पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • There Will Not Be Lockdown In The Entire Jaipur City, The Ban Will Be Within 100 Meters Of The Corona Positive Patient's Home.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर एक्सक्लूसिव:जयपुर में नहीं लगेगा लॉकडाउन, एक संक्रमित मिलने पर घर से 100 मीटर एरिया ही बनेगा कंटेनमेंट जोन - कलेक्टर

जयपुर2 महीने पहलेलेखक: विष्णु शर्मा
  • कॉपी लिंक
  • गृह विभाग की रविवार रात को जारी नई गाइड लाइन में 31 दिसंबर तक लॉकडाउन के दिए थे निर्देश
  • जयपुर में कलेक्टर कल लेंगे पुलिस कमिश्नरेट, चिकित्सा एवं प्रशासनिक अधिकारियों की मीटिंग

राजस्थान में तेजी से बढ़ते कोरोना केसों को देखते हुए सरकार ने फिर से सख्ती बरतना शुरु कर दिया है। इस बीच रविवार देर रात को गृह विभाग ने कोरोना महामारी को लेकर नई गाइड लाइन जारी की। इसमें सबसे अहम बात थी कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए कन्टेनमेंट जोन में 31 दिसंबर तक सख्त लॉकडाउन लगाया जाएगा।

इसके लिए राज्य सरकार ने सभी जिला कलेक्टर्स को फ्री हैंड दे दिया है कि वे माइक्रो लेवल पर जानकारी जुटाकर कन्टेनमेंट एरिया चिन्हित कर लॉकडाउन करें। इसके बाद आमजन में लॉकडाउन को लेकर फिर से संशय पैदा हो गया कि क्या पहले जैसा ही लॉकडाउन होगा। इसमें क्या पाबंदी होगी। कंटेनमेंट जोन कौनसा होगा।

पाठकों के इसी सवाल का जवाब जानने के लिए भास्कर संवाददाता ने जयपुर के कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा से बातचीत की।

पहला सवाल: कंटेनमेंट जोन का दायरा क्या होगा

जवाब: कंटेनमेंट जोन का दायरा निश्चित नहीं है। किसी इलाके में कोरोना का एक पॉजिटिव केस आता है तो शहरी क्षेत्र में उस कॉलोनी, मोहल्ले या वार्ड की सीमा के अंदर कम से कम 100 मीटर में कंटेनमेंट घोषित किया जा सकता है। यह सीमा उस मकान से होगी। जहां कोरोना का मरीज और उसका परिवार रहता है। एक कॉलोनी में अलग अलग जगहों पर आठ से दस केस आने या फिर कई घरों में कोरोना संक्रमित केस मिलने पर उस जगह को हॉटस्पॉट घोषित होने पर 500 मीटर से एक किलोमीटर के दायरे को कंटेनमेंट घोषित किया जा सकता है।

सवाल: कंटेनमेंट जोन में सख्ती के दौरान क्या-क्या पाबंदियां रहेंगी

जवाब: कन्टेनमेंट जोन में चिकित्सा, आवश्यक वस्तुओं और आपात परिस्थिति में ही बाहर निकलने की छूट मिलेगी। इसके लिए वहां निगरानी ड्यूटी में मौजूद पुलिसकर्मियों या पुलिस थाने से परमिशन लेनी होगी। कंटेनमेंट जोन के अन्दर और बाहर व्यक्तियों का आवागमन चिकित्सा, आपात स्थिति, आवश्यक वस्तुओं (दूध, राशन, खाना) और आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति के अलावा नहीं होगा। आपात परिस्थितियों को छोड़कर बाहरी व्यक्ति का प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

सवाल: कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन कितने दिन का रहेगा

जवाब: कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन कम से कम 7 दिन और अधिकतम 14 दिन का होगा। जब तक कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति की रिपोर्ट नेगेटिव नहीं आती है और उसकी क्वारेंटाइन अवधि पूरी नहीं होगी। तब लॉकडाउन में लगी पाबंदी उस जोन में जारी रहेगी। पुलिसकर्मी निगरानी रखेंगे। मेडिकल टीम वहां फोन कर और दौरा कर जानकारी जुटाएंगी। मरीज का क्वारेंटाइन खत्म होने पर पुलिस स्वास्थ्य विभाग को सूचना देगी। तब मेडिकल टीम उस मरीज और परिजनों की सैंपल लेंगी।

सवाल: कंटेनमेंट जोन में एक ही व्यक्ति के पॉजिटिव आने पर क्या होगा

जवाब: माना किसी कॉलोनी, मोहल्ले या बस्ती में एक ही व्यक्ति पॉजिटिव आता है तो उसे भी सख्त हिदायत देकर पाबंद किया जा सकता है कि घर में रहने वाला मरीज और उसके परिजन क्वारेंटाइन अवधि में घर से बाहर नहीं निकलेंगे। उनके घर के बाहर स्टीकर चस्पा किया जाएगा। आवश्यकता होने पर पुलिसकर्मी भी निगरानी के लिए बैठाए जाएंगे।

सवाल: कंटेनमेंट जोन में ट्रेसिंग कैसे होगी

जवाब: ऐसे व्यक्ति जो कोविड पॉजिटिव पाये गये हैं, उनके संपर्क में आने वाले सभी लोगों की मेडिकल टीम और पुलिस की संयुक्त टीम सूची बनाएगी। इसके बाद उनकी ट्रैकिंग, पहचान की जाएगी। फिर उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारेंटाइन किया जायेगा। कोविड पोजिटिव पाये गये व्यक्ति के संपर्क में आने वाले सभी लोगों में से कम-से-कम 80 प्रतिशत की 72 घंटे में पहचान आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। नियमों का उल्लंघन करने पर महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।

सवाल: कंटेनमेंट जोन को लेकर क्या दिक्कतें आएंगी

जवाब: पहले जयपुर में केस कम आ रहे थे तो कंटेनमेंट जोन में कर्फ्यू की पालना अच्छे से होती थी। पुलिस, मेडिकल टीम, सर्वे कर्मचारी की टीम काफी थी। लेकिन अब जयपुर में रोजाना करीब 50 जगहों पर 600 केस रोजाना आ रहे है। इस बीच पुलिस, प्रशासन और मेडिकल टीमों में ड्यूटी देने वाले भी काफी अधिकारी कर्मचारी खुद कोरोना संक्रमित हो चुके है। ऐसे में स्टाफ की कमी आ सकती है। इसलिए लोगों से अपील है कि कोरोना पॉजिटिव आने पर वे खुद एक सभ्य नागरिक होकर जागरुक बनें और कन्टेंनमेंट जोन में लॉकडाउन के नियमों की पालना कर प्रशासन को सहयोग करें।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser