दुष्कर्म केस में मौसेरा भाई गिरफ्तार:मौसी की 13 साल की बेटी पर गंदी नजर रखता था पड़ोस में रहने वाला युवक, दिन के वक्त बालिका को अगवा कर यूपी भागा, दुष्कर्म किया

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में 13 साल की बालिका को अगवा कर दुष्कर्म करने के मामले में जालुपूरा पुलिस ने युवक को गिरफ्तार किया है - Dainik Bhaskar
जयपुर में 13 साल की बालिका को अगवा कर दुष्कर्म करने के मामले में जालुपूरा पुलिस ने युवक को गिरफ्तार किया है

जयपुर में एक युवक की अपनी मौसी की 13 साल की बेटी पर ही नियत बिगड़ गई। रिश्ते में बालिका का मौसेरा भाई लगने वाला आरोपी चार दिन पहले मासूम बहन को ही बहला फुसलाकर जयपुर से भगाकर उत्तर प्रदेश ले गया। जहां मर्जी के खिलाफ पीड़िता से शारीरिक संबंध बनाए। बच्ची की मां ने जालुपूरा थाने में मुकदमा दर्ज करवाया। इसके बाद पुलिस टीम ने बालिका को बरामद कर आरोपी को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया।

थानाप्रभारी रामसिंह के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी रतन सिंह (25) इटावा उत्तरप्रदेश का रहने वाला है। वह शादीशुदा है और दो बच्चों का पिता है। यहां जयपुर में संसार चंद्र रोड स्थित एक कॉलोनी में परिवार के साथ किराए से रह रहा है। उसे उत्तरप्रदेश में नरोली जिले में गिरधरपुर इलाके से पकड़ा गया।

यह है पूरा मामला
13 साल की बच्ची का परिवार जालुपूरा इलाके में रहता है। पीड़िता अपने भाई बहनों में सबसे छोटी है। बचपन से आरोपी रतन सिंह को उसकी मौसी ने पाल पोस कर बड़ा किया था। उसका विवाह किया। शादी के बाद से ही वह कॉलोनी में पत्नी व बच्चों के साथ अलग रहने लगा। लेकिन मौसी के घर आना जाना बना रहा।

पीड़िता की मां का आरोप है कि पिछले कुछ समय से रतन सिंह की सबसे छोटी 13 साल की बेटी पर गलत नजर थी। इसका पता चलने पर मौसी ने रतन सिंह को टोका-टोकी भी की। लेकिन वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आया। आखिरकार, 24 जनवरी को दो बजे रतन सिंह अपनी मौसेरी बहन को अगवा कर जयपुर से भाग निकला।

बेटी को गायब देखकर मां ने उसकी तलाश शुरु की। तब रतन सिंह के भी घर से गायब होने का पता चला। इस पर जालुपूरा थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई। जिसमें रतनसिंह पर संदेह जताया। इसके बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी को तलाश कर गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ पोक्सो एक्ट, अपहरण और दुष्कर्म की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

खबरें और भी हैं...