सुरक्षित नहीं हमारी बेटियां:राजस्थान में छह महीने में दुष्कर्म की वारदातें 30% बढ़ गईं, पिछले 30 दिन में ही 561 मामले आए

जयपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
तीन साल की तुलना में दुष्कर्म के ये मामले अब तक सर्वाधिक। - Dainik Bhaskar
तीन साल की तुलना में दुष्कर्म के ये मामले अब तक सर्वाधिक।
  • पुलिस आंकड़ों के अनुसार जून में हर दिन दुष्कर्म के 19 मामले सामने आए

प्रदेश में अपराध बेलगाम हाेता जा रहा है। लाॅकडाउन में पुलिस सड़क पर रही मगर फिर भी अपराधी बेखाैफ हाेकर वारदातें करते रहे। हालात ये हैं कि जनवरी से जून तक छह माह में प्रदेश में दुष्कर्म की 30 प्रतिशत वारदातें बढ़ गई। ये ताे वे मामले है जाे पुलिस थानाें में रजिस्टर्ड हुए हैं। तीन साल की तुलना करें ताे दुष्कर्म के ये मामले अब तक सर्वाधिक है। जून में हर दिन दुष्कर्म के 19 मामले सामने आए।

जून में दुष्कर्म के 561 केस रजिस्टर्ड हुए। अपहरण के मामलाें में भी गत वर्ष की बजाय 37 प्रतिशत तक बढ़ाेतरी हुई है। छह माह में प्रदेश में रिकाॅर्ड एक लाख 521 मामले दर्ज हुए हैं। यानी की हर दिन प्रदेश में औसतन 559 मामले सामने आए। पुलिस ने जांच में 18153 मामलाें काे झूठा माना लेकिन गलत मामला दर्ज कराने वालाें के खिलाफ काेई कार्रवाई नहीं की।

जून में अपहरण-दुष्कर्म सबसे ज्यादा
इस साल जून में अपहरण और दुष्कर्म के सबसे ज्यादा मामले सामने आए। जून में दुष्कर्म के 561 मामले सामने आए। मई में 390 मामले ही सामने आए थे। ऐसे में इस माह 171 मामले ज्यादा सामने आए। अपहरण के इस माह 672 मामले सामने आए। मई माह में 433 मामले सामने आए थे। अपहरण के 239 मामले ज्यादा सामने आए। करीब 56 प्रतिशत मामले ज्यादा सामने आए।

दुष्कर्म : 3022 में से 767 में एफआर
इस साल जून माह तक छह माह में दर्ज हुए 3022 मामलाें में से पुलिस ने जांच के बाद 767 मामलाें में एफआर लगा दी। इन मामलाें काे पुलिस ने झूठा माना। साथ ही 1025 मामलाें में पुलिस ने आराेप प्रमाणित मान कर चालान पेश कर दिया। शेष 1230 मामलाें में पुलिस अभी तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है। पुलिस ने 27 प्रतिशत मामलाें काे झूठा माना है।

खबरें और भी हैं...