पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Pro Vasundhara BJP Leaders On The Streets Against Dalit And Women's Atrocities; March Taken Out From Headquarters To Civil Lines Gate

भाजपा के प्रदर्शन में पुलिस से धक्का-मुक्की:दलित और महिला अत्याचार के खिलाफ नेता सड़कों पर उतरे, मुख्यालय से सिविल लाइन्स फाटक तक निकाला मार्च

जयपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदर्शन के दौरान सिविल लाईन्स फाटक पर जाने से रोकने पर भाजपा कार्यकर्ता और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की हुई। - Dainik Bhaskar
प्रदर्शन के दौरान सिविल लाईन्स फाटक पर जाने से रोकने पर भाजपा कार्यकर्ता और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की हुई।

भाजपा में चल रही गुटबाजी के बीच आज लम्बे समय बाद एकजुटता नजर आई। प्रदेश में बढ़ते अपराध और बिगड़ती कानून व्यवस्था के विरोध में आज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जयपुर में प्रदर्शन किया तो इसमें बड़ी संख्या में वसुंधरा समर्थित विधायक और विधायक प्रत्याशी सड़कों पर नजर आए। भाजपा मुख्यालय से सिविल लाइन्स फाटक तक निकाले गए पैदल मार्च में विधायक अशोक लाहोटी के अलावा पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरूण चतुर्वेदी, अशोक परनामी, पूर्व कैबिनेट मंत्री राजपाल सिंह शेखावत, पूर्व विधायक सुरेन्द्र पारीक, कार्यवाहक मेयर शील धाबाई सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल हुए।

प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए लगाए गए बैरिकेट्स को गिराते कार्यकर्ता।
प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए लगाए गए बैरिकेट्स को गिराते कार्यकर्ता।

बेरिकेट्स गिराए और पुलिस से धक्का-मुक्की

प्रदर्शनकारी जैसे ही राजमहल चौराहे पर जैसे ही पहुंचे वहां कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए लगाए बेरिकेट्स को बीजेपी कार्यकर्ताओं ने गिरा दिया। इस बात पर पुलिस और कार्यकर्ताओं में बहस हो गई। हालांकि बीजेपी के कुछ पदाधिकारियों ने हंगामा कर रहे कार्यकर्ताओं को समझाया और फिर आगे बढ़े। हालांकि जैसे ही सिविल लाईन्स फाटक के पास पहुंचे तो पुलिस ने कार्यकर्ताओं को रोकने का प्रयास किया तो धक्का-मुक्की हो गई।

भाजपा मुख्यालय से निकलता पैदल मार्च।
भाजपा मुख्यालय से निकलता पैदल मार्च।

सेल्फी ली और वापस लौटे

सिविल लाईन्स फाटक पर पहुंचने तक कार्यकर्ताओं का जोश बना रहा और पुलिस के साथ जमकर जोर आजमाइश हुई। हालांकि 10-15 मिनट तक नारेबाजी के बाद गर्मी और उमस के कारण सभी का जोश ठण्डा पड़ गया और वापस लौट आए। लौटते समय अलग-अलग क्षेत्रों से आए कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने ग्रुप के लोगों के साथ फोटो सेल्फी ली और वापस घरों की तरफ निकल लिए।

सिविल लाईन्स फाटक पर प्रदर्शनकारियों को रोकती पुलिस फोर्स।
सिविल लाईन्स फाटक पर प्रदर्शनकारियों को रोकती पुलिस फोर्स।

भीड़ में ज्यादातर कार्यकर्ता बिना मास्क लगाए पहुंचे

जपा के प्रदर्शन में इस बार उम्मीद के मुताबिक भीड़ पहुंची, लेकिन भीड़ ज्यादा होने की वजह से कोरोना गाइडलाइन की पालना नहीं हो पाई। कई कार्यकर्ता बिना मास्क के नजर आए तो वही भीड़ ज्यादा होने की वजह से सोशल डिस्टेंसिंग की पालना भी नहीं हो पाई।

प्रदर्शन से वापस लौटने के बाद ग्रुप संग सेल्फी लेते हुए।
प्रदर्शन से वापस लौटने के बाद ग्रुप संग सेल्फी लेते हुए।
राजमहल चौराहे से सिविल लाईन्स फाटक की ओर बढ़ते कार्यकर्ता।
राजमहल चौराहे से सिविल लाईन्स फाटक की ओर बढ़ते कार्यकर्ता।
खबरें और भी हैं...