पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Rajendra Trivedi's Supporters Descended On Congress Candidate Gayatri Devi In Sahada, Expressed Opposition In Coming To Jaipur, Loss Of Congress Due To Split Of Trivedi Family

उपचुनाव में देवर की बगावत:कांग्रेस प्रत्याशी गायत्री देवी के विरोध में उतरे राजेंद्र त्रिवेदी; समर्थकों ने जयपुर आकर किया प्रदर्शन; त्रिवेदी परिवार की फूट से कांग्रेस का नुकसान

जयपुर4 महीने पहले
  • राजेंद्र त्रिवेदी समर्थकों ने जयपुर पहुंचकर जताया विरोध, कहा- गायत्री देवी मंजूर नहीं, टिकट नहीं बदला तो कांग्रेस हारेगी

राजस्थान की तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवार घोषित होने के अगले ही दिन सहाड़ा सीट पर असंतोष खुलकर सामने आ गया। सहाड़ा से कांग्रेस उम्मीदवार दिवंगत कैलाश त्रिवेदी की पत्नी गायत्री देवी त्रिवेदी का राजेंद्र त्रिवेदी धड़े ने खुलकर विरोध शुरू कर दिया है। राजेंद्र त्रिवेदी दिवंगत कैलाश त्रिवेदी के सगे छोटे भाई और गायत्री देवी के देवर हैं। राजेंद्र त्रिवेदी सहाड़ा से टिकट के प्रमुख दावेदार थे। अब टिकट नहीं मिलने पर राजेंद्र त्रिवेदी समर्थकों ने विरोध शुरू कर दिया। सहाड़ा में देवर ने भाभी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

राजेंद्र त्रिवेदी ने अभी तक खुलकर बयान नहीं दिया है। लेकिन, रविवार को 100 से ज्यादा उनके समर्थकों ने जयपुर पहुंचकर विरोध जताया। नाराज ​त्रिवेदी समर्थक मुख्यमंत्री निवास कूच कर रहे थे लेकिन सिविल लाइंस मेंं धारा-144 होने के कारण उन्हें रोक लिया गया। बाद में पुलिस ने केवल 5 प्रतिनिधियों को मुख्यमंत्री निवास जाने की अनुमति दी। राजेंद्र त्रिवेदी समर्थकों का कहना है कि वे मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष से मिलकर टिकट बदलने की मांग करने आए हैं।

राजेंद्र त्रिवेदी समर्थकों ने कहा- सर्वे में राजेंद्र त्रिवेदी ही जिताऊ उम्मीदवार
राजेंद्र त्रिवेदी समर्थकों ने कहा कि गायत्री देवी को कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में स्वीकार नहीं किया जाएगा। जितने भी सर्वे और रायशुमारी हुई है। उसमें राजेंद्र त्रिवेदी ही जिताऊ उम्मीदवार माने गए हैं। पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट में भी इसका जिक्र है। बावजूद उन्हें टिकट नहीं दिया। सरंपच संघ सहाड़ा की अध्यक्ष रतनीदेवी मोहन तिवाड़ी की तरफ से टिकट बदलने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन भी दिया है। इसमें इलाके के सरपंचों के हस्ताक्षर हैं।

राजेंद्र त्रिवेदी के समर्थकों ने मुख्यमंत्री निवास के पास सहाड़ा से गायत्री देवी को टिकट देने का विरोध जताया।
राजेंद्र त्रिवेदी के समर्थकों ने मुख्यमंत्री निवास के पास सहाड़ा से गायत्री देवी को टिकट देने का विरोध जताया।

देवर-भाभी के झगड़े में सहाड़ा में कांग्रेस को नुकसान
राजेंद्र त्रिवेदी खेमे ने गायत्री देवी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। टिकट घोषित होते ही विरोध के सुर उठने पर कांग्रेसी खेमे में चिंता भी है। कांग्रेस के जिम्मेदार नेता त्रिवेदी परिवार की फूट को दूर कर उन्हें एक नहीं कर पाए।अब ​त्रिवेदी परिवार की फूट कांग्रेस के लिए नुकसान का कारण बन सकती है। जानकारों का मानना है कि अब राजेंद्र त्रिवेदी मान भी गए तो उनके समर्थकों को मनाना आसान नहीं होगा। ऐसे में भीतरघात से इनकार नहीं किया जा सकता।
सहाड़ा में राजेंद्र त्रिवेदी शुरू से दावेदारी कर रहे थे। राजेंद्र त्रिवेदी के नाम पर कैलाश त्रिवेदी के बेटे तैयार नहीं थे और उनके बेटों ने अपनी मां गायत्री देवी को टिकट देने पर सहमति जताई। कांग्रेस के नेता त्रिवेदी परिवार में सर्वसम्मति नहीं बनवा पाए और यहीं चूक हो गई।

कांग्रेस की फूट खुलकर आने के बाद डैमेज कंट्रोल की कवायद, भाजपा में भी है फूट
सहाड़ा में कांग्रेस की फूट खुलकर सामने आने के बाद कांग्रेस नेताओं ने डैमेज कंट्रोल की कवायद शुरू कर दी है। कांग्रेस नेता राजेंद्र त्रिवेदी समर्थकों को मनाने का दावा कर रहे हैं। उधर, सहाड़ा में भाजपा के भीतर भी अंदरखाने फूट के आसार हैं। बताया जाता है कि टिकट नहीं मिलने से नाराज भाजपा के दावेदार लादूलाल पितलिया भी अंदरखाने नाराज हैं।

सहाड़ा सरपंच संघ अध्यक्ष ने सरपंचों के दस्तखत करवाकर राजेंद्र त्रिवेदी को टिकट नहीं देने के विरोध में मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा।
सहाड़ा सरपंच संघ अध्यक्ष ने सरपंचों के दस्तखत करवाकर राजेंद्र त्रिवेदी को टिकट नहीं देने के विरोध में मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा।