• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Was Returning From Plywood Factory After Labor, Took Lift To Save 10 Rupees, Raped And Murdered In The Forest, Accused Arrested From Bhilwara's Ashram

महिला ने लिफ्ट ली, युवक ने दुष्कर्म कर मारा:जयपुर में 10 रुपए बचाने के लिए 57 साल की महिला ने बाइक सवार से ली लिफ्ट, आरोपी जंगल ले गया; रेप के बाद साड़ी से गला घोंटा

जयपुरएक वर्ष पहलेलेखक: वैभव माथुर
  • कॉपी लिंक
जयपुर पुलिस ने राजूलाल मीणा को भीलवाड़ा के आश्रम से गिरफ्तार किया है। - Dainik Bhaskar
जयपुर पुलिस ने राजूलाल मीणा को भीलवाड़ा के आश्रम से गिरफ्तार किया है।

जयपुर के बस्सी में 15 दिन पहले 57 साल की महिला की हत्या के मामले का सोमवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया है। 200 पुलिसकर्मियों की 5 टीमों ने सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद आरोपी तक पहुंचे। भीलवाड़ा से उसे गिरफ्तार किया गया है। महिला ने 10 रुपए बचाने के लिए युवक से लिफ्ट मांगी थी। जंगल में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। फिर उसी की साड़ी से गला दबा कर हत्या कर दी। शव को जंगल के पास नाले में ही फेंक दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद भीलवाड़ा के परसुरामपुरा में जाकर एक आश्रम में छुप गया।

डीसीपी ईस्ट प्रहलाद कृष्णियां ने बताया कि राजूलाल मीणा (37) पुत्र भगवान सहाय मीणा निवासी उगावास तूंगा को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि 26 सितम्बर को महिला का शव जंगल के पास नाले में पड़ा मिला था। महिला बांसखो की रहने वाली थी, जो बस्सी रीको एरिया में एक प्लाईवुड कंपनी में काम करती थी। शाम को वह लिफ्ट लेकर घर जाने के लिए खड़ी थी। तभी आरोपी राजूलाल मीणा वहां पर बाइक लेकर आया। महिला लिफ्ट लेकर उसके साथ बैठ गई। आरोपी महिला को ढोल की ढाणी के सुनसान जंगल में ले गया। महिला के साथ अश्लील हरकतें करने लगा। विरोध किया तो मारपीट करने लगा। महिला के साथ रेप किया।

सीएलजी ने की मदद

महिला कोई मोबाइल फोन नहीं रखती थी। जंगल में घटनास्थल के आसपास कोई कैमरा भी नहीं लगा था। पुलिस वारदात के खुलासे के लिए 5 टीमों में 200 पुलिसकर्मियों को जांच में लगाया। फैक्ट्री से सीसीटीवी कैमरे चेक करने शुरू किए। पुलिस को लिफ्ट लेकर जाते हुए बाइक पर राजूलाल व महिला नजर आए। यहीं से बड़ा सुराग मिला। पुलिस युवक की पहचान के बाद तलाश में जुट गई। सीएलजी (कम्युनिटी लाइजनिंग ग्रुप) सदस्यों की भी मदद ली गई। राजूलाल भीलवाड़ा फरार हो गया। पुलिस टीम ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरोपी की तलाश की। भीलवाड़ा में एक आश्रम से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। हत्या का आरोपी राजू लाल मीणा 2016 में नकली नोट छापने के मामले में गिरफ्तार हो चुका है। वह 3 साल पहले ही जेल से जमानत पर छूट कर आया है। राजूलाल महिला सरपंच का प्रतिनिधि है और रिश्ते में देवर लगता है।

खबरें और भी हैं...