पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Vedprakash Solanki Said – The Truth Of Phone Tapping Will Also Come Out, The MLAs Whose Phones Were Tapped Have Already Told The CM, If I Am Asked, I Will Give Full Information

पायलट समर्थक विधायक का फिर सरकार पर हमला:वेदप्रकाश सोलंकी बोले- फोन टैपिंग का सच भी सामने आएगा,जिन विधायकों के फोन टैप हुए वे सीएम को बता चुके, मुझसे पूछा जाएगा तो पूरी जानकारी दे दूंगा

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस विधायक वेदप्रकाश सोलंकी (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
कांग्रेस विधायक वेदप्रकाश सोलंकी (फाइल फोटो)

सचिन पायलट कैंप के विधायक वेदप्रकाश सोलंकी ने एक बार फिर दलितों के काम नहीं होने और फोन टैपिंग मुद्दे पर गहलोत सरकार को घेरा है। वेद प्रकाश सोलंकी ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में कहा- फोन टैपिंग को लेकर भी सच सामने आ जाएगा, लेकिन यह असल मुद्दा नहीं है,असल मुद्दा जनता के काम हैं। जिन विधायक के फोन टैप हो रहे हैं वे सीएम को अवगत करवा चुके हैं। मुझसे पूछा जाएगा तो मैं पूरी जानकारी सीएम को दे दूंगा।

वेदप्रकाश सोलंकी ने ही पिछले दिनों कई विधायकों के फोन टैप होने का बयान दिया था, इसके बाद पायलट समर्थक विधायक मुकेश भाकर ने भी सरकार पर जासूसी के आरोप लगाए थे। गहलोत समर्थक कई मंत्रियों और कांग्रेस नेताओं ने वेदप्रकाश सोलंकी के आरोपों को बेबुनियाद बताया था। सोलंकी अब भी अपने बयान पर अडिग हैं।

गहलोत इस बार स्वभाव के विपरीत काम कर रहे

सोलंकी ने कहा- सीएम गहलोत को बहुत साल से जानता हूं,लेकिन गहलोत पहली बार अपने स्वभाव के विपरीत काम कर रहे हैं। उन्होंने बहुत काम किए हैं, एससी एसटी के बैकलॉग का काम किया था, लेकिन इस बार उनकी शैली में बदलाव आ गया है। हमें आगे चुनाव में जाना है, लेकिन कांग्रेस के वोट बैंक से जुड़े समाजों के ही काम नहीं होंगे तो किस मुंह से वोट लेने जनता के बीच जाएंगे।

सरकार के कुछ फैसलों से दलित समाज आहत
सोलंकी ने कहा- ईडब्ल्यूएस के सर्टिफिकेट तुरंत बनते हैं लेकिन 3 साल से दलित समाज की महिलाएं सर्टिफिकेट बनवाने के लिए भटक रही हैं। 70 विधायक सरकार को लिखकर दे चुके हैं, इसके बावजूद कोई एक्शन नहीं हो रहा। अन्य राज्यों के एससी एसटी सर्टिफिकेट वाली महिलाओं को सरकारी नौकरी में पोस्टिंग नहीं मिल रही है। पार्टी हमारे लिए बड़ी है लेकिन समाज की आवाज उठाना भी जरूरी है,जिस मंच पर जरूरी होगा हम आवाज उठाएंगे। हमें ईडब्ल्यूएस आरक्षण से कोई दिक्कत नहीं है लेकिन जो फैसले हो रहे हैं उससे दलित समाज आहत है।

कुछ ​चुनिंदा विधायक और मंत्री सरकार चला रहे
सोलंकी ने कहा-कुछ चुनिंदा विधायक और मंत्री सरकार चला रहे हैं। सरकार में दलित समाज का कोई कैबिनेट मंत्री नहीं है, इसलिए हमारी सुनवाई नहीं हो रही है। सीएम से मेरा आग्रह है कि इस ओर ध्यान दें, हम इस वर्ग के वोट लेकर सत्ता में आएं हैं उनके काम करें।

खबरें और भी हैं...