• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Reet; Somewhere In The Admit Cards, The Male Is Shown As The Female, Somewhere The Photo Is Missing, There Will Be 26 Lakh Candidates In Both The Shifts.

सबसे बड़ी ‘परीक्षा’:रीट; प्रवेश पत्रों में कहीं पुरुष को महिला दर्शाया, कहीं फोटो गायब, दोनों पारियों में 26 लाख अभ्यर्थी होंगे

जयपुर8 महीने पहलेलेखक: विनोद मित्तल
  • कॉपी लिंक
सबूत हैं ये प्रवेश-पत्र; नाम- निशा, जेंडर- पुरुष और तस्वीर अशोक की - Dainik Bhaskar
सबूत हैं ये प्रवेश-पत्र; नाम- निशा, जेंडर- पुरुष और तस्वीर अशोक की

राजस्थान के लिए 26 सितंबर ‘सबसे बड़ी परीक्षा’ का दिन है। रीट की दोनों पारियों में लगभग 26 लाख अभ्यर्थी बैठने वाले हैं। हालांकि, इनमें से करीब 10 लाख अभ्यर्थी ऐसे हैं, जो दोनों पारियों में शामिल होंगे। मगर इससे पहले राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा जारी किए गए रीट के कई प्रवेश पत्रों में गलतियों की भरमार मिली है। ये गलतियां अभ्यर्थियों के लिए बहुत भारी पड़ सकती हैं।

गलतियां भी ऐसी कि किसी महिला अभ्यर्थी को प्रवेश पत्र में पुरुष दर्शा दिया गया है तो कहीं महिला के प्रवेश पत्र में पुरुष की फोटो लगा दी गई है। यही नहीं, बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों की कैटेगरी भी बदलने के मामले सामने आए हैं। ऐसे में अभ्यर्थियों के सामने बड़ी परेशानी खड़ी हो गई है कि वे इन गलतियों को कहां और कैसे सुधरवाएंं।

अभ्यर्थियों का कहना है प्रवेश पत्रों में गलतियां हैं, जबकि उन्होंने पूरी जानकारी सही भरी थी। उधर, बोर्ड ने कहा कि प्रवेश पत्र में वही जानकारी आई है जो विद्यार्थी ने भरी थी। हमने सिर्फ रोल नंबर व परीक्षा केंद्र की ही एंट्री की है। बाकी डाटा अभ्यर्थियों ने ही भरा है।

इन 5 केस से जानिए...कैसी-कैसी गड़बड़ियां की गईं

केस-1 : निशा नाम की अभ्यर्थी के प्रवेश पत्र में फोटो पुरुष का लगा है। उसके प्रवेश पत्र में पुरुष ही अंकित किया गया है। केस-2 : आरती सोलंकी के प्रवेश पत्र में उसको पुरुष दर्शाया गया है। उसे पता नहीं कि इसकी शिकायत कहां करे। केस-3 : पूजा साल्वी के प्रवेश पत्र में पूजा की स्पेलिंग गलत है। पूजा के नाम में 3 बार ‘ओ’ अंकित कर दिया गया। केस-4 : वीरता के प्रवेश पत्र में फोटो ही नहीं है। उसके फोटो की जगह वीरता ही लिखा हुआ आ रहा है। केस-5 : संदीप शर्मा के प्रवेश पत्र में उसको महिला दर्शा दिया गया। उसने लिखित में बोर्ड में इसकी शिकायत की है।

सबूत हैं ये प्रवेश-पत्र; नाम- निशा, जेंडर- पुरुष और तस्वीर अशोक की

दैनिक भास्कर बतौर सबूत दो प्रवेश-पत्र दिखा रहा है। इनमें एक में तो नाम में निशा लिखा है। जेंडर में पुरुष लिखा गया है। और तस्वीर अशोक कुमार की लगी है। इसी तरह दूसरे प्रवेश पत्र में जहां फोटो लगनी चाहिए थी, वहां नाम ही लिख दिया गया है। वहीं, अभ्यर्थी सुप्रिया ने बोर्ड में शिकायत कर कहा कि ई मित्र संचालक की गलती से मेरा जेंडर बदल गया। इसमें ओबीसी महिला के स्थान पर ओबीसी पुरुष अंकित हो गया है।

‘अभ्यर्थी तय प्रपत्र से त्रुटि सुधार करें’

यह सारी गलती ई मित्र संचालकों की है। उन्होंने फार्म भरने में गलतियां की है। बोर्ड ने ऑनलाइन आवेदन में भरे गए डाटा के आधार पर ही प्रवेश पत्र जारी किए हैं। इसमें केवल रोल नंबर और परीक्षा केंद्र की एंट्री की है। इसके अलावा कोई बदलाव नहीं किया। फिर भी अभ्यर्थी निर्धारित प्रपत्र में त्रुटि सुधार को आवेदन कर सकते हैं।
- डॉ. डीपी जारौली, अध्यक्ष, राज. मा. शिक्षा बोर्ड

नेटबंदी होगी या नहीं...फैसला कल

प्रदेश में जहां रीट के सेंटर हैं, वहां नेटबंदी होगी या नहीं, इस पर मंगलवार को फैसला होगा। ताकि पेपर लीक या बाहर से सॉल्व कराने जैसी गड़बड़ियों को रोका जा सके। अगर नेटबंदी का फैसला होता है, तो पूरे राजस्थान में ही 26 सितंंबर को पूरे दिन के लिए इंटरनेट सेवा बाधित हो सकती है। क्योंकि, दोनों पारियों में शामिल होने वाले 26 लाख अभ्यर्थियों के लिए लगभग हर जगह सेंटर बनाए गए हैं।