसद एकजुट रखना है। पिछले दिनों में ऐसे कई मामले सामने आए हैं जब जीतने के बाद पार्टी प्रत्याशियों ने अपनी निष्ठा बदली और लालच के चलते निकाय प्रमुख के चुनाव में दूसरी पार्टी के प्रत्याशी का साथ दिया। ऐसे में अब पार्टियां निर्दलीयों के साथ ही अपनी ही पार्टी के प्रत्याशियों को भी साधने की कवायद में जुटी है।

दाेनाें ही पार्टियाें की निर्दलीयाें पर नजर
निकाय चुनाव में निर्दलीय बड़ी संख्या में जीतकर आएंगे लिहाजा राजनीतिक दलों की नजर अपने प्रत्याशियों के साथ ही निर्दलीयों पर भी टिकी हुई है। निर्दलीय के जीतते ही पार्टियां उन्हें अपने पाले में करने की कवायद करेंगी। पिछले महीने हुए निकाय चुनावों में भी कई स्थानों पर निर्दलीयों को साथ लेकर बीजेपी और कांग्रेस ने अपने बोर्ड बनाए थे। अब एक बार फिर निर्दलीय समीकरण बना और बिगाड़ सकते हैं। करीब 400 से ज्यादा वार्ड ऐसे है जहां पर बीजेपी-कांग्रेस ने प्रत्याशी नहीं उतारे हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें