रीट लॉकडाउन रखें:आज जयपुर मेजबान; आना-जाना-खाना सब फ्री, 25 पुलिस सहायता केंद्र भी बनाए गए

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रविवार को रीट है। - Dainik Bhaskar
रविवार को रीट है।

रविवार को रीट है। प्रदेश के विभिन्न शहरों से करीब ढाई लाख परीक्षार्थी 592 केंद्रों में परीक्षा देंगे। शहर में शनिवार रात से कॉमर्शियल वाहनों की एंट्री रोक दी गई है। सिर्फ पैसेंजर वाहन आ सकेंगे। पुलिस, प्रशासन और रोडवेज ने परीक्षा शांतिपूर्ण कराने के लिए तैयारी की है। ट्रैफिक पुलिस ने 160 पॉइंट पर जवान तैनात किए हैं, जो परीक्षार्थियों की बस से सेंटर तक पहुंचने में मदद करेंगे।

डीसीपी ट्रैफिक श्वेता धनखड़ का कहना है 25 पुलिस सहायता केंद्र भी बनाए गए हैं। यहां ट्रैफिक पुलिस कर्मचारी के साथ-साथ रोडवेज कर्मी भी तैनात हैं। ट्रैफिक दबाव को देखते हुए 11 नाके बनाए गए हैं। इन नाकों से भारी वाहनों का प्रवेश रोका जाएगा या फिर डायवर्जन होगा। परीक्षार्थी उसी स्थान से बस पकड़ें, जहां उतरे हैं। यह आदेश सोमवार सुबह तक प्रभावी रूप से लागू रहेगा।

  • 2.5 लाख परीक्षार्थी शहर में हैं, बहुत जरूरी हो, तभी घर से निकलें
  • जयपुर में नेटबंदी; 70 लाख लोगों पर असर
  • खाना; दोनों निगमों में 20 इंदिरा रसोई से फ्री मिलेगा
  • आना-जाना; 5 जगह अस्थायी बस स्टैंड, मेट्रो और 273 लो-फ्लोर बसें फ्री, मदद के लिए 185 पॉइंट बने

शहर में 2 दिन तक भारी वाहनों की नो एंट्री

आरटीओ ने शहर में 5 अस्थायी बस स्टैंड बनाए। 25 से 27 सितंबर तक यहीं से बसें चलेंगीं। हर स्टैंड पर डीटीओ प्रभारी है। दो दिन भारी वाहनों की नो एंट्री और मुख्य सड़कों पर पार्किंग बैन रहेगी।

  • ट्रांसपाेर्ट नगर टनल सर्किल, आगरा राेड बस स्टैंड पर अस्थायी बस स्टैंड बनाया गया है...

प्रभारी: धर्मपाल आसीवाल - 9414248538

  • सूरजपाेल मंडी, दिल्ली राेड

प्रभारी: सविता भारद्धाज - 9460074410

  • तारा की कूट, टाेंक राेड

प्रभारी: राजीव त्यागी - 9414163322

  • बदरवास, नारायण विहार माेड, अजमेर राेड

प्रभारी: गौरव यादव - 9024593123

  • विधाधर नगर स्टेडियम,

प्रभारी: राजीव चौधरी - 9610251818

  • मेट्रो का समय बढ़ाया; 25 से 26 सितंबर तक मेट्रो सुबह 5:20 बजे से रात 11:59 बजे तक एक-एक घंटा ज्यादा चलेगी। प्रवेश-पत्र दिखाने पर मेट्रो में फ्री सफर कर सकेंगे। यात्रा कर सकेंगे। यह सुविधा 25 से 26 सितंबर को रहेगी।
  • लो-फ्लोर- 273 लो-फ्लोर बसें हर अस्थायी बस स्टैंड पर सुबह 5 से रात 11 बजे तक चलेंगी। अभ्यर्थी प्रवेश-पत्र दिखाकर फ्री यात्रा कर सकेंगे।
  • ट्रेनें- प्रदेश के चारों मंडलों में 52 एग्जाम स्पेशल ट्रेनें चलाईं, 50 ट्रेनों में बढ़ाए 4464 कोच।

भोजन के 32 हजार पैकेट बनेंगे

नगर निगम ने नि:शुल्क भोजन व ठहरने की व्यवस्था कर दी है। ग्रेटर व हेरिटेज दोनों नगर निगम क्षेत्र में संचालित 10-10 इंदिरा रसोई से नि:शुल्क भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। भोजन पैकेट सुबह 8:30 से रात 8 बजे तक मिलेंगे। ठहरने के लिए सामुदायिक केंद्राें की सफाई करा दी गई है। प्रत्येक में रोजाना 600 लोगों का खाना बनता है। प्रति रसोई 1000 पैकेट अतिरिक्त तैयार होंगे।

यानि दोनों निगम 32 हजार अभ्यर्थियों के लिए भोजन पैकेट तैयार करेंगे। ग्रेटर निगम के अतिरिक्त आयुक्त बृजेश चंदोलिया ने बताया कि प्रत्येक रसोई पर 1600 लोगों का भोजन तो बनेगा ही। इसके बाद जरूरत के अनुसार बनेगा। ग्रेटर में 20 और हेरिटेज में 17 सामुदायिक केंद्र हैं।

यहां इंदिरा रसोई से ले सकेंगे खाना

  • महिला कामकाजी छात्रावास सब्जी मंडी लालकाेठी
  • बांगड़ रैन बसेरा एसएमएस चिकित्सालय
  • जेके लाेन परिजन विश्राम स्थल
  • महिला चिकित्सालय सांगानेरी गेट
  • थड़ी मार्केट मानसराेवर
  • मुहाना मंडी परिसर कैंटीन
  • सांगानेर थाना पुलिया के नीचे पानी की टंकी
  • जगतपुरा फाटक, रैन बसेरा
  • वीकेआई इंडस्ट्रियल एरिया
  • वार्ड 15 पार्षद कार्यालय
  • जनाना हॉस्पिटल चांदपोल
  • परशुराम सर्किल के पास मैन रोड रेलवे स्टेशन
  • सिंधी कैंप बस स्टैंड
  • कांवटिया अस्पताल
  • गुर्जर की थड़ी
  • गणगौरी हॉस्पिटल
  • गोविंददेवजी मंदिर के पास
  • किशनपोल जोन के सामने
  • ट्रांसपोर्टनगर पुलिया के नीचे
  • बंगाली बाबा की बगीची

अव्यवस्था नहीं फैले ...इसलिए जयपुर के व्यापारी संगठनों ने सोशल मीडिया पर व्यापारियों से दुकानें बंद रखने के मैसेज चलाए हैं। आज 85 हजार दुकानें व ऑफिस बंद रहेंगी। सिर्फ आवश्यक सेवाओं से जुड़े 55 हजार प्रतिष्ठान खुले रहेंगे। इसमें खाने-पीने और मेडिकल की दुकानें मुख्य रूप से खोलने का निर्णय लिया गया है, ताकि परीक्षार्थियों को परेशानी नहीं हो।

बड़ा सवाल; गूगल मैप पर 592 सेंटर मगर नेट बंद रहा तो लोकेशन कैसे मिलेगी

  • सबसे जरूरी गूगल मैप नहीं चलेगा।
  • ऑनलाइन कैब सर्विस।
  • यूपीआई फंड ट्रांसफर।
  • ऑनलाइन वॉलेट।
  • माेबाइल/इंटरनेट बैंकिंग।
  • ऑनलाइन शाॅपिंग।
  • ऑनलाइन फूड डिलीवरी सर्विस।
  • ऑनलाइन टिकट बुकिंग।
  • माेबाइल ऑनलाइन मीटिंग।
  • ओटीटी।
  • सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म।
  • ऑनलाइन शिकायतें।

रीट में चीट रोकने का ये कैसा तरीका; सिग्नल जैमर और नकल में इस्तेमाल होने वाले एप को ब्लॉक क्यों नहीं करते?

रीट में रोकने के लिए प्रशासन ने एक बार फिर नेटबंदी की है। 5 साल में 75 बार तमाम कारणों से नेट बंद रहा। हालांकि इंडियन टेलीग्राफ एक्ट 1885 के तहत टेंपररी सस्पेंशन ऑफ टेलीकॉम सर्विसेज में कानून व्यवस्था बिगड़ने की स्थिति मे ही नेटबंदी की जा सकती है। इधर, गृह सचिव अभय कुमार ने फेक न्यूज, दुर्घटना की अफवाहें, पेपर लीक अफवाहाें पर कानून व्यवस्था बिगड़ने की स्थिति काे आधार मानकर संभागीय आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक, जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक काे रीट परीक्षा के दाैरान नेटबंद करने के लिए अधिकृत किया है। दूसरी ओर, कमिश्नरेट में सायबर सलाहकार मुकेश चाैधरी का कहना है माेबाइल इंटरनेट बंद करने से चीटिंग नहीं राेक जा सकती।

सेंटर पर ब्राडबैंड सर्विस चालू हाेने पर पेपर लीक हो सकता है। चीटिंग राेकने या अफवाहाें पर लगाम कसने के लिए साेशल मीडिया एप, ईमेल सर्विस इत्यदि की सेवाएं बंद की जा सकती हैं। टेलीकाॅम सर्विस प्राेवाइडर के लिए एेसी गाइडलाइन बनाए या फिर ऐसे वेबसाइट या एप की लिस्टिंग कर बैन करें जाे चीटिंग में यूज हाे सकते हैं। साइबर एक्सपर्ट गाैतम कुमावत का कहना है कि राजस्थान इंटरनेट बंदी में देश में दूसरे नंबर पर है, भर्ती परीक्षा में नकल या अफवाहाें काे राेकना है ताे प्रोएक्टिव पुलिसिंग और सोशल मीडिया निगरानी उपकरणों का उपयोग किया जाए।

कब कितनी बार नेटबंद
2015 - 1
2016 - 6
2017 - 19
2018 - 30
2019 - 12
2020 - 7

7 बजे से पहले माय एग्जाम सेंटर एप ओपन करके सेंटर की लोकेशन देख ली तो यह ऑफलाइन काम करेगा

जयपुर, रीट में अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्र तक पहुंचने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने ‘माय एक्जाम सेन्टर’ एप तैयार किया है। एप डाउनलोड करने के बाद प्रवेश पत्र पर लिखे सेन्टर कोड डालते ही सेन्टर का रास्ता दिखाएगी। इसे ऑफ लाइन मोड पर भी सेव कर सकते है।

  • मोबाइल एप : MY EXAM CENTER-REET2021
  • बिट लिंक : bit.ly/3CD9Sq5
  • वेबपेज यूआरएल : https://reet2021.aadviktech.com/
खबरें और भी हैं...