• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Recruitment Of 51,000 Teachers Will Be Increased From 31,000 In 2022, Unemployed Angry With The Decision Of The Government, Said Increase The Posts In The Old Recruitment Process

रीट पर रार, बेरोजगार अड़े:सरकार ने पद बढ़ाए, REET-2022 में 20,000 टीचर भर्ती होंगे; बेरोजगार बोले- चल रही प्रक्रिया में 50 हजार भर्तियां करें

जयपुर5 महीने पहले

राजस्थान में REET- 2022 भर्ती परीक्षा में 20 हजार शिक्षक भर्ती होंगे। CM अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई शिक्षा विभाग की बैठक में टीचर्स भर्ती के पद बढ़ाने का फैसला लिया गया है। इसके तहत प्रदेश में 14 और 15 मई को REET-2022 का आयोजन किया जाएगा। हालांकि सरकार के इस फैसले के बावजूद बेरोजगारों का विरोध जारी है। उनका कहना है की सरकार वर्तमान में चल रही रीट-2021 भर्ती प्रक्रिया में ही पदों की संख्या 31 हजार से बढ़ाकर 50 हजार करे।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारी
सीएम गहलोत ने ट्वीट करते हुए बताया की साल 2022 में 14 और 15 मई को रीट परीक्षा आयोजित करने का निर्णय किया है, जिससे प्रदेश को करीब 20,000 नए शिक्षक मिल सकेंगे। इस भर्ती में विशेष शिक्षकों हेतु भी प्रावधान किया जाएगा। युवाओं को रोजगार के नए अवसर प्राप्त होंगे। इसके साथ ही पैराटीचर्स, शिक्षाकर्मी, मदरसा पैराटीचर्स एवं पंचायत सहायकों की समस्याओं को भी माननीय उच्चतम न्यायालय के निर्णयों को ध्यान में रखते हुए हल करने के लिए समयबद्ध रूप से कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए हैं।

अपनी मांगों को लेकर कड़कड़ाती ठंड में अर्धनग्न होकर प्रदर्शन कर रहे बेरोजगार।
अपनी मांगों को लेकर कड़कड़ाती ठंड में अर्धनग्न होकर प्रदर्शन कर रहे बेरोजगार।

आंदोलन कर रहे हैं सैकड़ों युवा
दरअसल, पिछले लम्बे वक्त से प्रदेश के बेरोजगार रीट परीक्षा 2021 में 31 हजार से बढाकर 50 हजार करने की मांग कर रहे है। प्रदेशभर में पद बढ़ाए जाने के साथ ही भर्ती विज्ञप्ति जारी करने की मांग को लेकर बेरोजगार लगातार सरकार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। जिनके समर्थन में विपक्ष के साथ ही पूर्व उपमुख्यमंत्री से लेकर सरकार के MLA और सलाहकार भी मुख्यमंत्री को पद बढ़ने के लिए पत्र लिख चुके है। ऐसे में मुख्यमंत्री की यह घोषणा बेरोजगार युवाओं के आंदोलन को रोकने के साथ ही अपनों को भी खुश करने की कोशिश बताई जा रही है।

बेरोजगारों में आक्रोश
सरकार के निर्णय के बाद भी बेरोजगार 2021 में हुई रीट भर्ती परीक्षा के ही पद बढ़ाकर 50,000 करने की मांग पर अड़े हुए हैं। बेरोजगारों का कहना है कि सरकार सरकार के इस फैसले से लाखों बेरोजगारों के भविष्य के साथ खिलवाड़ होगा। क्योंकि 3 साल के लंबे अंतराल के बाद रीट भर्ती परीक्षा का आयोजन किया गया था। ऐसे में उनकी आयु सीमा खत्म हो जाएगी। वहीं लंबे समय से की गई तैयारी पर भी पानी फिर जाएगा। इसलिए सरकार पुरानी भर्ती प्रक्रिया में ही पदों की संख्या में इजाफा कर 50000 करें। लेकिन अगर सरकार ने ऐसा नहीं तो आने वाले वक्त में सरकार को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। वहीं सरकार के इस फैसले के बाद सोशल मीडिया पर एक बार पर सरकार के खिलाफ बेरोजगारों ने अभियान शुरू कर दिया है। जिसके बाद देशभर में #REET_के_पद_बढ़ाकर_50000_करो_ ट्रेंड कर रहा है।

शाम को हुई बैठक में कई निर्णय
मुख्यमंत्री निवास पर गुरुवार शाम को हुई शिक्षा विभाग की बैठक में कई निर्णय लिए गए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के बच्चों को अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए खोले जा रहे महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूलों को लेकर लोगों में अच्छा फीडबैक है। इन स्कूलों को और बेहतर बनाने के प्रयास किए जाएं। साथ ही, इसका विश्लेषण करें कि आवश्यकता के आधार पर किन-किन क्षेत्रों में और अधिक संख्या में यह स्कूल खोले जा सकते हैं। इन स्कूलों में अंग्रेजी में अध्यापन की योग्यता रखने वाले शिक्षक लगाए जाएंगे। इसके लिए भर्तियों में उचित व्यवस्था की जाएगी।

खबरें और भी हैं...