पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इसलिए टूट रहीं सड़कें:पीडब्ल्यूडी अफसरों ने 1 साल में ‘अवैध’ कंपनियों से खरीदा 300 करोड़ का डामर

जयपुर9 दिन पहलेलेखक: नरेश वशिष्ठ
  • कॉपी लिंक
  • हर साल 2 लाख टन की खरीद अनाधिकृत कंपनियों से हो रही है

पीडब्ल्यूडी में बड़े पैमाने पर डामर खरीद में भ्रष्टाचार का खुलासा हुआ है। जोधपुर और कोटा सब डिवीजन में अफसरों ने ठेकेदारों से मिलीभगत कर 300 करोड़ का डामर एेसी कंपनियों से खरीद लिया जो अधिकृत ही नहीं हैं। कोटा-जोधपुर के अलावा जालोर, सिरोही, बाडमेर, झालावाड़ में भी गलत तरीके से खरीद हो रही है।

पीडब्ल्यूडी ने डामर की क्वालिटी की जांच के बाद हिंदुस्तान पेट्रोलियम, भारत पेट्रोलियम, इंडियन ऑयल और प्राइवेट कंपनी प्रोडक्ट्स को डामर खरीद के लिए अधिकृत कर रखा है। डामर सप्लाई करने वाली कंपनियों का पूरा रिकार्ड, लैब रिपोर्ट, बिल और गाड़ी नंबर सहित का पूरा विवरण संबंधित अफसरों को भेजा जाता है। हैरानी की बात यह कि किसी भी अफसर ने ठेकेदारों से इसे लेकर सवाल-जवाब करने की जहमत नहीं उठाई है।

20 लाख का भुगतान कर दिया पर न किसी ने रोका न टोका
कोटा-जोधपुर विंग के अफसरों ने कोटक एस्फाल्ट लिमिटेड और न्यू होरिजन्स एस्फाल्ट प्राइवेट लिमिटेड से डामर खरीदा। दोनों कंपनियों को विभाग ने अधिकृत ही नहीं कर रखा। दोनों कंपनियों को 20 लाख भुगतान भी कर दिया गया। इसमें कोटक का 8 लाख 67 हजार रुपए तो न्यू हॉरिजन का 11 लाख 11 हजार का भुगतान किया गया है। कोटक ने 22 जनवरी 2021 को तो न्यू हॉरिजन ने 2 फरवरी 2021 को बिल जारी किया है।

हर साल 2 लाख टन गलत खरीद
प्रदेश में हर साल 10 लाख टन डामर खरीदी जाती है। अनाधिकृत कंपनियों से हर साल करीब 2 लाख टन डामर खरीदी का घपला स्टेट हाईवेज की बन रही सड़कों में हो रहा है।

दोनों कंपनियां अधिकृत नहीं हैं
जांच में आया है दोनों कंपनियां ही डामर सप्लाई के लिए अधिकृत नहीं हैं। न्यू हॉरिजन कंपनी सूची में नहीं है। कोटक एस्फाल्ट कंपनी पहले सूची में शामिल थी, लेकिन वेलिडिटी खत्म हो गई है।
-संजीव माथुर, चीफ इंजीनियर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें