• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Resolution Of Congress, BJP And BSP State Presidents In Rajasthan; Political Programs Will Happen Because The High Command Is Watching

नहीं थम रही राजनीति:राजस्थान में कांग्रेस, भाजपा और बसपा प्रदेश अध्यक्षों का संकल्प; सियासी कार्यक्रम तो होकर रहेंगे क्योंकि हाईकमान की नजर है

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिस जनता ने मुकाम दिया, अब रोडशो, रैली और सम्मेलन में लाखों की भीड़ जुटाकर उसी की जान जोखिम में डालेंगे दल। - Dainik Bhaskar
जिस जनता ने मुकाम दिया, अब रोडशो, रैली और सम्मेलन में लाखों की भीड़ जुटाकर उसी की जान जोखिम में डालेंगे दल।

देश में काेराेना का नया वैरिएंट ओमिक्राॅन दस्तक दे चुका है। जयपुर में इसके फैलने का खतरा सिर पर है। ऐसे में कांग्रेस, भाजपा और बसपा ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है। क्योंकि, ये तीनों दल आने वाले दिनों में रैलियां और सभाएं कर लाखों की भीड़ जुटाने को आतुर हैं। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह 5 दिसंबर को आएंगे, इसमें भाजपा 50 हजार की भीड़ इकट्‌ठी करेगी। वहीं, 12 दिसंबर काे कांग्रेस एक लाख से अधिक की भीड़ जुटाएगी।

बसपा 6 दिसंबर काे बिड़ला आडिटोरियम में कार्यकर्ता सम्मेलन करेगी। उधर, 12 दिसंबर को होने वाली कांग्रेस की महंगाई हटाओ रैली के आयोजन को हाईकोर्ट में गुरुवार को याचिका दायर कर चुनौती दी गई है। इसे वकील राजेश मूथा की ओर से दायर किया गया है।

प्रदेश अध्यक्षों का तर्क- सावधानी बरतेंगे, काेविड प्राेटाेकाॅल की पालना करा दी जाएगी

काेविड प्राेटाेकाॅल ध्यान में रखते हुए रैली कराई जा रही है। इसमें मास्क वितरण, साेशल डिस्टेंसिंग आदि बिंदुओं पर काम करेंगे। हां, लेकिन रैली तो हाेगी और सावधानी के साथ हाेगी-गोविंद सिंह डाेटासरा, प्रदेश अध्यक्ष, कांग्रेस

भाजपा की रैली काेविड प्राेटाेकाॅल काे ध्यान में रखकर की जा रही है। मास्क, साेशल डिस्टेंसिंग आदि बिंदुओं की पालना सुनिश्चित करने के दिशा-निर्देश जारी हाे चुके हैं।-सतीश पूनियां, प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा

बसपा के लिए कार्यकर्ता सम्मेलन जरूरी है और इसमें काेविड प्राेटाेकाॅल की पालना करा दी जाएगी। हमारे इस सम्मेलन पर पार्टी सुप्रीमो बहन मायावतीजी तक की नजर है।-भगवान सिंह बाबा,प्रदेश अध्यक्ष, बसपा

परमिशन का पत्र नहीं मिला : जैदी
राजनीतिक दलों ने किसी रैली की मंजूरी के लिए हमें काेई पत्र नहीं दिया है। हम गृह विभाग के आदेश ही फाॅलाे कर रहे हैं। यदि कोई आयोजन होता भी है तो गाइडलाइन के अनुसार मास्क, साेशल डिस्टेंसिंग की पालना कराएंगे।-हैदर अली जैदी, एडि. पुलिस कमिश्नर, जयपुर

एक्सपर्ट

मास्क-साेशल डिस्टेंसिंग कुछ माह और रखनी हाेगी

ओमिक्राॅन खतरनाक है। राज्य में ट्रेवल हिस्ट्री पर कड़ाई, मास्क और साेशल डिस्टेंसिंग की सख्ती से पालना और काेराना की टीकाकरण की रफ्तार में तेजी लाने की जरूरत है। कार्यक्रम सियासी हाे या आमजन का, सभी में भीड़ नियंत्रण के साथ काेविड प्राेटाेकाॅल फाॅलाे कराना हाेगा।-डॉ. सुधीर भंडारी, एसएमएस मेडिकल काॅलेज प्राचार्य

खबरें और भी हैं...