• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Priyanka Gandhi Said: I Will Get Compensation, I Will Definitely Talk To Ashok Gehlotji, A Part Of The Family Is From Bharatpur

अरुण वाल्मीकि मामले में UP से राजस्थान पहुंची सियासत:प्रियंका गांधी बोलीं- मुआवजा दिलवाऊंगी, गहलोत जी से बात करूंगी, परिवार का एक हिस्सा भरतपुर से है

जयपुरएक वर्ष पहले
प्रियंका गांधी और अशोक गहलोत (फाइल फोटो)

यूपी के आगरा में सफाईकर्मी अरुण वाल्मीकि की पुलिस कस्टडी में हुई मौत के मामले में अब सियासत राजस्थान तक पहुंच गई है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ​अरुण वाल्मीकि के कुछ परिजनों को भरतपुर से उठाकर आगरा के थाने में बंद करके प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। प्रियंका गांधी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बात करेंगी। प्रियंका गांधी ने आगरा में देर रात अरुण वाल्मीकि के परिवार से मिलने के बाद इसके राजस्थान कनेक्शन की बात कही है।

लखीमपुर खीरी की तर्ज पर राजस्थान सरकार और पंजाब सरकार से मुआवजा दिलवाने के सवाल पर प्रियंका गांधी ने कहा- मैं मुआवजा दिलवाउंगी, मैं अशोक गहलोत जी से जरूर बात करूंगी, क्योंकि एक हिस्सा परिवार का भरतपुर से है। भरतपुर जाकर उठाया गया है, यहां के आगरा के थाने में डाला गया है। यहां कोई नियम कायदा नहीं है। पीड़ित परिवार ने मुझसे कहा कि हमें 10 लाख पकड़ाकर सोचते हैं ​कि हम चुप हो जाएंगे?

आगरा के सफाईकर्मी अरुण वाल्मीकि की पुलिस थाने में मौत के बाद यूपी की सियासत गरमाई हुई है। कल रात प्रियंका गांधी ने मृतक सफाईकर्मी के परिवार से मिलकर उनकी बात सुनी और संवेदना जताई। प्रियंका गांधी ने अरुण वाल्मीकि की दो बेटियों की शादी का खर्चा उठाने और कानूनी मदद की घोषणा की। अरुण वाल्मीकि के भरतपुर में रहने वाले परिजनों के यूपी पुलिस से प्रताड़ित करने के मामले में और पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलवाने के लिए प्रियंका गांधी अब अशोक गहलोत से बात करेंगी।

पिछले शनिवार को ही दिल्ली में सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद राहुल गांधी के आवास पर हुई अहम बैठक में प्रियंका गांधी भी मौजूद थीं। उनकी मौजूदगी में ही गहलोत से राजस्थान के मुद्दों पर बातचीत हुई थी। अब अरुण वाल्मीकि प्रकरण में गहलोत से पीड़ित परिवार की सहायता के लिए कहा जा सकता है। प्रियंका गांधी गहलोत से पीड़ित परिवार के भरतपुर में रह रहे सदस्यों की मदद करने के अलावा अरुण वाल्मीकि के परिवार की सहायता करने के लिए भी कहेंगी। प्रियंका गांधी से बात होने के बाद गहलोत इस पर फैसला ले सकते हैं। प्रियंका गांधी ने इससे पहले भी एक बार पुलिस से जुड़े मामले एक पीड़िता की सहायता के लिए गहलोत से कहा था, उस वक्त भी तत्काल एक्शन हुआ था।

प्रियंका मृतक सफाईकर्मी के परिवार से मिलीं:बोलीं- यूपी में न्याय का कोई नामोनिशान नहीं, लॉ एंड ऑर्डर हाथ से बाहर

खबरें और भी हैं...