पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हाथी की सवारी पर लगा बैन हटा:जयपुर में फिर कीजिए हाथी की सवारी, कोरोना के कारण इस पर लगा बैन 8 महीने बाद हटा

जयपुर2 महीने पहलेलेखक: विष्णु शर्मा
आमेर महल पहुंचे पर्यटकों को हाथियाें ने अपनी सूंड उठाकर सलामी दी।

जयपुर के आमेर में हाथी की सवारी पर लगा बैन मंगलवार से हटा लिया गया। यहां कोरोना महामारी के कारण 17 मार्च को सैलानियों के लिए हाथी की सवारी को बंद कर दिया गया था। आमेर में देश के इकलौते हाथी गांव से हाथी सजाकर लाए जाते हैं। जिन पर पर्यटक सवारी करते हैं। पुरातत्व विभाग के आदेश से 1000 से ज्यादा परिवारों पर छाया रोजगार का संकट भी दूर हो गया।

हाथी स्टैंड पर पर्यटकों के इंतजार में पहले दिन 96 में से 50 हाथियों को सजाकर लाया गया।
हाथी स्टैंड पर पर्यटकों के इंतजार में पहले दिन 96 में से 50 हाथियों को सजाकर लाया गया।

अभी 50% हाथी रोटेशन पर सवारी कराएंगे

यहां कुल 96 हाथी हैं। 50% हाथी रोटेशन में एक दिन छोड़कर सवारी कराने के लिए लाए जाएंगे, ताकि कोरोना गाइडलाइन का पालन हो सके। पहले दिन 50 हाथी सजाकर यहां लाए गए। राजस्थानी पगड़ी पहने महावत आमेर के हाथी स्टैंड पहुंचे। यहां मारुति नाम के हाथी के माथे पर I AM BACK लिखा गया था।

टूरिस्ट के स्वागत के लिए मारुति नाम के हाथी के माथे पर महावत ने लिख दिया- I am back
टूरिस्ट के स्वागत के लिए मारुति नाम के हाथी के माथे पर महावत ने लिख दिया- I am back

पहली सवारी महिला पर्यटकों ने की

बैन हटने के बाद हाथियों की पहली सवारी अहमदाबाद की दो महिलाओं ने की। हाथी के मालिकों ने गुलाब की माला से इनका स्वागत किया। उनके हाथ सैनेटाइज करवाए गए। इसके बाद थर्मल स्क्रीनिंग कर हाथी पर बैठाया गया। इसके बाद वे आमेर महल घूमने पहुंची।

हाथी की सवारी से बैन हटने के बाद अहमदाबाद की दोनों टूरिस्ट पहली सवारी बनीं। माला पहनाकर उनका स्वागत किया गया।
हाथी की सवारी से बैन हटने के बाद अहमदाबाद की दोनों टूरिस्ट पहली सवारी बनीं। माला पहनाकर उनका स्वागत किया गया।

महावत और पर्यटकों को मास्क लगाना होगा

आदेश में कहा गया है कि हाथी की सवारी के दौरान महावत और पर्यटकों को मास्क लगाकर रखना होगा। हर राउंड के बाद हौदे (हाथी पर बैठने की जगह) को सैनेटाइज किया जाएगा। पर्यटकों को हाथी पर बैठाने से पहले उनके हाथ सैनेटाइज करवाए जाएंगे। साथ ही उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी।

रोक हटने की खुशी में पहले दिन हाथियों के साथ महावत भी सज-धजकर आए थे।
रोक हटने की खुशी में पहले दिन हाथियों के साथ महावत भी सज-धजकर आए थे।

दैनिक भास्कर ने ग्राउंड रिपोर्ट में उठाया था मुद्दा

लॉकडाउन से लेकर कोरोना की पाबंदियों तक 1000 से ज्यादा परिवार आर्थिक संकट झेल रहे थे। तनाव की वजह से एक महावत ने खुदकुशी कर ली थी। कुछ हाथी भी चल बसे थे। दैनिक भास्कर ने हाथी गांव की इस परेशानी को सबसे पहले उजागर किया था। इसमें खुलासा किया गया था कि हाथियों को पालने के लिए उनके मालिक किस तरह कर्जदार हो गए।

आमेर महल में पर्यटकों को घुमाकर लौटता हाथी।
आमेर महल में पर्यटकों को घुमाकर लौटता हाथी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser