सबसे तेज एक्शन:दुष्कर्मी 13 घंटे में गिरफ्तार, अगले 6 घंटे में ही जज के आवास पर चालान पेश

कोटखावदा/चाकसूएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी कमलेश। - Dainik Bhaskar
आरोपी कमलेश।
  • इससे पहले सांगानेर पुलिस ने 26 घंटे में पेश किया था चालान
  • जयपुर के कोटखावदा में 9 साल की मासूम से पड़ोसी ने ही दरिंदगी की थी

जयपुर के कोटखावदा में पुलिस ने दुष्कर्म के आरोपी के खिलाफ त्वरित कार्रवाई करते हुए नई मिसाल पेश की है। पुलिस ने 9 साल की मासूम के दुष्कर्मी को न केवल साढ़े 13 घंटे के अंदर गिरफ्तार किया, बल्कि मासूम के मेडिकल समेत अन्य कागजी और सबूत जुटाने संबंधी कार्रवाई करते हुए महज 19 घंटे में ही चालान पेश कर दिया।

खास बात है कि पुलिस ने अनुसार आरोपी कमलेश मीणा (25) को गिरफ्तार करने के बाद शाम 6 बजे ही पॉक्सो कोर्ट में पेश कर चालान पेश किया। यह प्रदेश में अब तक की सबसे तेज कार्रवाई है। इससे पहले 27 अगस्त को जयपुर कमिश्नरेट पुलिस ने सांगानेर में 2 साल की मासूम से दुष्कर्म मामले में 26 घंटे में चालान पेश किया था।

1 एसीपी, थानाधिकारियों के नेतृत्व में टीम ने पेश की न्याय की मिसाल

थानाधिकारी जगदीश प्रसाद तंवर ने बताया कि 9 साल की मासूम रविवार शाम 6:30 बजे दादा के लिए बीड़ी लेने गई थी। रास्ते में पड़ोसी कमलेश उससे दुष्कर्म कर फरार हो गया। लहूलुहान बालिका ने घर पहुंचकर परिजनों को बताया। रात 10:30 बजे सूचना दी गई तो पुलिस तुरंत कार्रवाई में जुट गई। मासूम को प्राथमिक उपचार और मेडिकल के लिए पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, कोटखावदा और बाद में जयपुर भर्ती कराया गया।

इसके बाद पुलिस उपायुक्त जयपुर दक्षिण हरेंद्र महावर ने एसीपी चाकसू देवीसहाय मीणा, थानाधिकारी कोटखावदा, थानाधिकारी चाकसू हीरालाल सैनी, थानाधिकारी सांगानेर सदर हरिपाल सिंह के नेतृत्व में टीम गठित की। टीम ने सोमवार सुबह 12 बजे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। शाम 6 बजे पॉक्सो जज के घर पर ही पेश किया।

खबरें और भी हैं...