• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • REET Exam 2021 In Rajasthan, Two Fake Girl Candidate Arrested Before REET Exam, Deal For 10 Lakh Rupees To Take The Exam Instead Of The Real Candidate, Came To Jaipur From Jalore

REET में पहली बार दो युवतियां गिरफ्तार:जयपुर में असली अभ्यर्थी की जगह परीक्षा देने के लिए 10 लाख रुपए में किया सौदा, एडमिट कार्ड पर फर्जी फोटो भी चिपकाया

जयपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में सिंधी कैंप पुलिस की गिरफ्त में अनन्या चौधरी उर्फ झुम्मी और प्रमिला विश्नोई। - Dainik Bhaskar
जयपुर में सिंधी कैंप पुलिस की गिरफ्त में अनन्या चौधरी उर्फ झुम्मी और प्रमिला विश्नोई।

REET से एक दिन पहले जयपुर में पुलिस ने जालोर से परीक्षा देने आई दो युवतियों को गिरफ्तार किया है। यह पहला मामला है, जब REET में फर्जी अभ्यर्थी बनकर परीक्षा देने के मामले में युवतियां पकड़ी गई हैं। यह कार्रवाई जयपुर के पश्चिम जिले में सिंधीकैंप थाना पुलिस ने की।

डीसीपी (पश्चिम) ऋचा तोमर ने बताया कि गिरफ्तार प्रमिला विश्नोई (22) गांव सरनाउ, सांचौर, जिला जालौर की रहने वाली है। दूसरी कुमारी अनन्या चौधरी उर्फ झुम्मी (19) निवासी गांव लुणियासर तहसील सांचौर जिला जालौर की है। ये दोनों जयपुर में बनीपार्क में कांतिचंद रोड पर किसान बालिका शिक्षण संस्थान (किसान गर्ल्स हॉस्टल) में ठहरी हुई थीं। दोनों युवतियां भी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही हैं।

दो दिन पहले ही जयपुर आईं

डीसीपी ऋचा तोमर के मुताबिक, 24 सितंबर को पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना मिली थी। सूचना के अनुसार 26 सितंबर को होने वाले REET में एक अभ्यर्थी के स्थान पर दूसरी युवती फर्जी अभ्यर्थी के रूप में परीक्षा देने वाली थी। तब सिंधीकैंप थाना प्रभारी गुंजन सोनी के नेतृत्व में टीम ने कांतिचंद रोड स्थित किसान गर्ल्स हॉस्टल में शुक्रवार देर रात छापा मारा। वहां से प्रमिला विश्नोई और कुमारी अनन्या चौधरी उर्फ झुम्मी को पकड़ा। उनका एडमिट कार्ड जारी हो चुका था।

10 लाख की डिमांड
खुलासा हुआ है कि प्रमिला की जगह परीक्षा देने के लिए अनन्या उर्फ झुम्मी परीक्षा में बैठने वाली थी। पूछताछ में सामने आया कि प्रमिला विश्नोई ने परीक्षा का फॉर्म भरते समय अनन्या चौधरी उर्फ झुम्मी का फोटो चिपकाया था। इस वजह से जारी हुए एडमिशन लेटर में भी असली अभ्यर्थी प्रमिला की फोटो की जगह अनन्या उर्फ झुम्मी की फोटो ही लगी हुई आई। इसके लिए 10 लाख रुपए देना तय हुआ था। आरोपी युवतियों ने फर्जी अभ्यर्थी की फोटो लगाकर आधार कार्ड भी तैयार करवाया था। पुलिस का मानना है कि इन दोनों के पीछे कोई और गैंग शामिल है। उनका पता लगाया जा रहा है।

REET से पहले पकड़ा बड़ा नेटवर्क:पेपर लीक योजना में ट्रैफिक पुलिस कांस्टेबल भी शामिल, डमी कैंडिडेट बनने वाला था, परीक्षा से पहले 2 टीचर्स को पेपर देने वाले तलाश

REET में डमी कैंडिडेट का 15 लाख में सौदा:फोटो एडिट कर बनाया एडमिट कार्ड, 8 लाख पेपर से पहले और 6 लाख सिलेक्शन के बाद देना तय हुआ; स्कूल लेक्चरर गिरफ्तार

REET में नकल कराने की तैयारी में थे सरकारी टीचर:घरों की तलाशी में 9.50 लाख नकद मिले, चेक, क्रेडिट कार्ड, अभ्यर्थियों के एडमिट कार्ड भी बरामद, दो टीचर गिरफ्तार

खबरें और भी हैं...