पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तपस्वी बाबा का काला चिट्‌ठा पार्ट-2:खुद को भगवान बताता था, आधी रात को सेवा के लिए बुलाता फिर प्रसाद में भांग खिलाकर रेप करता

जयपुर21 दिन पहले

जयपुर में तपस्वी बाबा की अलग ही माया है। तपस्वी बाबा ने एक ही परिवार की चार महिलाओं को मायाजाल में फंसा लिया। एक-एक कर परिवार के बीच महिलाओं से दुष्कर्म का राज खुला तो सब सुनकर दंग रह गए। बाबा की करतूत सामने आई तो महिलाओं ने एकजुट होकर भांकरोटा थाने में मुकदमा दर्ज कराया। भांकरोटा पुलिस ने तपस्वी बाबा को गिरफ्तार कर लिया है। कोर्ट ने जमानत खारिज कर दी है। फिलहाल बाबा जेल में है। दैनिक भास्कर ने पीड़िता से मिलकर तपस्वी बाबा की करतूत के बारे में बात की। पीड़िता ने कई चौंकाने वाली बातें बताईं।

फोन, न्यूजपेपर भी बंद करवा देता है बाबा

पीड़िता ने कहा कि मुकुंदपुरा में आश्रम में है। वहां योगेंद्र मेहता गद्दी पर बैठता है। वह खुद को तपस्वी बाबा कहता है। आश्रम में महिलाओं को समस्याओं का समाधान करने के लिए बुलाता है। कई सालों से परिवार के सदस्य आश्रम में जा रहे थे। पति से घरेलू कलह चल रही थी। उसने पति से बच्चों को लाने की बात कही। बाबा बोला कि सब सही हो जाएगा। कहता है कि मैं ही गुरु हूं, मैं ही परमपिता हूं, गुरु को सब कुछ अर्पण कर देना चाहिए। पीड़िता बताती हैं कि बाबा मति भ्रम कर देता है। यहां तक कि बाबा फोन, टीवी व न्यूजपेपर सब कुछ बंद करवा देता है। आपस में भी किसी से बात नहीं करने देता है।

आश्रम में रात को सेवा करने बुलाता है

तपस्वी बाबा महिलाओं को आश्रम में रात को कमरे में बुलवाता था। सेविकाएं ही बाबा के पास महिलाओं को लेकर जाती हैं। पहले आश्रम में अलग कमरे में बुलाकर हाथ-पैर दबवाता है। उन्हें बातों में बहलाता-फुसलाता है। कमरे में जाने पर महिलाओं को भांग की गोली खिला कर दुष्कर्म करता है। जो महिला अपने आप समर्पित कर देती है तो ठीक, नहीं तो परिवार को जान से मारने की धमकी देता है। पीड़िता के साथ तीन साल पहले दुष्कर्म किया था। बाद में कई बार आश्रम में बुलाकर रेप किया। उसने धमकी दी कि किसी को बताया तो पति को मार दूंगा। सब बर्बाद कर दूंगा।

बाबा खुद को बताता था भगवान।
बाबा खुद को बताता था भगवान।

बेटी को आश्रम ले जाने पर हुआ खुलासा

पीड़िता की बेटी का एक लड़के से अफेयर चल रहा था। परिवार में कुछ घरेलू कलह चल रहा था। बाबा की सेविकाओं ने आश्रम में आने को बोला। आश्रम में बाबा ने बोला कि बेटी को मेरे पास भेज दो। सब सही हो जाएगा। उसके पति ने बेटी को आश्रम में जाने की बात कही। पीड़िता ने बेटी को भेजने से मना कर दिया। पति नहीं माने तो उसने पूरी बात बताई। इसके बाद एक-एक कर परिवार की महिलाओं के साथ दुष्कर्म किए जाने की बात सामने आई।

आश्रम में 150 से ज्यादा सेवक-सेविकाएं

तपस्वी बाबा के आश्रम में करीब 150 से ज्यादा सेवक-सेविकाएं हैं। उनका बाबा के पास आश्रम में रोजाना आना-जाना रहता है। सेविकाएं ही बाबा के पास आश्रम में महिलाओं को लेकर जाती हैं। बाबा के कमरे में ले जाकर उनसे सेवा करने के लिए कहती हैं। कमरे में बाबा के हाथ-पैरे दबाती हैं। पीड़िता ने बताया कि रात को 11 बजे के बाद ही सेविकाएं बाबा के कमरे में महिलाओं को लेकर जाती हैं।

पुलिस गिरफ्त में बाबा।
पुलिस गिरफ्त में बाबा।

अच्छी खासी पढ़ी-लिखी महिलाएं भी बाबा के चक्कर में फंसी

तपस्वी बाबा के झांसे में फंसी एक ही परिवार की महिलाएं काफी पढ़ी हुई हैं। हैरानी की बात है कि एक पीड़िता तो MSc है। वहीं, अन्य भी ग्रेजुएट हैं। पुलिस जांच में पता लगा कि अन्य महिलाएं भी ग्रामीण परिवेश से हैं। वह भी 10वीं-12वीं पढ़ी हुई हैं।

सूना पड़ा आश्रम

दरअसल एक ही परिवार की चार महिलाओं के साथ दुष्कर्म की बात सामने आने पर पुलिस भी चकित हो गई थी। पुलिस ने तपस्वी बाबा को गिरफ्तार कर लिया है। तपस्वी बाबा योगेंद्र मेहता के गिरफ्तार होने के बाद से आश्रम सूना पड़ा हुआ है। नाम मात्र के ही लोग आश्रम में आ रहे हैं। तपस्वी बाबा की जमानत याचिका खारिज हो चुकी है। बाबा फिलहाल जेल में है।

अब खाली पड़ा आश्रम।
अब खाली पड़ा आश्रम।

शादीशुदा है तपस्वी बाबा

तपस्वी बाबा खुद शादीशुदा है। जांच में पता लगा कि उसके दो बच्चे हैं। परिवार आश्रम से कुछ दूर अलग रहता है। बाबा आश्रम में ही रहता है। आश्रम में आस्था के नाम पर चढ़ावा लेता है। बाबा के पास आश्रम में काफी दूर से लोग आते हैं। जयपुर के अलावा सीकर, दूदू, बगरू सहित काफी जगहों से लोग आते हैं। बाबा के गिरफ्तार होने के बाद फिलहाल आश्रम सूना पड़ा हुआ है।

ये है मामला
जयपुर के भांकरोटा थाने में बाबा के खिलाफ 4 महिलाओं ने दुष्कर्म के आरोप लगाए हैं। बाबा की सेविका पर भी सहयोग करने के आरोप हैं। बाबा ने खुद को भगवान बताकर आश्रम में आने वाली महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया।

खबरें और भी हैं...