• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Two Stations Go To DMU From Jaipur, But Passengers Are Getting Confused By Writing The Name Of One Station; Ajmer And Sikar run DMU Case

रेलवे की गफलत:जयपुर से दो स्टेशन जाती है डीएमयू, लेकिन एक स्टेशन का नाम लिखने से यात्रियों हो रहे है भ्रमित; अजमेर और सीकर चलने वाली डीएमयू का मामला

जयपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर से सीकर के बीच चलाई जा रही डीएमयू ट्रेन को लेकर इन दिनों यात्री भ्रमित है। इस ट्रेन का संचालन पहले जयपुर-अजमेर के बीच होता है। अजमेर से लौटने के बाद यही ट्रेन सीकर के लिए रवाना होती है, लेकिन उसके डिब्बों पर जयपुर-सीकर की नेम प्लेट के बजाए जयपुर-अजमेर की नेम प्लेट ही लगी रहती है। इसको लेकर कई बार यात्रियों की ट्रेन में टीटी से बहस भी हो चुकी है।

दरअसल जयपुर से अजमेर और सीकर के लिए अप्रैल में दो लोकल यानि पैसेंजर/डीएमयू ट्रेन चलाई गई। रेलवे ने कम यात्रीभार की संभावना को देखते हुए, एक ही रैक से दोनों स्टेशनों के बीच ट्रेन शुरू की। इसके तहत 09605 अजमेर से जयपुर सुबह 10 बजे आती, जो 11:25 बजे (09603) जयपुर से सीकर के लिए जाती है। शाम को (09604) 5:5 बजे सीकर से जयपुर और यहां से 7 बजे अजमेर के लिए जाती है।

लेकिन इस पूरी ट्रेन में इंजन से गार्ड के ब्रेक तक सीकर कहीं नहीं लिखा। जबकि जयपुर अजमेर लिखा हुआ है। ऐसे में ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों की टीटीई से काफी बहस होती है। पिछले दिनों जयपुर के दो टीटीई की यात्रियों से मारपीट भी हुई थी, जिसका जीआरपी में मुकदमा भी दर्ज है। कई बार शिकायत करने के बाद भी रेलवे की इस पर नजर ही नहीं पड़ी। बताया जा रहा है कि इस ट्रेन में जब कभी यात्री बिना टिकट पकड़े जाते है तो वह रेलवे की गलती बताकर उल्टा टीटी से ही बहस करने लग जाते है।

खबरें और भी हैं...