पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्कूलों का आकस्मिक निरीक्षण:समास-संधि में अंतर नहीं बता पाए बच्चे, शिक्षक बोले; कोर्स में हुई कटौती

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उदयपुर . कलेक्टर चेतन देवड़ा ने उदयपुर और मावली के सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूल के निरीक्षण के दौरान वे टीचर की तरह बच्चों को पढ़ाया। - Dainik Bhaskar
उदयपुर . कलेक्टर चेतन देवड़ा ने उदयपुर और मावली के सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूल के निरीक्षण के दौरान वे टीचर की तरह बच्चों को पढ़ाया।
  • प्रदेश के कई जिलों में कलेक्टरों के स्कूलों में औचक निरीक्षण के दौरान पढ़ाई और व्यवस्थाओं की हकीकत पर दैनिक भास्कर रिपोर्टर्स की लाइव रिपोर्ट

प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ाई की व्यवस्था को जांचने के लिए कलेक्टरों ने अपने-अपने जिलों में कई सरकारी स्कूलों का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान कलेक्टर खुद क्लास रूम में गए। वहां शिक्षकों को पढ़ाते देखा, शिक्षकों व बच्चों से सवाल पूछे। बच्चों की जिज्ञासाएं जानीं, उनके भविष्य के सपनों के बारे में पूछा और पढ़ाई में आने वाली परेशानियों की जानकारी ली।

कलेक्टर के स्कूलों के निरीक्षण के दौरान स्कलों में पढ़ाई की वास्तविक तस्वीर सामने आई। कहीं बच्चे सवालों का जवाब नहीं दे पाए तो कहीं खुद शिक्षक बगल झांकते नजर आए। इस दौरान भास्कर रिपोर्टर्स खुद मौके पर मौजूद रहे, पूरी व्यवस्था को लाइव देखा और जाना कि स्कूलों में बच्चों को शिक्षक कैसे पढ़ाते हैं, वे बच्चों को कितना सिखाते हैं, बच्चे कितना सीख पाते हैं। पढ़िए, जोधपुर, उदयपुर, अजमेर, कोटा, झालावाड़, बीकानेर जिलों में स्कूलों में पढ़ाई की स्थिति की लाइव रिपोर्ट।

उदयपुर मॉडल स्कूल मावली: कलेक्टर ने स्टूडेंट्स संग क्लास में फिजिकल एजुकेशन का पाठ पढ़ा
कलेक्टर चेतन देवड़ा ने शनिवार को महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल धानमंडी और स्वामी विवेकानंद राजकीय मॉडल स्कूल मावली का औचक निरीक्षण किया। धानमंडी स्कूल में कलेक्टर देवड़ा ने स्टूडेंट्स की क्लास ली। डेमोक्रेसी इज फॉर्म द गवर्नमेंट का पाठ पढ़ाते हुए ऑफ द पीपल, बाय द पीपल, फ़ॉर द पीपल का महत्व बताया। एक छात्रा को सही उत्तर बताने पर अपनी तरफ से 100 रुपए का नकद पुरस्कार दिया।

अजमेर कलेक्टर बोले : मैं पूछूंगा बच्चों से सवाल
जिला कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित शनिवार को राजकीय महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूल वैशाली नगर व राजकीय विवेकानंद मॉडल अंग्रेजी माध्यम विद्यालय का निरीक्षण कर सीधे विद्यार्थियों से संवाद किया। शिक्षक मुकेश अग्रवाल और अजय शर्मा नेे बीच-बीच में विद्यार्थियों से सवाल पूछे तो तो कलेक्टर ने उन्हें कहा आप चुप रहिए, मुझे पूछने दीजिए।

कोटा : मंत्री के साथ थे कलेक्टर, एडीएम ने किया निरीक्षण
मुख्य सचिव के कार्यालय से कलेक्टर उज्ज्वल राठाैड़ के पास सुबह करीब 10 बजे मैसेज आया कि इस शनिवार का टास्क शहर के इंग्लिश मीडियम स्कूलाें का निरीक्षण करना है। जबकि कलेक्टर राठौड़ सुबह 9 बजे ही यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के साथ सुबह 9 बजे ही यूआईटी व स्मार्ट सिटी के चल रहे विकास कार्याें के निरीक्षण के लिए निकल गए थे। उन्हाेंने यह मैसेज एडीएम सिटी आर.डी. मीणा काे फाॅरवर्ड किया और स्कूलाें का निरीक्षण करने के लिए कहा।

इस पर एडीएम सिटी मीणा सुबह 11.30 बजे मल्टीपरपज स्कूल पहुंचे। 10वीं क्लास के पढ़ाई में सबसे तेज बच्चे के बारे में पूछा। मैडम ने उदयराज का नाम बताया। उदयराज से एक चैप्टर ट्रांसलेट करवाने को कहा, जो उसने कर दिया। इसके बाद वाेकेशनल स्कूल का दौरा किया और बच्चों से सवाल जवाब किए, उनकी समस्याएं सुनीं और कोरोना गाइडलाइन की पालना जांची।

