पुलिस की मिलीभगत से मसाज के नाम पर गंदा खेल:महीने में 3-4 बार हफ्ता लेने जाता था कॉन्स्टेबल, सस्पेंड होने पर कई और नामों का खुलासा

जयपुर6 महीने पहले

बाड़मेर में पुलिस की मिलीभगत से स्पा सेंटरों में सेक्स रैकेट चलाने का खुलासा हुआ है। मामला सामने आने के बाद एसपी ने दो कॉन्स्टेबलों को सस्पेंड कर दिया है। सस्पेंड हुए कॉन्स्टेबल ने डीएसपी के गनमैन के वसूली का वीडियो दिखाया। जिसके बाद उसे भी लाइन हाजिर किया गया है। जिले के बालोतरा और पचपदरा इलाके में कुछ महीनों के भीतर ही ऐसे दर्जनों स्पा सेंटर खुल गए हैं। बीते दिनों संचालत समेत कई युवतियों को हिरासत में लिया गया था।

लंबे समय से चल रहा था वसूली का खेल

जिले के बालोतरा व पचपदरा में स्पा सेंटरों से हफ्ता वसूली का खेल सामने आया है। बालोतरा नया बस स्टैंड पर संचालित स्पा सेंटर पर दबिश में कॉन्स्टेबलों की भूमिका संदिग्ध पाई गई। बालोतरा डीएसपी की रिपोर्ट पर दो कॉस्टेबलों को सस्पेंड कर दिया। सस्पेंड कॉन्स्टेबलों ने खुद को निर्दोष बताते हुए डीएसपी के गनमैन पर आरोप लगाए। एसपी ने गनमैन को भी लाइन हाजिर कर दिया।

मसाज के नाम पर चलता है सेक्स रैकेट

दरअसल, बालोतरा व पचपदरा इलाके में बीते कुछ महीनों में दर्जनों स्पा सेंटर खुल गए हैं। इनमें से काफी संख्या में स्पा सेंटरों पर मसाज के नाम पर सेक्स रैकेट चल रहे हैं। डीएसपी ने बीते दो माह में 4-5 सेंटरों पर कार्रवाई भी की है।

गिरफ्तार हुए थे संचालक और दो युवती

31 जनवरी को बालोतरा के नया बस स्टैंड पर संचालित स्पा सेंटर पर डीएसपी ने डमी कस्टर भेजकर स्पा सेंटर के संचालक व दो युवतियों को गिरफ्तार किया था। इससे पहले 4 दिसंबर 2021 को नया बस स्टैंड पर संचालित दूसरे स्पा सेंटर व पचपदरा बायपास मार्ग पर स्थित स्पा सेंटर पर दबिश देकर एक दर्जन से अधिक युवक-युवतियों को हिरासत में लिया था। इस दौरान एक स्पा सेंटर संचालक ने एक कॉन्स्टेबल को हफ्ता देने की बात कही। वहीं, दूसरे स्पा सेंटर से प्राप्त सीडीआर व वीडियो में एक कॉन्स्टेबल एक ही महीने में तीन-चार बार स्पा सेंटर पर आता-जाता नजर आया। इसके बाद डीएसपी धनफूल मीणा ने स्पा सेंटर संचालक से मिलीभगत का हवाला देते हुए दोनों कॉन्स्टेबल के खिलाफ कार्रवाई की।

डीएसपी की रिपोर्ट पर कॉन्स्टेबल संस्पेंड

पूरे मामले में डीएसपी धनफूल मीणा की रिपोर्ट के आधार पर एसपी दीपक भार्गव ने पचपदरा थाने के कॉन्स्टेबल चैनाराम व कल्याणपुर थाने के दुर्गाराम को सस्पेंड कर दिया। इस दौरान दोनों ने एसपी के सामने हफ्ता वसूली के खेल को पूरी तरह से उजागर कर दिया। उन्होंने डीएसपी धनफूल मीणा के गनमैन सुरेंद्र कुमार मीणा के दो स्पा सेंटर संचालकों से किए गए लेन-देन का वीडियो व रिकॉर्डिंग एसपी को दिखाई। इसके बाद एसपी ने गनमैन को लाइन हाजिर कर दिया।

भास्कर पड़ताल: स्पा सेंटर संचालक ले रहे गारंटी,बोले-हफ्ता देते हैं, यहां पुलिस नहीं आती

पुलिस व स्पा के बीच चल रहे इस खेल की हकीकत जानने के लिए भास्कर टीम ने अलग-अलग स्पा सेंटरों पर स्टिंग कर कस्टमर बनकर बात की। स्पा सेंटर की एक मैनेजर ने कहा कि हम तो पुलिस को रुपए देते हैं। जो रुपए नहीं देते हैं, उन पर कार्रवाई होती है। हमारे यहां पूरी सेफ्टी है, पुलिस का कोई डर नहीं।

गनमैन ने रुपए लिए, बाद में वापस लौटा दिए और कहा अब नंबर डिलीट कर दो

भास्कर टीम ने पड़ताल की तो सामने आया कि डीएसपी ने 4 दिसंबर 2021 को बालोतरा के नया बस स्टैंड पर संचालित सनसिटी व बायपास मार्ग पर स्थित पायल स्पा सेंटर में रेड मारी थी। इसमें किसी पुलिसकर्मी के हफ्ता लेने के बारे में पूछताछ की तो नया बस स्टैंड पर संचालित स्पा सेंटर संचालक ने एक कॉन्स्टेबल को हफ्ता देने की बात कबूली। वहीं, पायल स्पा सेंटर में लगे सीसीटीवी फुटेज व सीडीआर खंगाली तो एक कॉन्स्टेबल स्पा सेंटर पर एक महीने में तीन से चार बार आता-जाता नजर आया। इधर, डीएसपी के गनमैन सुरेंद्र कुमार के पचपदरा रोड़ शनिदेव मंदिर स्थित एक स्पा सेंटर व नया बस स्टैंड स्थित स्पा सेंटर दोनों ही जगहों पर रुपए लेने की बात सामने आई। हालांकि दूसरे दिन गनमैन ने दोनों संचालकों को अधिकारी के रुपए नहीं लेने की बात कहते हुए रुपए वापस लौटा दिए। रुपयों की इस लेन-देन का वीडियो स्पा सेंटर से कॉन्स्टेबल ने जुटा लिया। एसपी के सामने बात आने के बाद गनमैन को लाइन हाजिर कर दिया।

डीएसपी बोले- मैं अपने ऑफिस की चीजें नहीं बता सकता

डीएसपी धनफूल मीणा से जब इस संबंध में पूछा तो उन्होंने कहा कि मैं अपने ऑफिस की चीजें नहीं बता सकता हूं। यह उच्चाधिकारियों से जानकारी लो। इसके बाद फोन काट दिया।