• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • The Minor Victim Was Raped More Than Once By The Step brother, When The Father Told The Matter, The Daughter Was Taken Out Of The House.

ये कैसा परिवार:नाबालिग पीड़िता के साथ सौतेले भाई ने एक से ज्यादा बार किया दुष्कर्म, पिता को बात बताई तो बेटी को घर से निकाला

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पॉक्सो कोर्ट ने दुष्कर्मी सौतेले भाई को उम्रकैद की सजा सुनाई गई। - Dainik Bhaskar
पॉक्सो कोर्ट ने दुष्कर्मी सौतेले भाई को उम्रकैद की सजा सुनाई गई।

जिले की पॉक्सो मामलों की विशेष कोर्ट ने बहन से कई सालों तक दुष्कर्म करने वाले अभियुक्त सौतेले भाई को उम्रकैद व तीन लाख रुपए जुर्माने की सजा दी है। कोर्ट ने कहा कि अभियुक्त को बाकी जीवन भी जेल में ही रखा जाए। पॉक्सो कोर्ट के जज संदीप कुमार शर्मा ने यह आदेश बुधवार को दिया। कोर्ट ने कहा कि आरोपी ने सौतेले भाई होते हुए भी 16 साल से कम उम्र की नाबालिग पीड़िता जिसके मां नहीं है के साथ एक से ज्यादा बार दुष्कर्म किया है।

यह जानकारी पीड़िता के पिता के ध्यान में आने पर पिता ने भी उसे मारपीट कर उसे घर से निकाल दिया और उसे मानसिक तौर पर बीमार करार देने की कोशिश की गई। जिस पर पीड़िता अपने चाचा के घर रही और उसे हैल्पलाइन की मदद लेनी पड़ी। मामले में पीड़िता की मौखिक गवाही व मेडिकल रिपोर्ट पर्याप्त साक्ष्य हैं। आरोपी का कृत्य बहुत ही गंभीर व घृणित है और उसके लिए कोई नरमी नहीं बरती जा सकती।

लोक अभियोजक विजया पारीक ने बताया कि 27 अक्टूबर 2017 को पीडिता ने फागी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसमें कहा कि उसके पिता की दो शादियां हो चुकी हैं और दोनों ही पत्नियों की मौत हो चुकी है। पीडिता उसके पिता की दूसरी पत्नी से हुई संतान है। पीडिता की सौतेली मां का बेटा बचपन से उसके साथ दुष्कर्म कर रहा है और आए दिन मौका पाकर दुष्कर्म करता रहता है।

इसकी जानकारी परिजनों को देने पर उन्होंने उसके साथ मारपीट की और उसे पागल करार घोषित करने की तैयारी भी कर ली। इस दौरान पिता ने उसे घर से निकाल दिया और वह चाचा के घर रहने लगी। बाद में महिला हेल्प लाइन की मदद से इलाज कराया और एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस ने पीड़िता की रिपोर्ट पर कार्रवाई करते हुए आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर कोर्ट में चालान पेश किया।

खबरें और भी हैं...