• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Son Killed Mother Along With Friend For Property Distribution, Sent To Mathura Sitting In Bus From Sindhi Camp, 40 Thousand Rupees And One Kg Of Gold And Silver Ornaments Recovered

मां के हत्यारे बेटे का दोस्त UP से गिरफ्तार:प्रॉपर्टी बंटवारे के लिए मां को दोस्त के साथ मिलकर मारा, बस में बैठा साथी को मथुरा भेजा, 40 हजार रुपए व एक किलो सोने-चांदी के गहने बरामद

जयपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में दोनों आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में दोनों आरोपी।

जयपुर के चौमूं इलाके में मां की हत्या के बाद फरार हुए बेटे के दोस्त को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वह हत्या के बाद उत्तरप्रदेश के मथुरा पहुंच गया था। पुलिस उसे पकड़ कर लाई। वहीं, पुलिस ने हत्यारे बेटे देवेश शर्मा से भी 40 हजार रुपए व करीब एक किलो चांदी-सोने के जेवरात व बर्तन बरामद कर लिए हैं। आरोपी देवेश ने 4 चार दिन पहले अशोक विहार में मां की दोस्त के साथ मिलकर गला दबा कर हत्या कर दी थी। पुलिस ने हत्या के दो दिन बाद मामले का खुलासा करते हुए आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया था।

चौंमू थानाधिकारी हेमराज सिंह ने बताया कि केशव सिंह राठौड़ (21)पुत्र कमल सिंह निवासी वृंदावन मथुरा को गिरफ्तार किया है। वह फिलहाल हस्तेड़ा गोविंदगढ़ जयपुर में रहता है। केशव को उसके दोस्त देवेश ने मां की हत्या के बाद जयपुर के सिंधी कैंप बस स्टैंड पर छोड़ दिया था। वहां से बस में बैठ कर उत्तरप्रदेश चला गया था। देवेश से पूछताछ के बाद लोकेशन के आधार पर स्पेशल टीम ने केशव को मथुरा से पकड़ा।

देवेश 29 जुलाई की रात को मां सावित्री की हत्या के बाद 40 हजार रुपए व एक किलो सोने व चांदी के जेवरात व बर्तन चोरी कर ले गया था। उन्हें अपने घर में ले जाकर छुपा दिया था। पुलिस ने रुपए व जेवरात भी उसके घर से बरामद कर लिए है। जांच में पता लगा कि देवेश शर्मा ने ही प्रॉपर्टी के बंटवारे को लेकर मां सावित्री देवी की हत्या की योजना बनाई थी। उसने केशव को लालच देकर अपने साथ हत्या में शामिल कर लिया था।

29 जुलाई को मां की हत्या की

अशोक विहार में सावित्री शर्मा अकेले ही मकान में रहती थी। बड़ा बेटा मुकेश पुत्र बद्रीनारायण चौंमू में ही शर्मा डायग्नोस्टिक सेंटर चलाता है। वह MBBS है। विद्याधरनगर में बच्चों के साथ शिव शक्ति अपार्टमेंट में रहता है। छोटा बेटा देवेश शर्मा मंडी में दुकान करता है। देवेश पर करोड़ों रुपए का कर्जा हो गया था। लोग उससे कर्जा मांग रहे थे। तब उसने मां व भाई को प्रॉपर्टी का बंटवारा करने की बात कहीं। मां ने उसे कहा कि मेरे जिंदा रहते हुए कोई बंटवारा नहीं होगा। उसने कई बार बंटवारा करने की बात कहीं। जब मां नहीं मानी तो उसने हत्या करने की योजना बनाई। उसके साथ काम करने वाले केशव को भी योजना में शामिल किया। 29 जुलाई को दोस्त की कार मांग कर लाया। कार को दूर गली में खड़ी करके छिपते हुए घर पहुंचा। कमरे में सो रही मां का गला दबा कर हत्या कर दी। अलमारी से कीमती सामान व रुपए चुरा कर ले गया। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर वारदात का खुलासा कर दिया।

यहां क्लिक कर पढ़ें पूरा मामला...

प्रॉपर्टी के लिए बेटे ने मां की हत्या कर दी:कर्ज होने पर संपत्ति का बंटवारा चाहता था, महिला ने कहा- मेरे जिंदा रहते ऐसा नहीं होगा, दोस्त के साथ मिलकर सोते समय गला दबा दिया

खबरें और भी हैं...