पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कहा:ऑक्सीजन नहीं है फिर भी मरीज भर्ती करें, उपचार के बाद रेफर कीजिए

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शुक्रवार की शाम को स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा और परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास 4 नंबर डिस्पेंसरी पर पहुंचे। यहां हालातों की जानकारी ली। - Dainik Bhaskar
शुक्रवार की शाम को स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा और परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास 4 नंबर डिस्पेंसरी पर पहुंचे। यहां हालातों की जानकारी ली।

आपने मरीज को भर्ती क्याें नहींं किया? अरे, ऑक्सीजन नहीं थी तो भी क्या..? भर्ती तो करते। दोबारा ऐसा नहीं होना चाहिए। हर मरीज भर्ती होना चाहिए। ईएसआई में कोविड इंचार्ज द्वारा मरीज को भर्ती नहीं किए जाने पर परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने नाराजगी जताई।

मौजूद चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने निर्देश दिए मरीज की स्थिति को देखते हुए उसे एकबार एडमिट कीजिए...अधिक परेशानी हो तो दूसरे अस्पताल रेफर कीजिए। और फिर अन्य अस्पताल में रेफर कीजिए। ईएसआई को 20 व टीबी अस्पताल को 20 कॉन्संट्रेटर दिए गए हैं ताकि मरीजों को बेड और ऑक्सीजन मिल सके।

200 जनों को कर सकेंगे भर्ती, वेंटीलेटर की दरकार
ईएसआई में 86 जने भर्ती हो रहे हैं। कॉन्संट्रेटर के बाद 200 मरीज भर्ती हो सकेंगे। हालांकि यहां एक भी वेंटीलेटर नहीं है। चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि राजकीय कोविड डेडीकेटेड अस्पतालों में मरीजों को इलाज के लिए मना नहीं किया जाएगा और उन्हें प्रारंभिक उपचार अनिवार्य रुप से प्रदान किया जाएगा।

चिकित्सा मंत्री ने टीबी अस्पताल का दौरा किया और बताया कि 306 बैडेड इस अस्पताल में टीबी रोगी भी भर्ती हैं। उन्होंने कहा कि अस्पताल में 60 ऑक्सीजन बैड कोविड मरीजों को मिलेंगे।

खबरें और भी हैं...