गैस टंकी काटते समय लगी आग, 2 की मौत:सिलेंडर में भरी गैस से 20 फीट दूर तक पहुंचा भभका, कुल 6 झुलसे

जयपुर4 महीने पहले
हसनपुरा में गैस टंकी काटते समय भभकी आग में 6 झुलसे।

जयपुर के हसनपुरा में कार की गैस टंकी काटते समय सोमवार देर शाम आग लग गई। ग्लाइडर से निकली चिंगारी से भभके सिलेण्डर से आग 20 फीट दूर स्थित मकान तक पहुंच गई। आग की लपटों की चपेट में आने से बाहर बैठी बुजुर्ग महिला, उसके पौते-पौती सहित सिलेंडर काटने वाला तक झुलस गया। हादसे में झुलसे 6 लोगों को SMS हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। गंभीर हालत में भर्ती हुए एक बच्ची सहित दो लोगों की मौत हो गई।

पुलिस ने बताया कि हसनपुरा निवासी फरीद भाई की राजीव नगर में कबाड़ की दुकान है। शाम करीब 6:30 बजे फरीद का बेटा जुबीन कार की गैंस टंकी को काट रहा था। टंकी में गैस भरी हुई थी। ग्लाइडर से टंकी काटते से निकली चिंगारी से सिलेंडर धधक गया। सिलेण्डर में लगी आग की लपटे सामने रहने वाले अब्दुल हमीद के मकान तक पहुंच गई। हादसे के समय हमीद की पत्नी महरून निशा पौते-पोती के साथ घर के बाहर थी। आग से महरून निशा (60) , उसके पौते-पोती अबु बकर (3), फैजान (5), असरा (10), खुशी (6), बुसरा (6), बिन्नी (3) और कबाड़ी फरीद का बेटा जुबीन (20) झुलस गया।

आग से बच्चों के झुलसने के पता चलने के बाद इकट्ठा हुए स्थानीय लोग।
आग से बच्चों के झुलसने के पता चलने के बाद इकट्ठा हुए स्थानीय लोग।

लोगों ने पहुंचाया हॉस्पिटल
सिलेण्डर काटते समय लगी आग से झुलसने पर हंगामा मच गया। स्थानीय लोगों ने तुरंत पुलिस और दमकल विभाग को सूचित किया। सूचना पर पुलिस के पहुंचने से पहले ही पानी डालकर आग पर काबू पा लिया गया। पुलिस ने आग से मामूली झुलसी असरा को घर पर प्राथमिक उपचार दिलवाया। वहीं, झुलसे 4 बच्चों सहित छहों लोगों को तुरंत एसएमएस हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया। डॉक्टर के अनुसार भर्ती बच्चे करीब 10 से 35 फीसदी तक झुलसे है। कबाड़ी का बेटा जुबीन और महिला महरून 50 फीसदी तक झुलसे है। झुलसे दो को गंभीर हालत में भर्ती किया गया था। जिसमें बुसरा (6) पुत्री जावेद और महरून निशा (60) की इलाज के दौरान मौत हो गई। मौके पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया है।

आग से 4 बच्चों सहित 6 झुलसे:गैस किट का सिलेंडर वेल्डिंग करते समय धधका, हॉस्पिटल में कराया भर्ती