• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Sangh Chief Bhagwat In Jaipur, Hosbole Will Also Come On February 1, Sangh Will Face RSS People On The Subject Today And Tomorrow

चुनावी साल का असर:संघ प्रमुख भागवत जयपुर में, 1 फरवरी को होसबोले भी आएंगे, आरएसएस लोगों से संघ आज और कल विषय पर रूबरू होगा

जयपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इस दौरान संघ के शताब्दी वर्ष की तैयारियों पर भी चर्चा करेंगे। - Dainik Bhaskar
इस दौरान संघ के शताब्दी वर्ष की तैयारियों पर भी चर्चा करेंगे।

प्रदेश के चुनावी साल में राजनीतिक दलों की गतिविधियों के साथ-साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सक्रियता भी प्रदेश में बढ़ गई है। संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत बुधवार को जयपुर पहुंचे। वे 29 जनवरी तक यहां रहेंगे। वे विभिन्न स्तर के संघ कार्यकर्ताओं की बैठकों में शामिल होंगे। समाज परिवर्तन की दिशा में चलने वाली गतिविधियों जैसे कुटुम्ब प्रबोधन, ग्राम विकास, गोसेवा, सामाजिक समरसता और पर्यावरण पर भी इन बैठकों में मंथन होगा।

भागवत के लौटने के बाद 1 फरवरी को संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले जयपुर आएंगे। पहली बार संघ पर खुली चर्चा के लिए वे प्रबुद्धजन के साथ चर्चा करेंगे। संघ प्रमुख भागवत गणतंत्र दिवस पर सुबह 9 बजे केशव विद्यापीठ विद्यालय में ध्वाजारोहण करेंगे। 27 जनवरी को वे जयपुर प्रांत के विभाग स्तर के संघ कार्यकर्ताओं की बैठक लेंगे। इसी प्रकार 28 व 29 जनवरी को भी संघ के विभिन्न स्तर के कार्यकर्ताओं की बैठकों में शामिल होंगे। इस दौरान संघ के शताब्दी वर्ष की तैयारियों पर भी चर्चा करेंगे।

इस बार सरसंघचालक व सरकार्यवाह दोनों का प्रवास
सरसंघचालक का यह नियमित प्रवास है, जो दो वर्ष में एक बार प्रत्येक प्रांत में होता है। प्रवास के क्रम में प्रांत को वर्ष में एक बार सरसंघचालक और दूसरी बार सरकार्यवाह का प्रवास होता है। इस बार पहले संघ प्रमुख और फिर सरकार्यवाह का एक के बाद एक प्रवास है, ऐसे में माना जा रहा है कि संघ भी पूरी तरह चुनावी राज्यों पर खुद को फोकस कर रहा है। सरकार्यवाह होसबोले 1 फरवरी को एकात्म मानव दर्शन प्रतिष्ठान के 22वें व्याख्यान को संबोधित करेंगे। इस व्याख्यानमाला में वे प्रबुद्धजन से संघ आज और कल विषय पर खुली चर्चा करेंगे।

प्रतिष्ठान के अध्यक्ष डॉ. महेश शर्मा का कहना है कि संघ को लेकर आमजन में बहुत भ्रांतियां रहती हैं और कुछ राजनीतिक दल अपने स्वार्थ के लिए संघ पर अनर्गल टिप्पणियां करते रहते हैं। ऐसे में इस कार्यक्रम के माध्यम से प्रबुद्धजन के बीच संघ की वास्तविक तस्वीर प्रस्तुत की जा सकेगी।

खबरें और भी हैं...