7 उपजिला हॉस्पिटल अब जिला अस्पताल बने:इनमें से 4 हॉस्पिटल में बैड की कैपेसिटी बढ़ाई; 149 मेडिकल स्टॉफ के पद भी सेंशन किए

जयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
149 मेडिकल स्टाफ के अतिरिक्त पदों को भी स्वीकृत किया है। - Dainik Bhaskar
149 मेडिकल स्टाफ के अतिरिक्त पदों को भी स्वीकृत किया है।

राजस्थान के 7 जिलों के लिए मेडिकल हेल्थ सेक्टर से जुड़ी अच्छी खबर है। मेडिकल हेल्थ डिपार्टमेंट के मंत्री परसादी लाल मीणा ने इन 7 जिलों में बने उपजिला हॉस्पिटल को जिला हॉस्पिटल बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इस मंजूरी के साथ इनमें से 4 हॉस्पिटल में मौजूदा बैड की कैपेसिटी को बढ़ाया गया है। इन हॉस्पिटल में बैड कैपेसिटी बढ़ने के साथ ही यहां की स्थिति को देखते हुए 149 मेडिकल स्टाफ के अतिरिक्त पदों को भी स्वीकृत किया है।

स्वास्थ्य भवन जयपुर में आज हुई एक बैठक में मंत्री परसादी लाल ने दौसा जिले के लालसोट, अलवर के बहरोड़, राजसमंद के नाथद्वारा, नागौर के डीडवाना, चूरू के रतनगढ़, झुंझुनूं के नवलगढ़ और चित्तौड़गढ़ के निम्बाहेडा में बने उपजिला हॉस्पिटल को जिला हॉस्पिटल में क्रमोन्नत करने की स्वीकृति जारी की है। इस मंजूरी के साथ ही लालसोट, रतनगढ़ तथा निम्बोहडा के जिला हॉस्पिटल के लिए 50-50 बैड की और बहरोड़ हॉस्पिटल में 25 बैड की कैपेसिटी को बढ़ाया है। लालसोट, रतनगढ़, निम्बोहड़ा, नवलगढ़ तथा बहरोड़ जिला अस्पताल के लिए 149 अतिरिक्त पद स्वीकृत किए हैं साथ ही 3 मशीन विद मैन की सेवाएं लिए जाने की स्वीकृति भी जारी की है।

इन पदों पर दी अतिरिक्त भर्ती की स्वीकृति
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के शासन सचिव डॉ. पृथ्वी ने बताया कि इन क्रमोन्नत किए गए हॉस्पिटलों में नियमों के अनुरूप स्टॉफ लगाने के लिए 149 पदों पर अतिरिक्त भर्ती करने की सेंशन जारी की है। इसमें सीनियर स्पेशलिस्ट के 9, जूनियर स्पेशलिस्ट के 11, सीनियर मेडिकल ऑफिसर के 6, मेडिकल ऑफिसर के 15, डिप्टी कंट्रोलर के 5, नर्सिंग अधीक्षक के 2, नर्स ग्रेड फर्स्ट के 2 और ग्रेड सैकण्ड के 29, फार्मासिस्ट का 1, रेडियोग्राफर के 4, लैब टेक्निशियन के 7, ईसीजी टेक्निशियन के 5, फिजियोथेरेपिस्ट के 4, सहायक प्रशासनिक अधिकारी के 2, जूनियर एकाउंटेंट के 4, जूनियर असिस्टेंट के 5, वार्ड ब्वाय के 23 तथा सफाई कर्मचारी के 15 अतिरिक्त पद स्वीकृत किए हैं।