• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • The College Administrator Sent The Paper Of The Girl Sitting In The Examination By Taking A Photo From The Phone, Got The Teacher Solved, Gave The Center Back, Uncle Was Sitting Outside With 10 Lakhs

NEET का पेपर 35 लाख में बिका:परीक्षा में बैठी युवती का पेपर कॉलेज प्रशासक ने वॉट्सऐप किया, सीकर के 2 युवकों ने टीचर से सॉल्व करवा वापस भेजा

जयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में आरोपी।

जयपुर में NEET की परीक्षा का पेपर 35 लाख रुपए में परीक्षा सेंटर से ही आउट कर दिया गया। मोबाइल फोन से फोटो खींच कर सीकर में 2 युवकों को भेज दिया। उनके मोबाइल में प्रश्न पत्र भी मिले हैं। जयपुर पुलिस ने राजस्थान इंस्टीटयूट ऑफ इंजीनियरिंग एवं टेक्नोलॉजी में परीक्षा सेंटर से एक युवती सहित 8 लोगों काे गिरफ्तार किया है।

इनसे सेंटर के बाहर से ही पेपर को सॉल्व कराने का तय हुआ था। परीक्षार्थियों के परिजन बाहर गाड़ियों में 10 लाख रुपए लेकर बैठे थे।

डीसीपी ऋचा तोमर ने बताया कि राजस्थान इंस्टीटयूट ऑफ इंजीनियरिंग एवं टेक्नोलॉजी में नीट का परीक्षा सेंटर था। परीक्षा दोपहर दो बजे से शाम पांच बजे तक थी। एएसपी रामसिंह ने निर्देशन में एसीपी रायसिंह, भांकरोटा थानाधिकारी मुकेश चौधरी, चित्रकूट थानाधिकारी पन्नालाल जागिड़, डीएसटी वेस्ट इंचार्ज नरेंद्र कुमार की टीमें बनाई गई।

चाचा 10 लाख लेकर बाहर बैठे थे
कमरा नंबर 35 से रामसिंह ने बताया कि नवरत्न उसका परिचित है। वह बानसूर में राइफर डिफेंस एकेडमी चलाता है। उसका दोस्त अनिल यादव है और निवारू रोड पर ई-मित्र है। उनके पड़ोसी सुनील यादव की भतीजी धनेश्वरी का सेंटर आया है। उसका पेपर भेजने के लिए 35 लाख रुपए में डील हुई। उसका पेपर मोबाइल से फोटो खींच कर भेजा गया। उसके चाचा 10 लाख रुपए लेकर गाड़ी में बैठे थे।

पुलिस ने 10 लाख रुपए जब्त किए
पंकज यादव व संदीप ने प्रश्नपत्र को हल करके रामसिंह व कॉलेज प्रशासक मुकेश सामोता को आंसर शीट भेजी। उसका प्रिंट लेकर मुकेश सामोता धनेश्वरी को दे दिया। पुलिस ने धनेश्वरी से प्रश्नपत्र व आंसरशीट जब्त कर ली। रामसिंह से हार्डकॉपी बरामद की। बाहर बैठे चाचा सुनील, ईमित्र संचालक अनिल यादव, नवरत्न यादव को पकड़ लिया। पुलिस ने 10 लाख रुपए जब्त कर लिए।

रामसिंह व मुकेश सामोता ने मोबाइल से पकंज को पेपर भेजा था। पकंज यादव ने सीकर में सुनील रिणवां व दिनेश बेनीवाल को मोबाइल पर उस पेपर को भेज दिया। उन्होंने कुशल टीचर से पेपर सॉल्व कराया। पेपर जयपुर व सीकर में लीक करवा दिया गया। अब पुलिस की टीम सुनील व दिनेश को पकड़ने सीकर रवाना हो गई।

इनकी हुई गिरफ्तारी
पुलिस ने मुकेश कुमार (30) पुत्र हरीसिंह निवासी जयरामपुरा श्रीमाधोपुर सीकर, राम सिंह (30) पुत्र बनवारीलाल निवासी कुडि़यों की ढाणी, खंडेला सीकर, धनेश्वरी यादव (18) पुत्री अनिल यादव निवासी निवारू रोड करधनी, सुनील यादव (35) पुत्र रामकुमार निवासी निवारू रोड करधनी, नवरत्न स्वामी (31) पुत्र रामलखन निवासी लसाड़िया श्रीमाधोपुर सीकर, अनिल यादव (30) पुत्र शंभूदयाल निवासी कोटपूतली, संदीप (23) पुत्र फूलाराम निवासी जयरामपुरा श्रीमाधोपुर सीकर, पकंज यादव (26) पुत्र ओमप्रकाश निवासी महरोली रींगस सीकर को गिरफ्तार किया है।

खबरें और भी हैं...