पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शाहपुरा के अमरसर में सरकारी सोच की नसबंदी:लेबर रूम में महिलाओं की नसबंदी और बरामदे में पर्दे के पीछे पोस्टमॉर्टम

जयपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लेबर रूम के पास पर्दा लगाकर होता शव का पोस्टमॉर्टम - Dainik Bhaskar
लेबर रूम के पास पर्दा लगाकर होता शव का पोस्टमॉर्टम

ये शाहपुरा के अमरसरवाटी का एकमात्र सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र है। 20 साल से यहां मोर्चरी नहीं है। गुरुवार को मासिक नसबंदी शिविर के दौरान महिलाओं की लाइन लगी थी। सीएचसी में लेबर रूम और ऑपरेशन थिएटर के बीच में बरामदे के एक कोने में पर्दा लगाकर पोस्टमॉर्टम किया जा रहा था। पर्दे के पीछे चल रहे पाेस्टमाॅर्टम काे देख महिलाएं सहमी दिखीं। इस पोस्टमॉर्टम हाउस के बिल्कुल पास ही महिला वॉर्ड भी है। भर्ती मरीज भी घबराए दिखे।

पोस्टमाॅर्टम के कारण प्रसव के लिए नहीं आतीं महिलाएं
लेबर रूम के पास ही बरामदे में शवों को रखा जाता है। ऐसे में हाॅस्पिटल में प्रसव के लिए महिलाओं का आना कम हो गया है। कई बार लेबर रूम में प्रसव के लिए भर्ती महिलाओं के सामने ही पोस्टमाॅर्टम किया जाता है तो वे सहम जाती हैं।

राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजकर कराएंगे समाधान: विधायक
विधायक आलोक बेनीवाल ने बताया कि सीएचसी आदर्श बनाने के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएंगे। सीएचसी प्रभारी डॉ.रविंद्र यादव ने बताया कि अस्पताल में मोर्चरी नहीं होने की समस्या से स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों को अवगत करवाया जा चुका है।

यह भी जानिए

सीएचसी में 15 ग्राम पंचायताें के मरीज आते है। सवा लाख आबादी इस हाॅस्पिटल पर उपचार के लिए निर्भर।

  • 12 डाॅक्टराें की सीएचसी में राेजाना 100 मरीजाें की ओपीडी रहती है।
  • एक साल में लेबर रूम के बरामदे में पर्दा लगाकर सड़क हादसाेें में मृत हुए 11 लाेगाें का पाेस्टमार्टम किया गया।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें