पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Rajya Sabha MP From Rajasthan Bhupendra Yadav Will Become A Union Minister, Close To Amit Shah, Was The Convener Of Vasundhara Raje's Suraj Sankalp Yatra In 2013

राजस्थान से मोदी कैबिनेट में एक और कैबिनेट मंत्री:राज्यसभा सांसद भूपेंद्र यादव ने केंद्रीय कैबिनेट मंत्री की शपथ ली; श्रम-पर्यावरण मंत्रालय मिला, शाह के करीबी हैं, 2013 में वसुंधरा की सुराज संकल्प यात्रा के संयोजक रहे थे

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राष्ट्रपति भवन में कैबिनेट मंत्री पद की शपथ लेते भूपेंद्र यादव - Dainik Bhaskar
राष्ट्रपति भवन में कैबिनेट मंत्री पद की शपथ लेते भूपेंद्र यादव
  • जोधपुर के अश्विनी वैष्णव भी कैबिनेट मंत्री बने, वे उड़ीसा में सांसद हैं

राजस्थान से राज्यसभा सांसद भूपेंद्र यादव मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं, भूपेंद्र यादव को श्रम और पर्यावरण मंत्रालय दिया गया है। जोधपुर के अश्विनी वैष्णव भी कैबिनेट मंत्री बने हैं, लेकिन वे उड़ीसा में सांसद हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलवाई। मोदी कैबिनेट के विस्तार में फिलहाल राजस्थान के सांसदों में से केवल एक को ही मंत्री बनने का मौका मिला है। अजमेर से संबंध रखने वाले भूपेंद्र यादव दूसरी बार राजस्थान से राज्यसभा सांसद हैं। केंद्र में भूपेंद्र यादव के मंत्री बनने के बाद अब राजस्थान से चार मंत्री हो गए हैं। राजस्थान से अब भूपेंद्र यादव और गजेंद्र सिंह शेखावत कैबिनेट मंत्री हैं जबकि अर्जुन मेघवाल और कैलाश चौधरी राज्य मंत्री हैं।

भूपेंद्र यादव अमित शाह के नजदीकी हैं। भूपेंद्र यादव ने 2013 के विधानसभा चुनावों से पहले वसुंधरा राजे के नेतृत्व में निकाली गई सुराज संकल्प यात्रा के संयोजक थे। यादव ने ही सुराज संकल्प यात्रा का पूरा मैनेजमेंट संभाला था। अमित शाह की चुनाव मैनेजमेंट की कोर टीम का हिस्सा रहे हैं। यूपी, बिहार सहित कई राज्यों में भूपेंद्र यादव चुनाव मैनेजमेंट की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं। यूपी विधानसभा चुनावों के हिसाब से जातीय समीकरण साधने का मैसेज देने की दिशा में भी यादव को केंद्र में मंत्री बनाने के पीछे एक कारण बताया जा रहा है।

उधर, मोदी मंत्रिमंडल के बुधवार को किए गए विस्तार में जोधपुर से अश्विनी वैष्णव को केन्द्र में मंत्री बनाया गया है। पाली के मूल निवासी और जोधपुर में अपनी स्कूली शिक्षा ग्रहण करने वाले अश्विन वैष्णव आज केन्द्र में मंत्री बनाए गए है। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के पसन्दीदा आईएएस अधिकारियों में शुमार वैष्णव शुरू से ही वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पसंद थे। यहीं कारण है कि दो वर्ष पूर्व मोदी उन्हें उड़ीसा से राज्यसभा में भेजा और अब उन्हें अपनी कैबिनेट में शामिल किया।

हरियाणा मूल के यादव अजमेर में पले-पढ़े हैं
30 जून 1969 को जन्मे डॉ. भूपेंद्र यादव का अजमेर सहित राजस्थान से गहरा नाता है। हरियाणा के गुड़गांव क्षेत्र के निवासी यादव के पिता लंबे समय तक रेलवे में अजमेर में तैनात रहे, अजमेर में घर बना लिया। भूपेंद्र ने अजमेर के सम्राट पृथ्वीराज चौहान काूलेज से एलएलबी की पढ़ाई की। यादव का अजमेर के कुंदन नगर में घर है।

बीजेपी के छात्र संगठन एबीवीपी से शुरूआत, छात्र जीवन से अच्छे वक्ता रहे

राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाने वाले भूपेंद्र यादव छात्र जीवन से ही बीजेपी की विचारधारा से प्रभावित रहे । छात्र जीवन से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् से जुड़े रहे यादव की शिक्षा अजमेर में हुई। यादव शुरुआत से ही अच्छे वक्ता रहे हैंं। कॉलेज की वाद विवाद प्रतियोगिताओं में अग्रणी रहते थे। साल 2000 में उन्हें अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का महासचिव नियुक्त किया गया। 2010 में भाजपा का राष्ट्रीय सचिव नियुक्त किया गया। 2012 में वे पहली बार राजस्थान से राज्यसभा सांसद बने। 2018 में उन्हें दोबारा राज्यसभा सांसद बनाया गया।

वकालत के दौरान अरूण जेटली के संपर्क में आए, राममंदिर केस की जिम्मेदारी संभालने के बाद तेजी से बढ़ा कद
भूपेंद्र यादव वकालत के दौरान अरुण जेटली के संपर्क में आए। उसके बाद यादव का राजनीतिक सफर हुआ। जेटली ने राम मंदिर केस से संबंधित जिम्मेदारी यादव को सौंपी, इस केस में यादव ने खूब मेहनत की। राम मंदिर केस में भूमिका निभाने के बाद यादव का बीजेपी और संघ में उच्च स्तर पर संपर्क बढ़ा और फिर लगातार तरक्की करते गए। साल 2010 में वे बीजेपी राष्ट्रीय मंत्री बनाए गए, फिर 2012 में राजस्थान से राज्यसभा में भेजे गए, 2018 में राजस्थान से ही दोबारा राज्यसभा सांसद बने।

जोधपुर से अब एक और केन्द्रीय मंत्री:IIT कानपुर से पढ़े, फिर IAS बने अश्विन वैष्णव पर बरसों से थी मोदी की निगाह, आखिरकार मंत्री बना अपने साथ जोड़ा

खबरें और भी हैं...