खिलाड़ियों ने जयपुर की बनाई पहचान:चमका चौगान; जयपुर की बॉयज-गर्ल्स टीमों ने कबड्‌डी में जीती स्टेट चैंपियनशिप, इनमें 50% खिलाड़ी चौगान के हैं

जयपुर8 महीने पहलेलेखक: संजीव गर्ग
  • कॉपी लिंक
भीलवाड़ा में स्टेट सब जूनियर चैंपियनशिप में जयपुर ने बॉयज और गर्ल्स ने गोल्ड जीते हैं। - Dainik Bhaskar
भीलवाड़ा में स्टेट सब जूनियर चैंपियनशिप में जयपुर ने बॉयज और गर्ल्स ने गोल्ड जीते हैं।

पिंकसिटी में खेलों का गढ़ है चौगान स्टेडियम। कभी यहां रणजी मैच होते थे। इन दिनों यह कबड्डी का गढ़ बना हुआ है। यहां से राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी तो निकले हैं ही, प्रो कबड्डी में भी कई खिलाड़ियों ने जलवा बिखेरा है।

भीलवाड़ा में स्टेट सब जूनियर चैंपियनशिप में जयपुर ने बॉयज और गर्ल्स ने गोल्ड जीते हैं। दोनों टीमों में 50% खिलाड़ी यहीं से हैं। भीलवाड़ा में आयोजित सब जूनियर स्टेट कबड्डी में जयपुर के साहिल शर्मा और संजना बुरी बेस्ट खिलाड़ी रहे।

ये खिलाड़ी इंटरनेशनल खेले
नवीन गौतम, राजूलाल चौधरी, शालिनी पाठक, मनप्रीत कौर, सचिन, महेन्द्र सिंह ढाका, बृजेन्द्र चौधरी, राजेश गुर्जर, ममता ढाका आदि कई खिलाड़ियों ने चौगान स्टेडियम में ही ट्रेनिंग ली है। प्रो कबड्डी में खेलने वाले खिलाड़ी राजूलाल चौधरी, महेन्द्र चौधरी, महेन्द्र ढाका, धर्मेन्द्र, सचिन, कमल किशोर, राहुल चौधरी, नवनीत गौतम, बृजेश चौधरी, राजेश गुर्जर, गोविंद गुर्जर और प्रदीप यादव भी इसी स्टेडियम की देन हैं।

जयपुर जिला कबड्डी संघ के सचिव नेमी गुर्जर का कहना है कि चौगान में गुजरात, एमपी और हरियाणा से खिलाड़ी ट्रेनिंग के लिए आते हैं। हरियाणा से आने वाले खिलाड़ी तो राजस्थान से खेलना चाहते हैं।

चौगान के कबड्‌डी कोच डॉ. दिनेश चौधरी का कहना कि सीनियर वर्ग में भी राजस्थान दो बार नेशनल में मेडल जीती है। इसमें भी चौगान के आधे से ज्यादा खिलाड़ी थे। आने वाले समय में चौगान के कई और खिलाड़ी भारतीय टीम से खेलते नजर आएंगे।

प्रो-कबड्डी, इस सीजन में सचिन को मिले 84 लाख

  • 84 लाख में पटना पायरेट्स ने चौगान के सचिन को खरीदा था।
  • 55 लाख में बृजेश चौधरी को हरियाणा स्टीलर्स ने खरीदा था।
  • 10 लाख में राजेश गुर्जर भी हरियाणा स्टीलर्स के साथ जुड़े थे।
  • 8 लाख रुपए में चौगान के ही गोविंद गुर्जर गुजरात जायंट्स के लिए खेलते नजर आएंगे।
  • 8 लाख में यू मुंबा ने प्रदीप यादव को अपनी टीम के साथ जोड़ा।