• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Satish Poonia Said That Rahul Priyanka Should Explain To Gehlot, Vasundhara Said Government Should Leave Dogma; Rathore Told Congress Dictator

बेरोजगारों के समर्थन में उतरी BJP:सतीश पूनिया ने कहा- गहलोत को समझाए राहुल-प्रियंका, वसुंधरा बोली- हठधर्मिता छोड़े सरकार

जयपुर7 महीने पहले
सतीश पूनिया ने कांग्रेस पर साधा निशाना।

राजस्थान में पिछले 45 दिनों से 22 सूत्री मांगों को लेकर धरना दे रहे बेरोजगार UP पहुंच चुके हैं। बेरोजगारों के UP पहुंचने के बाद शनिवार को कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने बेरोजगारों के साथ अभद्रता की। जिसके बाद बीजेपी नेताओं ने भी बेरोजगारों का समर्थन कर दिया है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि राजस्थान के बेरोजगार ठंड में लखनऊ कांग्रेस कार्यालय के बाहर अपनी वाजिब मांगों को लेकर धरना दे रहे हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश में धरना-धरना खेलने वाले राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को अशोक गहलोत को समझाना चाहिए।

वसुंधरा राजे ने कांग्रेस पर बोला हमला।
वसुंधरा राजे ने कांग्रेस पर बोला हमला।

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि राजस्थान के बेरोजगार महीनेभर से धरने पर बैठे हैं। जिसके बाद भी राजस्थान सरकार ने उनकी नहीं सुनी है। जिसके बाद परेशान होकर बेरोजगार प्रियंका गांधी से न्याय की गुहार लगाने लखनऊ पहुंचे हैं। ऐसे में अब राज्य सरकार को हठधर्मिता छोड़कर युवाओं की मांगों को जल्द से जल्द पूरा करना चाहिए।

राजेंद्र राठौड़ ने कांग्रेस पर साधा निशाना।
राजेंद्र राठौड़ ने कांग्रेस पर साधा निशाना।

वहीं विधानसभा के उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि राजस्थान में डेढ़ महीने से बेरोजगार धरना दे रहे हैं। लेकिन तानाशाह गहलोत सरकार कोई सुनवाई नहीं कर रही। जिसके बाद परेशान होकर बेरोजगार प्रियंका गांधी से न्याय की आस लेकर लखनऊ पहुंचे थे। लेकिन वहां भी बेरोजगारों के साथ कांग्रेसी कार्यकर्ता मारपीट पर उतारू हो गए हैं। जो पूरी तरह गलत है। सरकार को बेरोजगारों की लंबित मांगों को जल्द से जल्द पूरा करना चाहिए।

UP में अनशन पर बैठे राजस्थान के बेरोजगार।
UP में अनशन पर बैठे राजस्थान के बेरोजगार।

इधर, राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस सरकार ने बेरोजगारों के साथ वादाखिलाफी की है। ऐसे में मजबूरन राजस्थान की बेरोजगार उत्तर प्रदेश में आमरण अनशन देने के लिए पहुंच गए हैं। लेकिन यहां पर भी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बेरोजगारों के साथ मारपीट की। लेकिन बेरोजगार अपनी आखरी सांस तक लंबित मांगों को लेकर संघर्ष करते रहेंगे।

खबरें और भी हैं...