• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • The Borrower Was Absconding For 11 Years By Keeping Fake Gold In The Bank, Came To Jaipur To Fly Kites, Then The Police Arrested Him For Flying Kites

नकली गोल्ड से लेता था लोन, 11 साल बाद गिरफ्तार:मकर सक्रांति पर आया था पतंग उड़ाने, 22 लाख की ठगी कर हो गया था फरार

जयपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी राधा चंद्रमोहन। आरोपी 11 साल फरार चल रहा था। - Dainik Bhaskar
आरोपी राधा चंद्रमोहन। आरोपी 11 साल फरार चल रहा था।

अशोक नगर थाना इलाके में 11 साल पहले एचडीएफसी बैंक में नकली गोल्ड रखकर लोन लेने के मामले में 11 साल से फरार आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। अशोक नगर थाना अधिकारी विक्रम सिंह ने बताया कि 9 मार्च 2011 को बैंक की तरफ से अमित अग्रवाल ने करीब 22 लाख की ठगी का मामला दर्ज करवाया था। रिपोर्ट में बताया था कि अक्टूबर 2008 से अप्रैल 2009 के बीच सुधीर कुमावत, राधा चंद्रमोहन,राधेश्याम सोनी,कमल भास्कर और हेमंत सैनी ने एचडीएफसी बैंक की सी स्कीम ब्रांच से गोल्ड लोन लिया था। बैंक ने वैल्यूएशन के बाद लोन अप्रूव्ल कर दिया। आरोपियों ने 56 चूड़ी कड़े,11 चैन और एक ब्रेसलेट गोल्ड लोन के लिए बैंक को दे दिए। आरोपियों ने वैल्यूएशन करने वाले विनोद सिंगल से मिलीभगत कर नकली गोल्ड को 22 कैरेट गोल्ड बताकर बैंक में गिरवी रख दिया।

लोन की किस्त नहीं आने पर बैंक को हुआ शक
लोन देने के बाद जब बैंक को लोन की एक भी किस्त नहीं मिली तो बैंक को शक हुआ। बैंक अधिकारियों ने गिरवी रखा सोना नीलामी के लिए निकलवाया और दोबारा से गोल्ड की वैल्यूएशन करवाई। वैल्यूएशन के दौरान बैंक में गिरवी रखा गया सोना नकली पाया गया। इस पर 9 मार्च 2011 को सभी आरोपियों के खिलाफ बैंक की तरफ से अशोक नगर थाने में धोखाधडी का मामला दर्ज करवाया गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की और 3 आरोपियों को 2011 में ही गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने नरेंद्र नगर महेश नगर निवासी सुधीर कुमावत (31), गोल्ड वैल्यूअर खेजड़ो का रास्ता चांदपोल बाजार निवासी विनोद सिंघल (35) , छत्तीसगढ़ निवासी कमल भास्कर सिंह (36) का गिरफ्तार किया था। वहीं चौथे आरोपी हेमंत सैनी कि इस दौरान मौत होने पर उसका मृत्यु प्रमाण पत्र लिया गया। मामले में एक आरोपी राधा चंद्रमोहन उर्फ चंद्रमोहन फरार हो गया था, जिसकी पुलिस सालों से तलाश कर रही थी।

पतंगबाजी के शौक ने पकड़वाया,पुलिस ने पतंग उड़ाते दबोचा

अशोक नगर थाना अधिकारी विक्रम सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर सामने आया की फरार आरोपी राधा चंद्र मोहन उर्फ चंद्रमोहन पतंगबाजी का शौकीन है। मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी मकर संक्रांति के त्यौहार पर पतंगबाजी के शौक के चलते किशनपोल बाजार स्थित रिश्तेदार के घर आता है। सूचना के आधार पर पुलिस ने मकर संक्रांति के त्यौहार पर आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए टीम का गठन किया। किशनपोल बाजार स्थित रिश्तेदार के घर के बाहर सादा वर्दी में पुलिस की टीम को तैनात किया। जैसे ही आरोपी किशनपोल बाजार स्थित रिश्तेदार के घर पहुंचा और पतंगबाजी शुरू की तो पुलिस की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।