एनडीए/एनए 2 परीक्षा में सिर्फ एक हफ्ता शेष:पौने दो लाख छात्राओं का आवेदन, पर फिजिकल स्टैंडर्ड तय नहीं

जयपुरएक महीने पहलेलेखक: पूजा शर्मा
  • कॉपी लिंक
इस साल लगभग पौने छह लाख कैंडिडेट्स ने एनडीए/एनए 2 एग्जाम के लिए आवेदन किया है। - Dainik Bhaskar
इस साल लगभग पौने छह लाख कैंडिडेट्स ने एनडीए/एनए 2 एग्जाम के लिए आवेदन किया है।

14 नवंबर को होने वाली एनडीए/एनए 2 परीक्षा में अब एक सप्ताह बचा है। लेकिन यूपीएससी ने अब तक लड़कियों के लिए फिजिकल मापदंडों की सूचना जारी नहीं की है। बता दें इस साल लगभग पौने छह लाख कैंडिडेट्स ने एनडीए/एनए 2 एग्जाम के लिए आवेदन किया है। इनमें से पौने दो लाख लड़कियां हैं।

लड़कियों को एनडीए में प्रवेश देने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद 24 सितंबर को यूपीएससी ने संशोधित नोटिफिकेशन जारी किया था जिसमें लिखा था कि लड़कियों के लिए शैक्षणिक पात्रता जून में जारी पुराने नोटिफिकेशन के अनुसार रहेगी लेकिन शारीरिक मापदंड वैकेंसी की संख्या गृह मंत्रालय की अनुमति के बाद वाजिब समय पर बताई जाएगी।

हालांकि अब तक क्राइटेरिया जारी नहीं किया गया। दरअसल एनडीए में प्रवेश के लिए शैक्षणिक योग्यता के साथ लंबाई, वजन आदि मापदंडों के आधार पर फॉर्म भरने की पात्रता तय होती है। वहीं एसएसबी पास करने के बाद मेडिकल एग्जाम के लिए मापदंड अलग होते हैं। फिलहाल दोनों पर स्पष्टता नहीं है।

विशेषज्ञों के मुताबिक डिफेंस सर्विसेस को पता था कि एनडीए में जल्द ही वुमन कैडेट्स को प्रवेश दिया जाएगा, क्योंकि सैनिक स्कूल पहले ही लड़कियों को प्रवेश दे रहे हैं। कर्नल देव आनंद लोहामरोड़(रि.) बताते हैं, रक्षा सेवाओं में महिलाओं के लिए फिजिकल स्टैंडर्ड निर्धारित हैं। ओटीए में लड़कियां सालों से जा ही रही हैं। नए मापदंडों में अधिक बदलाव नहीं होगा। हां, इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने में समय लगेगा।

पीसीएम स्ट्रीम वालों को मिल सकता है फायदा
कर्नल अशोकन के (रिटायर्ड) कहते हैं कि हो सकता है नवंबर में परीक्षा के बाद मापदंड जारी हों। ओटीए के पैमाने ही इसमें लिए जाएंगे। जिस तरह लड़कों के 12वीं व ग्रेजुएशन के मापदंड समान हैं, वैसे लड़कियों के भी समान होने की संभावना है।

पीसीएम स्ट्रीम की अभ्यर्थियों को लाभ मिल सकता है क्योंकि इन विषयों का सिलेबस काफी मजबूत होता है। इस बार कटऑफ भी ज्यादा रहेगी। सामान्य तौर पर कट ऑफ 45-50% के बीच होती है। लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो सकता। कट ऑफ इस पर निर्भर करेगी कि कितनी लड़कियों को चुना जाना है।