राजस्थान में आज और कल मानसून ब्रेक पर:फसलों में कीटनाशक और रसायन छिड़कने की सलाह; 21 अगस्त से शुरू होगी भारी बारिश

जयपुर4 महीने पहले

राजस्थान में आज और कल दो दिन के लिए मानसून का ब्रेक पर है। इस बीच मौसम और कृषि सेक्टर से जुड़े विशेषज्ञों ने किसानों को फसलों में कीटनाशक और रसायन का छिड़काव करने की सलाह दी है। क्योंकि इन दो दिन राज्य में अधिकांश जगहों पर मौसम शुष्क रहेगा और दिन में कई जगहों पर तेज धूप निकलेगी। बंगाल की खाड़ी में बने लो प्रेशर सिस्टम के असर से राज्य में 21 अगस्त से एक बार फिर भारी बारिश का दौर शुरू होगा।

जयपुर मौसम केन्द्र के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान उदयपुर, जैसलमेर, बाड़मेर में कहीं-कहीं 1 से सवा इंच तक बरसात हुई, जबकि शेष राजस्थान में मौसम शुष्क रहा। सबसे ज्यादा बरसात जैसलमेर के सम एरिया में 33MM हुई। इसके साथ जालौर के जसवंतपुरा और जोधपुर के बालेसर में 30-30, उदयपुर के कोटड़ा में 32, जयसमंद में 30, ऋषभदेव में 22, डूंगरपुर के गलियाकोट में 26, बाड़मेर के चौहटन में 27, रामसर में 22MM बरसात हुई। मौसम विशेषज्ञों की माने तो राज्य में आज और कल कहीं-कहीं छुटपुट बारिश हो सकती है, लेकिन अधिकांश हिस्सों में मौसम साफ रहेगा।

अब तक 49 फीसदी ज्यादा बरसात
राजस्थान में इस बार 18 अगस्त तक सामान्य से 49 फीसदी ज्यादा बरसात हो चुकी है। 18 जून तक औसतन 317MM बारिश होती है, लेकिन अब तक कुल 471.3MM बरसात हो चुकी है। वहीं पूरे मानसून सीजन में राज्य में औसतन 415MM बरसात, जिसकी तुलना में अब तक 13.56 फीसदी ज्यादा बरसात हो गई है।

इसलिए होगी भारी बारिश
जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी और बांग्लादेश के तट पर एक और नया गहरा कम दबाव का क्षेत्र (लो प्रेशर) सिस्टम बना है, जो डिप्रेशन में तब्दील हो गया है। ये इसके अगले 2 दिनों में उड़ीसा, झारखंड, MP, UP से होकर पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ने की संभावना है। इसके असर से पूर्वी राजस्थान के कोटा, भरतपुर संभाग के जिलों में 21 अगस्त से बारिश की गतिविधियों शुरू हो जाएगी। 22 अगस्त को कोटा, उदयपुर, जयपुर, भरतपुर और अजमेर संभाग के अधिकतर भागों में बारिश व कहीं-कहीं भारी से लेकर अति भारी बारिश होने की संभावना है।

खबरें और भी हैं...