राजस्थान के मंत्री के बेटे पर गंभीर आरोप:पीड़िता ने कहा- रस्सी से बांधकर रेप करता था आरोपी, धमकी देता था कि मेरा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता

जयपुर5 महीने पहले

राजस्थान के जलदाय मंत्री महेश जोशी के बेटे रोहित के खिलाफ दिल्ली में रेप का केस दर्ज हुआ है। दिल्ली पुलिस ने यह मामला सवाई माधोपुर पुलिस को सौंप दिया है। पीड़िता ने दिल्ली में अपने साथ हुए रेप और अननैचुरल सेक्स (कुकर्म) का दर्द बयां किया। उसने बताया कि किस तरह रोहित उससे जबरन संबंध बनाता था। इनकार करने पर बिस्तर से बांध देता था, फिर रेप और अननैचुरल सेक्स करता था। होटल और सार्वजनिक जगहों पर उसे मारता- पीटता रहा। विरोध करती तो पिता के रसूख की धौंस देता। युवती रोहित से इतना परेशान हो चुकी थी कि उसने सुसाइड तक की कोशिश की थी। यहां पीड़िता की आपबीती उसी की जुबानी...

मेरा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता
हमारी दोस्ती फेसबुक के जरिए हुई थी। 8 जनवरी 2021 को रोहित मुझे सवाई माधोपुर ले गया था। वहां जूस में कुछ मिलाकर मुझे पिला दिया। अगले दिन होश आया तो शरीर पर कपड़े नहीं थे। मुझे होश आया तो बोला- मुझसे प्यार करता है। उसने रात को मेरे साथ रेप किया। उसके फोटो-वीडियो बना लिए। इन फोटो-वीडियो के जरिए रोहित मुझसे जबरन संबंध बनाता था। 3-4 सितंबर को मुझे दिल्ली के सम्राट होटल ले गया। खुद जमकर शराब पी। मुझे पिलाने की कोशिश की तो मैंने इनकार कर दिया। फिर मेरे साथ कुकर्म करने की कोशिश की। इसका विरोध किया तो मेरे हाथ -पैर बांध दिए। मुझे कैदी बनाकर रखा। कहीं आने-जाने नहीं देता था। दोस्तों की शादी में भी जाता तो मुझे पास के किसी होटल में रखता। फिर मौका मिलते ही मेरा रेप करता। रोहित अक्सर धमकाकर रेप करता रहा। अलग-अलग होटलों में साथ ले जाता था। मारपीट करता रहा था। बोलता था कि मंत्री का बेटा हूं। मेरा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

2 अप्रैल 2021 को वह मुझे दिल्ली लेकर आया। मुझे जबरदस्ती क्लब ले गया। वहां डांस करवाया। कहा- हंसती रहो और रोमंटिक बातें करो। बीवी की तरह बात करो। होटल ले जाकर शराब पीकर वहां अननैचुरल सेक्स करने का प्रयास करने लगा। मेरे मना करने पर उसने मेरे हाथ बांधकर संबंध बनाए। मेरे वीडियो बनाए और परिवार को खत्म करने की धमकी दी। उसने मुझसे कहा कि अगर मेरे घर वालों ने कहीं और शादी करने की कोशिश की या उसने दूसरी जगह दोस्ती करने की कोशिश की तो इसका अंजाम बुरा होगा। वह मेरे घर में जबरदस्ती घुस आता था और जान से मारने की धमकी देता था।

मैंने कहा- मुझे आजाद कर दो, नहीं तो सुसाइड कर लूंगी
मैं बहुत परेशान हो चुकी थी। इसलिए रोहित को कह दिया ,उसे जो करना है वो कर ले। अगर उसने मुझे आजाद नहीं किया तो सुसाइड कर लूंगी। ब्लैकमेलिंग व झूठे प्यार से परेशान थी। मैं बहुत रोने लगी और रोहित को कहा कि तुमने वीडियो डिलीट नहीं किया तो सुसाइड कर लूंगी। रोहित मुझे अपने दोस्त के फॉर्म हाउस ले गया। वहां मेरी मांग में सिंदूर भरा और फेरे लिए। कहा - चाहे दुनिया के लिए मेरी पत्नी कोई और है, पर मेरे लिए तू ही मेरी इकलौती पत्नी है। इसके बाद वह मुझ पर हक जमाने लगा। उसने बताया कि उसका डिवोर्स फाइनल है। डिवोर्स होते ही बड़ा रिसेप्शन करेगा। मेरे घर आकर मेरे मां-बाप को डराता था। कहता था कि मैं तुम्हारा दामाद हूं। ज्यादा होशियारी की तो परिवार खत्म कर दूंगा। वो बोलता था कि मैं तुमसे शादी कर चुका हूं। दूसरा ख्याल दिमाग में आया तो गोली मार दूंगा। जून 2021 में वह हनीमून की कहकर मनाली ले गया था।

जबरन रेप करने से मैं प्रेग्नेंट हो गई। मुझे 11 अगस्त 2021 को पता चला की प्रेग्नेंट हूं। रोहित को बताया। इस पर रोहित कुछ दिनों बाद शराब के नशे में घर आ गया। बच्चा गिराने की दवा जबरन मुंह में डाल दी। गोली पेट के अंदर जली गई। इससे गर्भ में ही बच्चा मर गया। मैं बहुत रोई। रोहित बोला- ये बच्चा जायज नहीं है। मैं नहीं रख पाऊंगा। इससे परेशान होकर डिप्रेशन में आ गई।

युवती के चेहरे पर भी मारपीट के निशान हैं। रोहित पीड़िता के घरवालों को भी धमकाता था।
युवती के चेहरे पर भी मारपीट के निशान हैं। रोहित पीड़िता के घरवालों को भी धमकाता था।

जहर खाकर जान देने की कोशिश की
बच्चा गिरने से परेशान हो गई। रोहित शादी भी नहीं कर रहा था। डिप्रेशन में आकर मैंने जहर खा लिया। रोहित को फोन पर बताया कि मैं उसे छोड़कर हमेशा के लिए जा रही है। रोहित बोला- जल्द घर के नीचे आ जाओ। अगर तुम्हें कुछ हो गया तो तुम्हारे परिवार को जान से मार दूंगा। मैं डर गई और नीचे आ गई। रोहित एसएमएस अस्पताल लेकर गया। यहां डॉक्टरों ने नाक में पाइप डाल कर दवाई निकाली। डॉक्टरों को भी रोहित ने यही कहा कि वह उसकी पत्नी है। डॉक्टरों ने आराम की सलाह दी, लेकिन रोहित डिस्चार्ज कराकर उसे घर पर छोड़ गया।

17 जनवरी 2022 को मेरे परिवारवालों के साथ उसने मेरा जन्मदिन मनाया। इससे पहले न्यू ईयर भी मेरे साथ मनाया। मुझसे कहा कि पत्नी को जैसलमेर भेज दिया है ताकि उसकी शक्ल नहीं देखनी पड़े। 21 जनवरी को उसकी शादी की सालगिरह के दिन उसने मुझसे कहा कि मेरे दोस्त की शादी है। वह अपने दोस्त की शादी में लेकर गया। हम दोनों वहीं एक होटल में रुके। फिर उसने बताया कि 25 फरवरी को वह अपनी पत्नी को डिवोर्स देकर उसे अपनी पत्नी का दर्जा देगा। वह जयपुर में नहीं रहना चाहता। उसे सिर्फ उससे मतलब है। फिर 25 फरवरी को उसने बताया कि उसने पत्नी से डिवोर्स पेपर साइन करवा लिए हैं। वह कोई काम कर रहा है जिससे उसको पैसे मिलेंगे। इसके बाद वह मुझे सदर थाने के पीछे ले जाता है। वहां अपने दोस्तों के साथ जबरदस्ती एक पेपर पर लिखवाया कि मैं अपनी मर्जी से जयपुर से जा रही हूं और मैं रोहित से प्यार करती हूं। मेरे मना करने पर एडवोकेट और दोस्तों के सामने उसने मारा। पहले भी वह मुझसे ब्लैंक पेपर पर साइन करवाता रहता था।

दोस्त ने हिमाचल में बताया कि तेरे पापा ने जायदाद से अलग करने का फैसला लिया
25 फरवरी को ही हम चंड़ीगढ़ चले गए। चंड़ीगढ़ से एक प्राइवेट कैब के जरिए हिमाचल प्रदेश के एक कस्बे जिभी चले गए। वहां उसका दोस्त भी आ गया। उसके दोस्त ने कहा- तेरे पापा ने तेरे उस काम को बंद करवा दिया है, जिससे हमारे पैसे आने थे। तुझको जायदाद से अलग करने का फैसला कर लिया है। यह सुनकर रोहित डरने का नाटक करने लगा। रोहित के दोस्त ने कहा कि अब रोहित की पत्नी से ही राजनीति कराएंगे।