जोधपुर : कलेक्टर ने पूछा-अंग्रेजी में कौन बात कर सकता ह‌ै‌?
महात्मा गांधी राउमावि तिंवरी, जोधपुर। जिला कलेक्टर इंद्रजीत सिंह दोपहर 2:28 बजे स्कूल पहुंचे और सीधे कक्षा 10 की छात्राओं से रूबरू हुए। क्लास में वे मोटिवेशन टीचर के रूप में नजर आए। कलेक्टर का पहला सवाल था, मुझसे अंग्रेजी में कौन-कौन बात करेगा? जवाब में वहां मौजूद 30 में से केवल एक छात्रा ममता गहलोत ने हाथ उठाया।

प्रिंसिपल जया राजपुरोहित ने बताया कि पिछले सत्र में ये सभी बालिकाएं हिंदी मीडियम में थीं। इस वर्ष से ही इंग्लिश मीडियम हुआ है, तब कलेक्टर ने बालिकाओं से हिंदी ओर इंग्लिश, दोनों में सवाल करने शुरू, जिनके जवाब भी मिले। कलेक्टर ने छात्राओं को मोटिवेट भी किया।

बीकानेर : बच्चों को पढ़ाया, आउट ऑफ सिलेबस क्वेश्चन पूछा...?
कलेक्टर नमित मेहता अचानक महात्मा गांधी गवर्नमेंट इंग्लिश मीडियम स्कूल में पहुंचे। 9वीं और 10वीं क्लास के बच्चों को भी पढ़ाया और उनसे सवाल-जवाब किए। 10वीं की हिंदी की क्लास में कलेक्टर ने समास और संधि में अंतर पूछा तो बच्चे नहीं बता पाए। टीचर ने कहा कि कोर्स में कटौती हुई है सर, संधि इनके सिलेबस में नहीं है।

9वीं की क्लास में छात्र रिशिता और प्रकाश व्यास से इंग्लिश की बुक की रीडिंग करवाई। कलेक्टर ने इंग्लिश मीडियम स्कूल में पढ़ रहे छात्र-छात्राओं को इंग्लिश में ही वार्तालाप करने की सलाह दी। महात्मा गांधी अंग्रेजी मीडियम स्कूल में छात्र-छात्राओं की उपस्थिति करीब 52% रही। कुल नामांकित 199 छात्रों में से 105 स्टूडेंट्स स्कूल पहुंचे।

झालावाड़ : विद्यार्थी मिले कम, अनुवाद नहीं कर सके
कलेक्टर हरिमोहन मीणा ने शनिवार को विभिन्न संस्थाओं का निरीक्षण किया। सबसे पहले कलेक्टर सुबह साढ़े 10 बजे राजकीय महात्मा गांधी उच्च माध्यमिक विद्यालय (कलेक्ट्री) पहुंचे। कोरोना के बाद स्कूल खुलने पर बच्चों की संख्या कम रहने पर इसे बढ़ाने के निर्देश दिए। इसके अलावा बच्चों से अंग्रेजी किताब पढ़वाई, लेकिन बच्चे अंग्रेजी का हिंदी में अनुवाद नहीं कर सके।

इस पर उन्होंने नाराजगी जताते हुए अंग्रेजी शिक्षकों को बच्चों का अंग्रेजी ज्ञान बढ़ाने पर जोर देने को कहा। एक सरकारी अस्पताल का निरीक्षण करते हुए वे वे दोपहर साढ़े 12 बजे कलेक्टर असनावर के स्वामी विवेकानंद राजकीय मॉडल स्कूल असनावर में पहुंचे। इस स्कूल में साइंस-मैथ विषय संचालित है, लेकिन दोनों सब्जेक्ट के टीचर स्कूल में मौजूद नहीं थे। इस पर कलेक्टर ने सीडीईओ व बीडीईओ को दोनों विषय के शिक्षकों की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

बूंदी : पूछा- हैप्पी टू कम हियर-वैरी हैप्पी या वैरी सेड
कलेक्टर आशीष गुप्ता ने शनिवार को दो गवर्नमेंट मॉडल स्कूलों का निरीक्षण किया। शहर के बालचंदपाड़ा में इंग्लिश मीडियम महात्मा गांधी गवर्नमेंट स्कूल और लाखेरी के इंग्लिश मीडियम स्वामी विवेकानंद मॉडल स्कूल का आकस्मिक निरीक्षण किया। वे शाम 4.25 बजे लाखेरी स्कूल पहुंचे, तब तक स्कूल की छुट्‌टी हो चुकी थी, वे केवल स्टाफ रुका था, वे थोड़े खफा होकर लौट गए।

बालचंदपाड़ा स्कूल में प्रिंसिपल ने कलेक्टर को बताया कि इंग्लिश मीडियम बनने के बाद स्कूल में एडमिशन बढ़ गए हैं, पर लिमिटेड सीट्स के कारण लॉटरी सिस्टम किया जाता है, इससे बहुत से इंटेलीजेंट बच्चे एडमिशन नहीं ले पाते, इसके लिए इंटरव्यू सिस्टम या एग्जाम होना चाहिए। कलेक्टर ने बच्चों से पूछा कि इतने दिन बाद स्कूल आकर क्या वे हैप्पी हैं या सेड। ज्यादातर बच्चों ने फ्रेंकली जवाब दिए। बच्चाें की नॉलेज जानकर खुश नजर आए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें