पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पायलट समर्थक विधायक विश्वेंद्र का वार:गहलोत समर्थकों पर निशाना, सोशल मीडिया पर लिखा- न मैं उनके जैसे बिका हुआ हूं, न सत्ता के लोभ में झुका हुआ हूं

जयपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विश्वेंद्र सिंह ने सोशल मीडिया के जरिए गहलोत समर्थकों काे निशाने पर लिया (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
विश्वेंद्र सिंह ने सोशल मीडिया के जरिए गहलोत समर्थकों काे निशाने पर लिया (फाइल फोटो)
  • दो दिन में दूसरी बार सोशल मीडिया के जरिए विरोधियों पर दिखाए तल्ख तेवर
  • पिछले साल जुलाई में पायलट खेमे की बगावत के वक्त पर्यटन मंत्री के पद से हटाए गए थे विश्वेंद्र सिंह

सचिन पायलट समर्थक विधायक और पूर्व पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने दो लघु कविताओं के जरिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समर्थकों पर निशाना साधा है। विश्वेंद्र ने सोशल मीडिया पर विरोधियों को बिका हुआ और झुका हुआ तक करार दिया है। हालांकि नाम किसी का नहीं लिया है। लेकिन सियासी जानकार बखूबी इसके मायने निकाल रहे हैं। विश्वेंद्र सिंह समय-समय पर सोशल मीडिया के जरिए विरोधियों पर निशाना साधते रहते हैं। विश्वेंद्र सिंह का ताजा निशाना मुख्यमंत्री गहलोत के समर्थक विधायक और कुछ मंत्री हैं।

विश्वेंद्र सिंह ने बुधवार को सोशल मीडिया पर लिखा- न मैं उनके जैसे बिका हुआ हूं, न सत्ता के लोभ में झुका हुआ हूं, अवाम मेरा अभिमान है, ज़िन्दा मेरा स्वाभिमान है, ज़ुबां से निकले हर शब्दों के साथ हमेशा खड़ा रहूंगा, पर्वत सा मैं अड़ा रहूंगा।

इसी तरह उन्होंने मंगलवार को लिखा था- हर संभव कोशिश करूंगा, पर्वत सा मैं अड़ा रहूंगा। काल बनके दुश्मन का मैं उसकी छाती पे चढ़ा रहूंगा। ये सूरजमल का वचन है बंधु,स्वाभिमान की इस लड़ाई में सबसे आगे खड़ा रहूंगा, सबसे आगे खड़ा रहूंगा।

विश्वेंद्र का निशाना किसकी तरफ?
विश्वेंद्र सिंह ने नाम किसी का नहीं लिया है लेकिन कांग्रेस के सियासी मिजाज को समझने वालों का मानना है कि यह पोस्ट जवाब है। हाल ही में गहलोत समर्थक विधायक संयम लोढ़ा ने भी इसी अंदाज में सोशल मीडिया पर पायलट समर्थकों को निशाने पर लिया था। संयम लोढ़ा ने लिखा था- गुनहगार को इस कदर गले लगा के माफ किया उसने कि बेगुनाह भी चिल्ला उठे हम भी गुनहगार हैं। इसके अलावा कुछ गहलोत समर्थक नेताओं ने भी बयान दिए थे। विश्वेंद्र सिंह के निशाने पर भरतपुर से राष्ट्रीय लोकदल आरएलडी विधायक और तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष गर्ग भी हैं। गर्ग के साथ शुरू से ही उनकी पटरी नहीं बैठ रही।

विश्वेंद्र सिंह के सियासी कटाक्ष, गहलोत-पायलट खेमों की तल्खी का बेरोमीटर
विश्वेंद्र सिंह सचिन पायलट खेमे के प्रमुख नेताओं में हैं। उनके बयानों और तल्ख तेवरों से गहलोत और पायलट खेमों के बीच रिश्तों का अंदाज लगाया जा सकता है। विश्वेंद्र सिंह के ताजा पोस्ट को दोनों खेमों के रिश्तों का बेरोमीटर माना जा सकता है। जानकारों का मानना है पायलट और गहलोत ने पिछले दिनों हेलिकॉप्टर शेयर भले ही किया हो। लेकिन दोनों खेमों के बीच तल्खी कम नहीं हुई है।

पिछली साल जुलाई में सचिन पायलट खेमे की बगावत के वक्त पायलट के साथ विश्वेंद्र सिंह को पर्यटन मंत्री पद से बर्खास्त किया गया था। पायलट खेमे से सुलह के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि बर्खास्त मंत्रियों की वापसी के साथ कुछ और पायलट समर्थक विधायकों को भी सरकार में भागीदारी दी जा सकती है। हालांकि, अब तक ऐसा कुछ नहीं हुआ है।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

और पढ़ें