CHA ने PCC में किया हंगामा:बोले- संविदा संविदा कैडर में करें शामिल, आत्महत्या के लिए ना करें मजबूर

जयपुर4 महीने पहले
PCC में घुसने की कोशिश करते CHA प्रदर्शनकारी। - Dainik Bhaskar
PCC में घुसने की कोशिश करते CHA प्रदर्शनकारी।

राजस्थान सरकार के खिलाफ कोविड स्वास्थ्य सहायकों (CHA) वर्कर्स का विरोध लगातार बढ़ता जा रहा है। पिछले 54 दिनों से जयपुर के शहीद स्मारक पर धरना दे रहे CHA लगातार दूसरे दिन प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय विरोध करने पहुंचे। इस दौरान पुलिस प्रशासन ने CHA को बाहर ही रोक दिया। जिससे नाराज सी एच ए प्रदर्शनकारियों ने हंगामा शुरू कर दिया।

दरअसल, मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मंत्रियों द्वारा जनसुनवाई की जा रही थी। इस दौरान संविदा कैडर में भर्ती की मांग को लेकर CHA प्रदर्शनकारी भी पीसीसी पहुंचे। लेकिन जनसुनवाई के दौरान अंदर प्रवेश नहीं दिया गया। जिससे नाराज प्रदर्शनकारियों ने PCC में हंगामा शुरू कर दिया। लगभग 1 घंटे के हंगामे के बाद भी उन्हें प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रवेश नहीं मिला। जिससे नाराज प्रदर्शनकारियों ने सरकार को सबक सिखाने की नसीहत तक दे डाली।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हम भी भारत के नागरिक हैं। लेकिन हमें जनसुनवाई में नहीं भेजा जा रहा है। जैसे कि हम पाकिस्तान से आए हैं। जबकि हम हमारी वाजिब मांगों को लेकर पिछले 54 दिनों से सर्दी, गर्मी, बारिश में शांति प्रिय प्रदर्शन कर रहे हैं। लेकिन सरकार हमारी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही। ऐसे में अगर समय रहते सरकार ने हमारी मांगों को पूरा नहीं किया। तो सरकार के खिलाफ प्रदेशभर के CHA और उनके परिजन उग्र प्रदर्शन करेंगे। इसके बाद भी अगर सरकार नहीं मानी तो हम आत्महत्या करेंगे जिसके लिए कांग्रेस सरकार जिम्मेदार होगी।

बता दें कि कोरोना काल के दौरान प्रदेशभर में 28 हजार CHA वर्कर्स की नियुक्ति की थी। जिन्हें कोरोना मरीजों के उपचार के साथ घर-घर जाकर दवाई पहुंचाने, सैंपल लेने की भी जिम्मेदारी दी गई थी। इस साल 31 मार्च को CHA वर्कर्स का कॉन्ट्रैक्ट खत्म होने के बाद सरकार ने सभी को नौकरी से हटाने का आदेश जारी कर दिया। इस आदेश के बाद से प्रदेश में सभी CHA ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया।