13 दिवसीय प्रोडक्शन बेस्ड वर्कशॉप का शुभारंभ:जेकेके में सजा कहानी का रंगमंच, देवेंद्र राज अंकुर और डाॅ. मिलिंद इनामदार पार्टिसिपेंट्स से होंगे रूबरू

5 महीने पहले

जवाहर कला केंद्र में रविवार, 18 सितंबर से ‘कहानी का रंगमंच’ प्रोडक्शन बेस्ड वर्कशॉप का शुभारंभ हुआ। इसमें राजस्थान व अन्य राज्यों से पहुॅंचे 21 यंग थिएटर आर्टिस्ट हिस्सा ने हिस्सा लिया हैं। 30 सितंबर तक चलने वाली इस वर्कशॉप में ​​​​​​पार्टिसिपेंट्स को सीनियर थिएटर डायरेक्टर देवेंद्र राज अंकुर और एंक्टिंग गुरु डाॅ. मिलिंद इनामदार से रूबरू होने का मौका मिलेगा।

नया हुनर सीख रहे है पार्टिसिपेंट्स

केंद्र की अतिरिक्त महानिदेशक अनुराधा गोगिया ने बताया कि 13 दिवसीय वर्कशॉप में थिएटरआर्टिस्ट को एक्टिंग की बारीकियां और उससे जुड़ी तकनीकें सीखने का मौका मिलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि कहानियों को अभिनय के जरिए मंच पर प्रस्तुत करने का हुनर भी प्रतिभागी सीख पाएंगे।

वर्कशॉप में देवेंद्र राज अंकुर और . मिलिंद इनामदार पार्टिसिपेंट्स हुए रुबरू
वर्कशॉप में देवेंद्र राज अंकुर और . मिलिंद इनामदार पार्टिसिपेंट्स हुए रुबरू

‘बिज्जी’ की कहानियों पर होगा काम

देवेंद्र राज अंकुर ने बताया कि वर्कशॉप के दौरान राजस्थान के प्रसिद्ध लेखक विजयदान देथा ‘बिज्जी’ की सात कहानियों पर काम किया जाएगा। अंत में पार्टिसिपेंट्स के तीन ग्रुप तीन कहानियों का मंचन करेंगे। गौरतलब है कि देवेंद्र राज अंकुर कहानी का रंगमंच के प्रणेता हैं। वे कहानियों का स्वरूप बदले बिना रंगमंच पर उन्हें प्रस्तुत करने के लिए मशहूर हैं।

खबरें और भी हैं...