पायलट बोले- वैभव को टिकट नहीं देना चाहता था आलाकमान:कहा- मैंने राहुल-सोनिया जी से उन्हें टिकट देने की मांग की, हम बड़े मार्जिन से लोकसभा चुनाव हारे

जयपुर5 महीने पहले
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कहा है कि आलाकमान वैभव गहलोत को लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं देना चाहता था। आलाकमान बहुत ज्यादा इसके पक्ष में नहीं था, क्योंकि जोधपुर से सिंगल नाम आया था, पिता सिटिंग चीफ मिनिस्टर थे, ऐसे में उस वक्त मैंने वैभव की पैरवी की। मैंने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से कहा कि वैभव ने मेरी कार्यकारिणी में काम किया है, एक मौका मिलना चाहिए। पहले भी कई बार टिकट नहीं दे सके थे।

पायलट ने कहा- 'मैं नहीं चाहता था कि मेरे अध्यक्ष रहते हुए अशोक जी, क्योंकि नए-नए मुख्यमंत्री बने थे, ​उनके मनोबल को ठेस पहुंचे, इसलिए मैंने सीईसी (सेंट्रल इलेक्शन कमेटी) और ऊपर तक पैरवी की। मैंने सीईसी में भी कहा कि वैभव को टिकट मिलना चाहिए। टिकट मिला और हम चुनाव नहीं जीत सके। काफी मार्जिन से चुनाव हारे। मध्यप्रदेश में भी टिकट दिया था, वहां कमलनाथ जी के बेटे चुनाव जीते।' पायलट महारानी कॉलेज में सांस्कृतिक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद बुधवार को मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

लोकसभा चुनाव 2019 में जोधपुर में वैभव गहलोत की चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे थे सचिन पायलट। साथ में सीएम अशोक गहलोत।
लोकसभा चुनाव 2019 में जोधपुर में वैभव गहलोत की चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे थे सचिन पायलट। साथ में सीएम अशोक गहलोत।

गहलोत ने कहा था- यूपीए के दूसरे टर्म में मंत्री पद के लिए मैंने पायलट की पैरवी की थी
इससे पहले 9 मार्च को एक कार्यक्रम में सीएम गहलोत ने कहा था कि यूपीए के दूसरे टर्म में मैंने पार्टी से सचिन पायलट को केंद्रीय मंत्री बनाने की सिफारिश की थी। अगले दिन पायलट ने फोन करके मंत्री बनवाने में सहयोग का आग्रह किया, तो उन्होंने कहा कि मैं पहले ही हाईकमान को आपका नाम दे चुका हूं। उस समय यह बात किसी को नहीं बताई थी।

सचिन बोले- राजस्थान में फिर बनेगी कांग्रेस सरकार
पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि कांग्रेस की सरकारें भी रिपीट होती हैं। दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में कांग्रेस की सरकार पहले रिपीट हो चुकी है। ऐसे में इस बार राजस्थान का ट्रेंड भी बदलेगा। लगातार दूसरी बार राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि वक्त आ गया है, 25 से 26 साल के इस ट्रेंड को अब बदलना होगा। यह बदलाव राजस्थान में इस बार होगा।

यह भी पढ़ें-

गहलोत बोले- मेरी सिफारिश पर केंद्रीय मंत्री बने पायलट:CM ने कहा- सचिन ने मंत्री बनाने की मदद मांगी, पर मैं पहले ही नाम भेज चुका था

खबरें और भी हैं...