पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मेयर-कमिश्नर में विवाद का मामला:मंत्री के जांच की दिशा ही सही नहीं, विवाद की जांच आरएएस को सौंपी

जयपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बयान के लिए रिक्वेस्ट करेंगे, नहीं देंगे तो तथ्य के आधार पर रिपोर्ट भेजेंगे: जांच अधिकारी

मेयर-कमिश्नर में मचे बवाल को लेकर यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने जो जांच सौंपी है, उसका दिशा सही नहीं मानी जा रही। यह जांच डीएलबी में आरएएस रेणू खंडेलवाल के पास है। सवाल उठता है कि कोई जूनियर कैसे आईएएस और मेयर की भूमिका तय करेगा।

कमिश्नर ने भी डीएलबी को पत्र लिख हाथापाई करने वाले पार्षदों पर कार्रवाई की सिफारिश की है। डीएलबी अधिकारियों का कहना है फिलहाल मंत्री के आदेश पर रिपोर्ट मांगी गई है। इसके बाद सरकार स्तर पर ही कुछ संभव होगा।

रेणू खंडेलवाल, डि.डायरेक्टर. रीज. डीएलबी-

Q. आईएएस और मेयर मामले की जांच कैसे करेंगे?
-जो सरकार और विभाग के निर्देश..।

Q. ऐसे सीनियर की जांच में आसान तो नहीं होता होगा ना?
-बयान के बाद रिपोर्ट देनी है। बयान के लिए रिक्वेस्ट करेंगे। देना चाहें तो बहुत अच्छी बात, नहीं तो तथ्य आएंगे उसके आधार पर रिपोर्ट बना देंगे।

मेयर-कमिश्नर मामले की जांच आरएएस को?
मामले पर निर्णय तो सरकार को लेना है। जांच अधिकारी को फैक्चुअल रिपोर्ट देनी है। जल्द रिपोर्ट आएगी। हां, कमिश्नर ने भी हाथापाई करने वाले पार्षदों पर कार्रवाई की मांग की है। -दीपक नंदी, डायरेक्टर, डीएलबी

खबरें और भी हैं...