दिल्ली में अननेचुरल सेक्स की कोशिश
यहां से हम दिल्ली चले गए। वहां उसका फिर वही दोस्त कश्मीरी गेट बस स्टैंड पर मिला। मैंने रोहित से पूछा यह यहां पर क्यों आए हैं। रोहित ने रोड पर ही मुझे मारना शुरू कर दिया। वहां से हम होटल महाजन चले गए। यहां उसने अननैचुरल सेक्स करने की कोशिश की। मैंने उसे जाने को कहा तो वह चला गया। थोड़ी देर बाद वापस आकर माफी मांगी। कुछ देर बाद जयपुर पुलिस आ गई और मुझे किसी केस में अरेस्ट करने की बात कहने लगी।

पुलिस बोली- मंत्री के आदेश हैं, हम कुछ भी कर सकते
पुलिस ने आते ही मुझसे फोन छीन लिया। मुझे कहीं फोन नहीं करने दिया। वह मुझे दिल्ली से जयपुर लेकर आए। मेरी तबीयत खराब होने लगी तो एसएमएस में भर्ती करवाया। हॉस्पिटल से छुट्टी होने के बाद सदर एसएचओ मुझे अंधेरी जगह पर ले गया। यहां बयान देने को कहा। मैंने पुलिस स्टेशन में बयान देने की बात कही तो एसएचओ ने कहा कि हमें मंत्री महेश जोशी के आदेश हैं। हम कुछ भी कर सकते हैं। मेरे चिल्लाने पर रोहित और एसएचओ ने मेरा मुंह दबा दिया। रोहित ने मुझे थप्पड़ मारे।

बोला- सब ठीक कर दूंगा
रोहित ने मुझसे कहा कि मैं सब ठीक कर दूंगा। मैं तुझसे मिलने आता रहूंगा। उसके बाद रोहित ने मुझे कई जगह ब्लॉक कर दिया और तीन-चार दिन बाद मिलने आया। मैंने उसे ब्लॉक करने का कारण पूछा तो उसने कहा कि वह सब कुछ ठीक कर रहा है। मैं उस समय होटल आरको पैलेस में रुकी थी। रोहित मुझसे तीन-चार दिन में मिलने आने लगा और शारीरिक संबंध बनाने लगा। वह आखिरी बार 17 अप्रैल 2022 को मिलने आया और शारीरिक संबंध बनाए। इसके बाद उसने मुझसे कोई व्यवहार नहीं रखा। मेरे कॉल करने पर कहा कि वह मंत्री पुत्र है और उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता। आखिरी बार उसने मुझसे कहा कि मैं कहां गायब हो जाऊंगी पता भी नहीं चलेगा। भंवरी देवी कांड दोहराया जाएगा।

मंत्री महेश जोशी का बेटा रोहित। आरोप है कि युवती के बैंक खातों के माध्यम से रोहित पैसे मंगवाता था। बाद में वह अपने दोस्त के माध्यम से रकम पीड़िता से निकलवा लिया करता था।
मंत्री महेश जोशी का बेटा रोहित। आरोप है कि युवती के बैंक खातों के माध्यम से रोहित पैसे मंगवाता था। बाद में वह अपने दोस्त के माध्यम से रकम पीड़िता से निकलवा लिया करता था।

खातों में आता था पैसा
रोहित कई बार मेरे बैंक खातों में पैसा भी मंगवाता था। एक बार 10 लाख रुपए खाते में आए तो मैंने पूछा किसके पैसे हैं। रोहित ने बताया कि यह पैसा खुद के खाते में नहीं मंगवा सकता। इसलिए मेरे खाते में मंगवाया है। इसके बाद कई बार बैंक में पैसा भेजा जाता था। जिन्हें बाद में रोहित अपने साथी के साथ मुझे भेज कर निकलवा लिया करता था।

(पुलिस को दी गई शिकायत के प्रमुख अंश)

पीड़िता का साइन किया हुआ एक एफिडेविट भी सामने आया।
पीड़िता का साइन किया हुआ एक एफिडेविट भी सामने आया।
एफिडेविट में पीड़िता अपनी मर्जी से रोहित के साथ रहने की बात लिख रही है।
एफिडेविट में पीड़िता अपनी मर्जी से रोहित के साथ रहने की बात लिख रही है।

यह भी पढ़ें...

राजस्थान के मंत्री के बेटे पर रेप का केस:फेसबुक पर हुई थी लड़की से दोस्ती; शादी का झांसा दिया, अबॉर्शन कराया