ऑनलाइन लोन ऐप से बिजनेसमैन के साथ ब्लैकमेलिंग:एडिट कर महिला फ्रेंड की न्यूड फोटो परिजनों को भेजी, पिता को हार्टअटैक

जयपुर5 महीने पहले

जयपुर में ऑनलाइन ऐप से रुपए निकालने पर बिजनेसमैन को ब्लैकमेल करने का मामला सामने आया है। एडिट कर उसकी फीमेल फ्रेंड की न्यूड फोटो परिजनों को भेज दी। फ्रेंड को बदनाम करने की धमकी देकर पैसे मांगे। रुपए नहीं देने पर लड़की की फोटो उसके माता-पिता को भेज दी। इससे लड़की के पिता को हार्ट अटैक आ गया। फिलहाल वह जयपुर के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं।

घटना श्याम नगर थाना इलाके में रहने वाले विदर्भ व्यास के साथ हुई है। वह सरसों के तेल की फैक्ट्री चलाते हैं। उनके पास एक ऐप का नोटिफिकेशन आया था कि दत्ता रुपी ऐप तुरंत पैसा देती है। इस पर विदर्भ ने 22 जून को ऐप डाउनलोड कर कॉन्टैक्ट्स की परमिशन दे दी। सभी ऑप्शन को एक्सेप्ट कर लिया। इससे ऐप के पास सभी कॉन्टैक्ट्स और पर्सनल डाटा चला गया। इसके बाद विदर्भ के खाते में दो बार साढ़े 3 हजार रुपए आ गए।

इस तरह से ऑनलाइन लोन ऐप की ओर से कुल 7000 रुपए विदर्भ के अकाउंट में क्रेडिट कर दिए गए। फिर कुछ घंटों बाद कॉल आने लग गए कि पैसे लौटाने होंगे। धमकाया कि तुम्हारे सभी नंबरों पर अश्लील वीडियो भेजकर उन्हें बता दूंगा की तुमने पैसा लिया है। अब नहीं दे रहे हो। इस पर विदर्भ ने 7 हजार रुपए लौटा दिए, लेकिन ऐप वाले फिर भी 7 हजार रुपए और मांगते रहे।

विदेश में पढ़ रही महिला दोस्त को भेजे मैसेज

ऐप की ओर से एक युवक ने धमकाया कि आपके परिवारवालों के मोबाइल पर अश्लील वीडियो और फोटो डालने वाले हैं। अगर पैसा नहीं दिया तो उम्हें बदनाम कर देंगे। विदर्भ की महिला दोस्त विदेश में पढ़ाई करती है। उसकी फोटो एडिट कर उसे न्यूड कर दी। साथ में लिखा- तुम्हारे दोस्त ने पैसा लिया है। अब पैसा देने से मना कर रहा है। जगतपुरा में रहने वाले युवती के पिता को वही न्यूड फोटो भेज दी। बेटी की ऐसी हालत में देखकर 23 जून की सुबह उन्हें हार्ट अटैक आ गया। उनका फोर्टिस अस्पताल में इलाज चल रहा है।

पीड़ित 12 से अधिक कॉल ब्लॉक कर चुका, साइबर क्राइम ब्रांच में दी कंप्लेंट

परेशान होकर विदर्भ ने 23 जून को पूरी जानकारी साइबर क्राइम ब्रांच को दी। इसके बावजूद मैसेज आने बंद नहीं हुए। विदर्भ ने बताया कि हर दिन सैकड़ो लोगों के फोन आ रहे हैं। पैसा दो नहीं तो और किसी को बदनाम करेंगे। साइबर थाना पुलिस ने विदर्भ को श्याम नगर थाने भेज दिया। वहां पहले से ऐसी ठगी से परेशान 24 से अधिक लोग मौजूद थे। मामले की जांच की जा रही है।