विशेष कोर्ट-10 ने सुनाई सजा:चेक बाउंस केस में अभियुक्त को दो साल की कैद

जयपुर17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर मेट्रो-दो की एनआई एक्ट मामलों की विशेष कोर्ट-10 ने चेक बाउंस केस में अभियुक्त वैशाली नगर निवासी शिव कुमार अग्रवाल को दो साल के साधारण कारावास व 8.50 लाख रुपए जुर्माने की सजा दी है। कोर्ट ने यह आदेश सत्यनारायण शर्मा के परिवाद पर दिया। कोर्ट ने कहा कि परिवादी सीनियर सिटीजन है और उसने अपने जीवनभर की कमाई आरोपी को दी थी, लेकिन अभियुक्त ने उसका भरोसा तोड़ा।

ऐसे में अभियुक्त को दंड़ित नहीं करने से चैकों के संव्यवहार पर आमजन में अविश्वास पैदा होगा, इसलिए अभियुक्त को परीवीक्षा का लाभ नहीं दे सकते। अधिवक्ता कपिल तोतला ने बताया कि आरोपी ने शेयर, कमोडिटी व अन्य डिपॉजिटरी सर्विसेज में लाभ दिलवाने की बात कहकर परिवादी से 2012 में तीन चेक के जरिए पांच लाख रुपए लिए थे। परिवादी के 2013 में रुपए मांगने पर आरोपी ने उसे एक नवंबर 2013 का पांच लाख रुपए का चेक दिया। लेकिन यह चेक 21 नवंबर 2013 को आरोपी के खाते में अपर्याप्त राशि होने के चलते बाउंस हो गया। परिवादी के लीगल नोटिस भेजने के बाद भी जब आरोपी ने चेक राशि नहीं दी तो उसने कोर्ट में परिवाद दायर किया। जिस पर कोर्ट ने अभियुक्त को कारावास व जुर्माने की सजा दी।

खबरें और भी हैं...