• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Rohitash Sharma Said Giving Notice To A Loyal Worker Like Me Is Like Vinashkale Vipreet Buddhi, We Are The Followers Of Vasundhara Raje, If Anyone Is Irritated By Her Praise, Then We Will Continue To Do It.

वसुंधरा खेमे के नेता को BJP का नोटिस:रोहिताश शर्मा बोले- मुझ जैसे निष्ठावान कार्यकर्ता को नोटिस देना विनाशकाले विपरीत बुद्धि, हम राजे के अनुयायी हैं

जयपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वसुंधरा राजे के साथ रोहिताश शर्मा (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
वसुंधरा राजे के साथ रोहिताश शर्मा (फाइल फोटो)
  • बयानबाजी करने वाले नेताओं पर एक्शन शुरू, विवाद बढ़ना तय

प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह के दौरे के बाद अब बीजेपी में बयानबाजी करने वाले वसुंधरा राजे खेमे के नेताओं पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। वसुंधरा राजे खेमे के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री रोहिताश शर्मा को उनके बयानों के आधार पर नोटिस जारी कर 15 दिन में जवाब मांगा गया है। बीजेपी के प्रदेश महामंत्री भजनलाल शर्मा ने यह नोटिस जारी किया है। बीजेपी के नोटिस के बाद भी रोहिताश शर्मा के तेवर बरकरार हैं।

रोहिताश शर्मा को 1 जून को बीजेपी अलवर उत्तर जिला की बैठक के बाद दिए गए बयानों को आधार बनाकर नोटिस दिया है। नोटिस में रोहिताश शर्मा के उस बयान का उल्लेख है जिसमें कहा था कि राजस्थान भाजपा के नेता दफ्तरों से पार्टी चला रहे हैं। इस वक्त राजस्थान में विपक्ष का केंद्र में कांग्रेस जैसा हाल हो गया है। नोटिस में केंद्र के खिलाफ बयानबाजी पर भी स्पष्टीकरण मांगा गया है।

रोहिताश शर्मा को गुरुवार को बीजेपी ने नोटिस जारी कर 15 दिन में जवाब मांगा
रोहिताश शर्मा को गुरुवार को बीजेपी ने नोटिस जारी कर 15 दिन में जवाब मांगा

रोहिताश बोले- वसुंधरा राजे की तारीफ से चिढ़ है तो वह हम जरूर करेंगे

नोटिस मिलने के बाद भी रोहिताश शर्मा के तेवर जस के तस हैंं। रोहिताश शर्मा ने भास्कर से कहा- मेरे जैसे निष्ठावान कार्यकर्ता को नोटिस देना विनाशकाले विपरीत बुद्धि कहा जाएगा। नोटिस में मुझ पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं। बीजेपी मेरी मां है। मैं मां के खिलाफ कैसे बोल सकता हूं। नरेंद्र मोदी विश्व के नेता हैं। वसुंधरा राजे ने जो काम किए हैं उतने किसी ने नहीं किए। हम वसुंधरा राजे के अनुयायी हैं। वसुंधरा राजे के अच्छे कामों की मैंने प्रशंसा की है। अगर वसुंधरा राजे की तारीफ करने से ही किसी को चिढ़ है तो वह हम जरूर करेंगे। मेरे मन में दीनदयाल उपाध्याय बसते हैं। इनके कागजों से कोई बेटे से अपनी मां को दूर थोड़े ही कर सकता है। मुझे भैरो सिंह शेखावत बीजेपी में लाए थे।

राजे के बिना नहीं चल सकता राजस्थान

रोहतिाश शर्मा ने कहा- वसुंधरा राजे की टीम ने कोरोना काल में लोगों की मदद की है। वसुंधरा राजे के अच्छे काम इन्हें बुरे क्यों लगते हैं। किसी भी देश और पार्टी को चलाने के लिए लीडर की जरूरत होती है। आज मोदी की जगह कोई और होता तो देश का इतना नाम थोड़े होता। इसी तरह राजस्थान वसुंधरा राजे के बिना नहीं चल सकता। राजे नेता हैंं। मुझे दिए गए नोटिस को स्टे करवाने के लिए हाईकमान के पास अपील करूंगा। जरूरत हुई तो जवाब भी दूंगा।
कांग्रेस की तरह धरती पुत्रों को मारने की कोशिश
रोहिताश शर्मा ने कहा- चिढ़ने वाले वे लोग हैं, जिन्होंने धरातल पर काम नहीं किया। हमने पहले भी आवाज उठाई है कि पार्टी में धरती पुत्रों को मत मारिए। कांग्रेस ने धरती पुत्रों को मारना शुरू किया तो बेहाल हो गए। यही काम अब यहां शुरू कर रहे हैं। बीजेपी में धरती पुत्रों को जिंदा रखने की जरूरत है।

बयानबाजी वाले नेताओं पर एक्शन शुरू

बीजेपी में पिछले दिनों बयानबाजी करने वाले नेताओं को नोटिस देने की शुरुआत कर दी गई है। बयानबाजी करने वाले नेता वसुंधरा राजे खेमे के ही हैं। रोहिताश शर्मा से इसकी शुरुआत कर दी गई है। आने वाले दिनों में बयानबाजी करने वाले कई राजे समर्थक विधायकों और नेताओं को भी नोटिस दिए जाने की तैयारी है। बताया जाता है कि रोहिताश शर्मा से शुरुआत करने के पीछे भी सियासी वजह है। इसे मैसेज चेकिंग और बाकी नेताओं को नसीहत के तौर पर देखा जा रहा है। उधर, वसुंधरा राजे समर्थकों के तेवर बरकरार हैं। ऐसे में आने वाले दिनों में बीजेपी के भीतर खींचतान और बढ़ना तय माना जा रहा है।

खबरें और भी हैं...