राजस्थान पुलिस में इन MP-MLA का खौफ:डरे SHO ने ट्रांसफर कराया, पीड़ित AEN के पिता बोले- क्या आकाशवाणी के बाद गिरफ्तार होगा मलिंगा?

जयपुर4 महीने पहलेलेखक: राकेश गुसाई

‘पुलिस बहाना बना रही है कि विधायक के खिलाफ सबूत नहीं मिले। मैं जानना चाहता हूं कि जिन 5 लोगों को पकड़ा है, उनके खिलाफ आकाशवाणी हुई थी क्या? वो आम लोग थे, इसलिए पकड़ लिया। एक विधायक है, तो नहीं पकड़ा। CM कह रहे हैं- 6 फ्रैक्चर हैं तो क्या 6 फ्रैक्चर पर कार्रवाई नहीं करेंगे। मलिंगा की गिरफ्तारी के लिए क्या आकाशवाणी होगी’

ये दर्द उस पिता का है, जिसका बेटा पिछले 14 दिन से हॉस्पिटल में है। धौलपुर के बाड़ी में AEN हर्षादिपति को पीटने के मामले में कांग्रेस विधायक गिर्राज मलिंगा पर 307 का मुकदमा तो दर्ज हुआ, पर गिरफ्तारी नहीं हुई है। इसी केस में शामिल 5 आरोपियों की गिरफ्तारी में फुर्ती दिखाई गई, पर मलिंगा पर हाथ डालने से पुलिस कतरा रही है।

दैनिक भास्कर की पड़ताल में साफ हुआ कि यह राजस्थान का पहला मामला नहीं है। इससे पहले राजस्थान में विधायक और सांसदों के खिलाफ अलग-अलग थानों में 64 से अधिक मामले दर्ज हैं। कई मामलों में हत्या के प्रयास तो कई में रेप की धाराएं हैं, जिनकी जांच CID CB के पास है। पीड़ित परिवार आज भी दहशत में जी रहा है। ऐसे परिवारों तक भास्कर पहुंचा और उनका दर्द जाना। कोई पीड़ित परिवार डिप्रेशन में चला गया है तो किसी ने अपना ट्रांसफर करा लिया है। 16-16 साल पुराने मामलों में पुलिस चालान तक पेश नहीं कर पाई है। संडे बिग स्टोरी में पढ़िए ऐसे केस, जिसमें पुलिस की सारी सक्रियता खत्म हो जाती है।

ग्राफिक्स : तरुण शर्मा