राजस्थान में वैक्सीनेशन ने स्पीड पकड़ी:सितंबर में रोज लग रही 4 लाख से अधिक डोज, अगस्त की तुलना में 11% ज्यादा टीकाकरण, केंद्र ने कोटा भी बढ़ाकर 96 लाख किया

जयपुर8 महीने पहले

वैक्सीनेशन को लेकर अच्छी खबर है। वैक्सीन की पर्याप्त डोज मिलने के कारण अब राजस्थान में वैक्सीनेशन ने रफ्तार पकड़ी है। सितम्बर के 15 दिन में अब तक हर रोज औसतन 4.35 लाख डोज लग रही है। इससे पहले अगस्त में यह आंकड़ा 4 लाख से भी कम यानी 3.92 लाख डोज प्रतिदिन था। यानी अगस्त की तुलना में सितम्बर में वैक्सीनेशन की स्पीड 11% बढ़ी है। रफ्तार को देखते हुए केंद्र सरकार ने वैक्सीन का कोटा भी बढ़ा दिया है। अक्टूबर तक पहली डोज सभी को लगा देने का लक्ष्य रखा गया है। उधर, टीकाकरण के मामले में राजस्थान पांचवें पायदान पर है।पहले नंबर पर यूपी, दूसरे पर महाराष्ट्र, तीसरे पर गुजरात, चौथे नंबर पर मध्य प्रदेश है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार, सितम्बर में राज्य को केन्द्र सरकार से 96 लाख डोज मिलनी है। इसमें से 71% डोज तो शुरुआती 15 दिन में आ चुकी है। राज्य को अब तक आवंटित कोटे में से 68 लाख डोज मिल चुकी है। जिस स्पीड से वैक्सीन की खेप आ रही है, उसे देखकर लगता है कि इस बार 1.25 करोड़ से ज्यादा डोज मिल सकती है। अगस्त में भी आवंटित कोटे (56 लाख) की तुलना में दोगुनी वैक्सीन की डोज मिली थी। उसके पीछे कारण वैक्सीनेशन की स्पीड को बढ़ाना था।

तेज हुआ वैक्सीनेशन
राज्य में सितम्बर में वैक्सीनेशन तेज हुआ है। पिछले 15 दिन के अंदर राजस्थान में कुल 65 लाख 32 हजार से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। यानी हर रोज औसतन 4.35 लाख लोगों को डोज लग रही है। इसमें 65% वैक्सीन फर्स्ट डोज के रूप में लगी है। 35% डोज सेकेंड डोज वालों को लगी है। अगस्त की स्थिति देखें तो यहां पूरे महीने में करीब 1.21 करोड़ डोज लगाई गई थी।

जयपुर पहुंची वैक्सीन की खेप।
जयपुर पहुंची वैक्सीन की खेप।

5.15 करोड़ लोगों को लगी है वैक्सीन
केन्द्र सरकार की तरफ से राज्य 5 करोड़ 14 लाख 95,402 लोगों को चिह्नित (टारगेट ग्रुप) किया है। ये 18 या उससे ज्यादा एज ग्रुप में आते हैं। इन लोगों को वैक्सीनेट करने का लक्ष्य रखा है। इनमें से अब तक राज्य में कुल 3.80 करोड़ लोगों को वैक्सीन की कम से कम एक डोज लग चुकी है। इन 3.80 करोड़ लोगों में से 1.31 करोड़ से ज्यादा ऐसे लोग हैं, जिनका वैक्सीनेशन पूरा हो चुका है। यानी इन लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है।

खबरें और भी हैं...