निगम का पट्‌टा वितरण अभियान:टिप्पणी में फंसे पट्‌टे; आवेदन आए 13 हजार से अधिक, मिले 1974 काे ही

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
2 माह में ग्रेटर व हेरिटेज निगम में 13 हजार से अधिक आवेदन आ चुके है, लेकिन पट्टे सिर्फ 1974 ही दिए गए है। - Dainik Bhaskar
2 माह में ग्रेटर व हेरिटेज निगम में 13 हजार से अधिक आवेदन आ चुके है, लेकिन पट्टे सिर्फ 1974 ही दिए गए है।

प्रशासन शहराें के संग अभियान के तहत नगर निगम पट्टे बांटने में फेल साबित हाे रहा है। गत 2 माह में ग्रेटर व हेरिटेज निगम में 13 हजार से अधिक आवेदन आ चुके है, लेकिन पट्टे सिर्फ 1974 ही दिए गए है। आमजन काे विभिन्न कार्यों के लिए सरकारी दफ्तरों में चक्कर नहीं लगाने पड़े इसके लिए सरकार ने गांधी जयंती के दिन से प्रशासन शहरों के संग अभियान शुरू किया था, लेकिन यह उद्देश्य पूरा हाेता हुआ नहीं दिख रहा है। बिना काम के ही पट्टाें की फाइलाें पर टिप्पणी कर राेकी जा रही है, लाेग राेजाना निगम मुख्यालय व जाेन कार्यालयाें के चक्कर लगा रहे है।

ग्रेटर निगम में अब तक 3334 लाेगाें ने पट्टा लेने के लिए आवेदन किया है, जिनमें से 697 ही पट्टे जारी किए गए है। वहीं हेरिटेज निगम में 1277 पट्टे ही बांट पाए है, जबकि मुख्यालय सहित चाराें जाेन में 10 हजार से अधिक लाेग पट्टों के लिए आवेदन कर चुके है। यह आलम ताे तब है जब दाेनाें निगमाें के 150 अधिकारी व कर्मचारियाें की पूरी टीम पट्टा वितरण में लगे हुए है।

इसके बावजूद आधे से ज्यादा आवेदनाें काे ताे निरस्त व पेंडिंग कर दिए, इस बारे में निगम का तर्क है कि सार्वजनिक विज्ञप्ति प्रकाशन के स्तर पर, माैका रिपाेर्ट, राशि जमा कराने के स्तर पर, डीसी, डीए, आरओ, टीडीआर व पटवारी स्तर पर दस्तावेजाें की कमी के कारण सहित अन्य वजह से यह फाइलें पेंडिंग चल रही है, जबकि आमजन काे अधिक से अधिक पट्टे जारी कर सके इसके लिए पहले ही प्री-कैंप भी लगा दिए गए थे, फिर जनता काे फायदा हाेता हुआ नहीं दिख रहा है।

ग्रेटर निगम; आवेदन के डेढ़ माह बाद भी पट्टे का इंतजार
टाेंक राेड स्थित मानसिंहपुरा निवासी महिला कृष्णा सैनी ने बताया कि काेराेना में पति की ताे माैत हाे गई। डेढ़ माह पहले पट्टे के लिए मालवीय नगर जाेन कार्यालय में आवेदन किया था, तब से चक्कर काट रही हूं, लेकिन अभी तक पट्टा जारी नहीं किया गया। अब मालवीय नगर जाेन के उपायुक्त का कहना है कि आपके घर में दुकान है, इसलिए पट्टा नहीं दे सकते, जबकि टीनशेड की छाेटी सी दुकान बनीं हुई है।

हेरिटेज निगम में बांटे पट्टे

  • हवामहल-आमेर जोन 434 पट्‌टे।
  • आदर्शनगर जोन में 361 पट्टे
  • किशनपोल जोन में 242 पट्टे
  • सिविल लाइंस जोन में 126 पट्टें
  • मुख्यालय में 114 पट्‌टे।

ग्रेटर निगम की स्थिति

पट्टाें के लिए 3334 आवेदन आए पट्टे बांटे - 697 निरस्त - 1448 लंबित - 1189

बिना काम के टिप्पणी कर फाइल रोकना गंभीर मामला
जो पट्टे के लिए आवेदन कर रहे है उन्हें पट्टे जारी किए जा रहे हैं, फिर भी अगर बिना काम के टिप्पणी कर फाइल रोकी जा रही है तो मामला गंभीर है। ऐसे प्रकरणों को मैं खुद दिखवाती हूं। -शील धाबाई, मेयर ग्रेटर

अभियान को सफल बनाने के लिए प्रयास जारी हैं
अभियान काे सफल बनाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे है। अधिकारियों काे निर्देश दिए है कि जितने आवेदन किए है उनमें से अधिक से अधिक काे पट्टे जारी किए जाएं। इसके लिए कई बार मीटिंग भी की जा चुकी है। अगर कोई चूक है तो उसे दिखवाते है, जिससे अधिक से अिधक लोगों को राहत मिल सके। -मुनेश गुर्जर, मेयर हेरिटेज

खबरें और भी हैं...