जयपुर में गैंगवार का वीडियो निकला फर्जी:मारपीट, फायरिंग और हथियारों दिखने पर मौके पर दौड़ पड़े अधिकारी, जांच में पता चला यहां का नहीं

जयपुर4 महीने पहले

जयपुर में शेयर किए जा रहे एक वीडियो ने सोमवार को पुलिस अधिकारियों में हड़कंप मचा दिया। वीडियो ट्रांसपोर्ट नगर टनल में गैंगवॉर का बताया जा रहा था। इसके बाद कई अधिकारी टनल का मौका मुआयना करने पहुंचे। टनल की जांच करने पर पता चला की वीडियो जयपुर का नहीं है। इसके बाद पुलिस ने राहत की सांस ली।

वीडियो में हिंसक मारपीट, फायरिंग, एक दूसरे पर वाहन चढाने का प्रयास और हथियार लहराते हुए युवक दिखाई दे रहे हैं। वीडियो देख कर लगता है कि यह जयपुर के टनल का वीडियो है। इसके बाद सोशल मीडिया पर लोग जम कर इस वीडियो को शेयर करने लगे। पुलिस कंट्रोल रूम में भी फोन कर के घटना की जानकारी मांग रहे है। इसके बाद पुलिस ने इसे पूरी तरह फर्जी करार दिया

वीडियो जयपुर टनल का नहीं है, वायरल ना करें
घटना की गम्भीरता को देखते हुए ट्रांसपोर्ट नगर सीआई ग्यासुद्दीन से जानकारी ली गई। उनका कहना है कि यह वीडियो ट्रांसपोर्ट नगर टनल का नहीं है। वह नहीं जानते की वीडियो कहां का है। जयपुर का नहीं है। जो लोग वीडियो को वायरल कर रहे हैं, वह ऐसा ना करें। वीडियो को देख कर लोगों में डर फैल रहा है। अगर किसी ग्रुप में यह वीडियो डाला गया तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। ऐसे वीडियो से लोग परेशान होते हैं। डर का माहौल बनता है। कुछ असामाजिक तत्व वीडियो वायरल कर लोगों को परेशानी में डाल रहे हैं। जयपुर में ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है।

उदयपुर का है वीडियो
वीडियो उदयपुर में नाथद्वारा हाइवे NH 8 पर चीरवा टनल के अंदर महाशिवरात्रि का बताया जा रहा है। जहां कुछ युवाओं ने जमकर उत्पात मचाया। एक युवक ने पिस्टल लहराते हुए फायर भी किए। सुखेर (उदयपुर) थानाधिकारी दलपत सिंह राठौड़ ने बताया कि वीडियो हमे भी मिला हैं। वीडियो चीरवा टनल का ही है। बीते 3-4 दिनों में चीरवा क्षेत्र में झगड़े या मारपीट जैसे कोई मामला भी थाने में दर्ज नहीं हुआ है।

खबरें और भी हैं...